तारक मेहता का ऊलतः चश्मः फॅंटेसी-1

हेलो मी नामे इस राजन आंड मैं तारक मेहता सीरियल के बहोट बड़ा फन हू आंड बहोट ही अछा लगता है मुझे यह शो… इसलिए मैं आपको इस शो की रेग्युलर अपडेट्स दिया करूँगा, अब कहानी पर आता हू..

गोकुलधाम सोसाइटी का तो आपको पता ही है पाउडर गली गोरेगाओं ईस्ट मुंबई मेी है. अब चलो सोसाइटी मेी सबकी इंट्रोडक्षन करवाता हू न्यू स्टाइल मेी.

पहले चलते है..

आ विंग- रोशन सिंग आंड रोशन कॉयार सोढी बड़ा ही रोमॅंटिक कपल है. रोशन सिंग सोढी पुंजब सा पुत्तर (सोन) आंड लंड के साइज़ मूठ मार मार कर 8 इंच से भी ज़्यादा है.

आंड उसकी बीवी रोशन कॉयार सोढी बड़ा मूमा (दूध) कर्वी बॉडी आंड खुली हुई फुददी (छूट), खुली भी क्यू ना हो रोशन छोड़ता ही बहोट है. दिन रात फुददी मारता है रोशन की इसलिया रोशन बहोट खुश है. आंड इनका एक बेटा भी है गुरचरण सिंग (गोगी) अपनी मा की वीडियो बचो को देता है आंड उनसे पैसा लेता है.

आ विंग- भिड़े फॅमिली आतमाराम ट्यूक्रम भिड़े आंड माधवाई भिड़े आंड उनकी बेटी सोनू. भिड़े एक टीचर (शिसक्षक) था बुत अपनी सभी गर्ल्स स्टूडेंट की फुददी (छूट) मारता था अपना 7 इंच के लंड से.

आंड भिड़े की वाइफ माधवी भिड़े फिगर बड़ा नाइस था 38-26-26 उसका साइज़ था. स्लीव्ले ब्लाउस पहनती थे आंड आचार का बिज़्नेस करती थी. आंड ऑर्डर लेने के लिए चुड़वति थी लोगो से खुद को. इनकी बेटी सोनू, उसका फिगर सुन के आपका पक्का खड़ा हो जाएगा. 34-26-34 आंड वाइट मूमा (बूब्स), टाइट फुददी (छूट) जो सिर्फ़ टप्पू से प्यार करती है आंड उसे ही छूट देना छाती है.

ग्राउंड फ्लोर पर ड्र हाथी आंड कोमल हाथी आंड एक बेटा गोली. इनका फिगर मुझे खुद समझ नहिी आया सॉरी..

अब विंग ब – जेथलाल गाड़ा आंड फॅमिली.

जेथलाल गाड़ा कची बूससिनएस्स मान वित 9.5 इंच का लंड. 3 घंटा का स्टॅमिना छूट मारना के देवना. एस्पेशली आपको पता ही होगा किसकी मारना चाहता है. वो बाद मेी बतौँगा आपको. जेथलाल की वाइफ दया गाड़ा, आहमेदबड़ी औरत सिर्फ़ अपने पति से ही प्यार करती है और उससी से चुड्ती है. बुत बापूजी को भी अपनी फुददी मारने देती है. क्यूकी वो बापूजी की बहोट लड़ली भी है ना इसके लिए. आंड इनका बेटा टापू स्मार्ट गाइ ऑफ सोसाइटी..

और कहानिया   चूत का रास्पान और खुला हुआ आसमान

अब चलो तारक मेहता आंड उनकी वाइफ अंजलि मेहता. तारक मेहता नाइस लुकिंग मान, जेथलाल के फिरे ब्रिगेड आंड 8 इंच के लंड के मलिक जो की अंजलि के डाइयेट फुड की वजह से था सिर्फ़. अब अंजलि मेहता के बारे मेी आपको बताता हू. नाइस फिगर 36-30-36 का साइज़ है. टाइट छूट है, तारक से ज़्यादा जेथलाल का लंड लेना चाहती है बुत कभी सहज़ोग नही बना की लंड मिले उसे जेथलाल का, चलो चोरो..

