Tag «chudai kahani»

गांव में दो चुत का मज़ा लिया

हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम समीर पाठक है और मैं गोटेगांव का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 26 साल है और मैं अभी तक बेरोजगार हूँ | मेरे लंड का साइज़ 8 इंच है | वैसे तो मैंने ग्रेजुएट हूँ और अच्छे कॉलेज और स्कूल से मैंने पढाई किया हूँ | दोस्तों, मैं सेक्स स्टोरीज …

मुंबई की यादगार सफर भाग 2

मैं थोड़ा और नीचे खिसक कर उसकी नाभि के पास आया और मैंने उसकी नाभि के चारों तरफ अपनी जीभ चलाना शुरू कर दी। मेरी जीभ जैसे ही उसकी नाभि पर गई वो तो उछल गई, उसने हाथों से मेरे बालों को नोचना शुरू कर दिया और अपने पैरों को मेरी पीठ पर लपेट लिया। …

पागल भिकारी से चुडगयी मेरी माँ

ये बात तब की है जब में और मेरी फेमिली अपने घर जा रहे थे. मेरे पापा सरकारी नौकरी में है, तब मेरे पापा की एक हिल स्टेशन में पोस्टेड थे और हम भी उनके साथ ही रहते थे. उस समय अगस्त का महीना था, ये आज से करीब 14 साल पहले की बात है, …

गाओं की गोरी चुत भाग 1

नरेंद्र और आशा फिरसे नहा लिए और नहाने के बाद आशा नरेंद्र से बोली कि मुझे अब घर जाना है. घर पर बहुत से काम बाकी है. ये सुन कर आनद अपनी जगह से निकल कर फिर से आम के बगीचे मे चला गया. वो आशा का इन्तिजार करने लगा. उसको आशा से बात करनी …

माँ की वासना 1

दोस्तो छुट्टियाँ ख़तम हो गई और मैं वापस अपने घर आ गया. अरे यार मैं अपने घर के बारे मे तो बताना ही भूल गया. मेरे पिता मिल में काम करने वाले एक सीधे साधे आदमी थे उनमें बस एक खराबी थी, वे बहुत शराब पीते थे अक्सर रात को बेहोशी की हालत में उन्हें …

ये क्या होरहा है भाग 3

“भारती , ” मैंने उसे अपनी ओर खींचते हुए कहा ” आज तक मैं सिर्फ चोदने को ही मज़ा और सेक्स समझता था ..पर वह चुसाई का मज़ा भी कुछ और ही है …” वो मुस्कुराने लगी और कहा ..” मेरे राजा ये तो आज मैंने ट्रेलर दिखाई ..असली फिल्म तो बाकि है ….” “अच्छा …

ये उन दिनों की बात है भाग 2

मैंने उनकी छाती की ओर इशारा करते हुए बोला- अभी यहाँ आप सफाई कर लेंगी या मैं ही कर दूँ? तो बोली- तू ही कर दे.. मैं उनसे और सट कर खड़ा हो गया जिससे मेरे लण्ड की चुभन उनकी गाण्ड के छेद ऊपर होने लगी और मैं धीरे-धीरे साफ़ करते-करते मदहोश होने लगा। शायद …

शिल्पा की बारिश में चुदाई

प्रेषक : इवेन्ट मैनेजर जयपुर उम्र २३ वर्ष। हाईट ५’८” साइज ९” तो दोस्तों बात उस दिन की है जब बारिश हो रही थी और मैं भीगता हुआ अपने घर की तरफ़ अपनी बाइक पे जा रहा था। शाम के करीब ५:३० का समय था। अचानक मैने देखा कि मेरी तरफ़ कोई लिफ़्ट के लिये …

सुहागरात में देवरजी से चुदाई

suhagraat mein devarji ki chudai

हम लोग शहर की घनी आबादी के एक मध्यम वर्गीय मुहल्ले में रहते थे। वहां लगभग सभी मकान दो मंजिल के और पुराने ढंग के थे और सभी घरों की छतें आपस में मिली हुई थी। मेरे घर में हम मिया बीवी के साथ मेरी बूढ़ी सास भी रहती थी। य्ह कहानी मेरे पड़ोस में …

कमुक्त से भरी जिस्म

kamukt jism

झांसी एक एतिहासिक नगर है, वहां के रहने वाले लोग भी बहुत अच्छे हैं … दूसरों की सहायता तहे दिल से करते है। मेरे पति के साथ मैं झांसी आई थी। मेरे पति की नौकरी झांसी से लगभग 10 किलोमीटर दूर बी एच ई एल में थी, हम भोपाल से स्थानान्तरित होकर झांसी आये तो …