अब चलते है रीता रिपोर्टर के घर. रीता एक न्यूज़ रेपोटेर थे कल तक चॅनेल पर नंगी होकर खबर देती थी आंड छूट भी देना पसंद करती थी. क्योकि वो पार्ट टाइम कॉल गर्ल भी थे इसलिए.

आ विंग – टॉप फ्लोर वरिष्ट युवा पटरकर वित गोलडेन क्रो अवॉर्ड विन्नर इंटरनॅशनल न्यूसपेपर तूफान एक्सप्रेस के लिए काम करता था. सिंगल है बुत छूट (फुददी) का दीवाना है. सभी औरत की छूट को ही देखता है हमेशा. गोकुकढ़ाम की सभी लॅडीस को इन्होने बेहन बनाया है. बुत वो सभी को सोच कर मूठ मारता है यह पटरकर…

अब इनके नीचे वेल फ्लोर पर चलता है. कृषणन सुबरमणियाँ इएर, उनकी वाइफ बबिता इएर के साथ रहता था. वाहा पर इएर एक कला भूत जैसा लगता था बड़ा लंड तो नही था बुत नीग्रो लगता था शकल से. आंड कभी भी छूट मारना नही चाहता था क्यूकी उसे दर्र था की कही बचा ना हो जाए उसका.

उसकी वाइफ बबिता इएर की तो यार आपको क्या बतौ यार. क्या फिगर है उसका हाईए मेरा खुद ही खड़ा हो गया उसको याद करके. 40-34-40 का फिगर, बड़े बड़े मूमे (बूब्स), गांद बाहर निकली हुई बिल्कुल शेप मेी. आंड टाइट ड्रेसस पहनती हमेशा ताकि उसकी बॉडी देख कर लोग मूठ मार मार के अपना लंड खराब करले.

उसकी छूट पर एक भी बाल नही होता कभी क्यूकी वो जेथलाल के लिए हमेशा छूट टायर रखती थी अपनी. क्यूकी उसे ट्रस्ट था की कभी ना कभी जेथलाल उसकी छूट ज़रूर मारेगा आंड उससे मज़ा आएगा.

और कहानिया   बेबस नागपुर की लेडी को नयी ज़िंदगी दी

अब चलते है पहले जेथलाल के घर, देखते है वाहा क्या हो रहा है अब… जेथलाल सो रहा होता है, दया उसे उठना जाती है.

दया – टापू के पापा उठिए सुबह हो गयी है, जल्दी उठेए बापूजी बुला रहे है आपको वरना वो अंदर आ जाएँगे कमरे मेी..

जेथलाल – दया सोने दे… रात को तेरी छूट मारने को कितना बोला मैने लेकिन तूने मारने नही दी.. अब मैं भी नही उठने वाला… चल गुड नाइट्स..

दया – टापू के पापा रात को मैने आपको छूट नही मारने दी क्यूकी मुझे छूट के बाल सॉफ करने थे. आंड आपको मेरी छूट चूसने मेी मज़ा आता है. आपको पोबलें ना हो इसलिए माना किया था आपको, वरना ऐसा कभी हुआ है की अपने छूट माँगी और मैना माना किया हो आपको?

जेथलाल – चल चल अव्वा झूट मत बोल…

दया – सच टापू के पापा सनडर वीरा की कसम मैं सच बोल रही हू..

जेथलाल – तू सच बोल रही है दया?

दया – जी टापू के पापा आंड मैने आपको आज तक मेरी छूट कहा कहा नही मारने दी.. माल मेी, ऑटो मेी, प्लेन मेी, पार्क मेी, कभी आपको माना किया मैने बताओ ज़रा??

जेथलाल – हन दया यह तो सच है कभी तूने माना नही किया. जब भी मैने तेरी छूट माँगी तूने मुझे दी है.. सॉरी दया मैने तुझे दांता.

दया – कोई बात नही टापू के पापा मैं शाम तक छूट बिल्कुल सॉफ कर लूँगी तब आप जितनी मर्ज़ी छूट मार लेना मेरी ओक बाबा..

जेथलाल – चल ठीक है दया, मैं नहाना जाता हू अभी.

दया – टापू के पापा आप नहा लीजेया मैं तब तक खाना लगती हू, आप खन्ना खा लो नहा के.

जेथलाल – ठीक है दया तू गेजर चालू कर मैं आया.

दया – ओक टापू के पापा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.