Tag «choot»

भाभी की आशीर्वाद से बेहेन की चुदाई भाग 1

हेलो फ्रेंड्स में देव कुमार शर्मा एक बार फिर आप के सामने मेरी एक सच्ची कहानी ले कर आया हु और यह कहानी उस समय की हे जब मैने पहली बार मेरी सगी बहन रश्मि को चोदा था और इस काम में मेरी मदत मेरी भाभी अंजू ने की थी. और अब में स्टोरी पर …

मूवी हॉल में गर्लफ्रेंड ककी चुदाई

हेलो मित्रानो मेरा नाम करन हे और मेरी उमर २० साल की हे. मेरे लंड का साइज़ ६ इंच हे और में पंजाब से हु. और में इस साईट पर नया हु तो मुझसे कोई गलती हो जाये तो प्लीज़ मुझे माफ़ कर देना. और अब में आज की स्टोरी पर आता हु. यह बात …

दोस्त की बेहेन को चोदा

मैं अपने कॉलेज में पढता हूँ और मेरा एक दोस्त है | जिसका नाम प्रमोद है | वो दिखने में अच्छा लगता है और मेरे साथ क्रिकेट खेलता है | एक बार की बात है जब मुझे और प्रमोद को क्रिकेट खेलने के लिए जाना था | उस दिन उसने मुझे अपने घर आने को …

एक्ट्रेस बनने के लिए चुत चुदाई

लो फ्रेंड्स, सेक्स स्टोरी की इस दुनिया में मेरा आप सभी को नमस्कार। मेरा नाम नेहा है, मुझे लाइफ एन्जॉय करना पसंद है। मैं हीरोइन बनना चाहती हूँ.. मैं दिखने में आयशा टाकिया जैसी हूँ और उसी की स्टाइल कॉपी करती हूँ। कभी-कभी घर में तो मैं सिर्फ़ बिकिनी पहने रहती हूँ.. वैसे भी मैं …

दीपाली की ख़ूबसूरत चुत मिलगया 2

दीपाली का चेहरा लाल सुर्ख हो गया था और उसके मुँह से सिसकियाँ निकल रही थी- अह्हह्ह।।।। अह्हह्ह।।।।। ओह्हह्ह।।।। इस समय मेरे दोनों हाथ उसकी चूची और गाण्ड मसलने में व्यस्त थे और होंठ उसके होंठो को चूस रहे थे। मैंने उसको पलंग पर लिटा दिया और मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसकी कमर …

दीपाली की ख़ूबसूरत चुत मिलगया

बात उन दिनो की है जब मैं गयारहवीं कक्षा में पढ़ता था। हमारे पड़ोस में एक पंजाबी परिवार रहता था जिसमें सिरफ़ तीन ही सदस्य थे। एक 70 वर्षीय बुजुर्ग, एक लड़का और एक लड़की। लड़के की उमर लगभग 24-25 साल की रही होगी और लड़की की उम्र 20-21 साल की होगी। बुजुर्ग उन दोनों …

मुंबई की यादगार सफर भाग 3

उस वक्त वो क्या गजब की लग रही थी ! मैं शब्दों में नहीं बता सकता पर उस वक्त मैंने उसे कुछ लाइनें कही थी जो आज भी जहन वैसी ही ताजा हैं: कुदरत का कमाल है, या जन्नत की हूर है तू, चमकते हीरों के बीच, में जैसे कोहेनूर है तू ! दीवाना हो …

मुंबई की यादगार सफर भाग 2

मैं थोड़ा और नीचे खिसक कर उसकी नाभि के पास आया और मैंने उसकी नाभि के चारों तरफ अपनी जीभ चलाना शुरू कर दी। मेरी जीभ जैसे ही उसकी नाभि पर गई वो तो उछल गई, उसने हाथों से मेरे बालों को नोचना शुरू कर दिया और अपने पैरों को मेरी पीठ पर लपेट लिया। …

गाओं की गोरी चुत भाग 1

नरेंद्र और आशा फिरसे नहा लिए और नहाने के बाद आशा नरेंद्र से बोली कि मुझे अब घर जाना है. घर पर बहुत से काम बाकी है. ये सुन कर आनद अपनी जगह से निकल कर फिर से आम के बगीचे मे चला गया. वो आशा का इन्तिजार करने लगा. उसको आशा से बात करनी …

ये उन दिनों की बात है भाग 4

मेरे घण्टी बजाते ही दरवाज़ा खुला.. मुझे ऐसा लगा जैसे माया घंटों से मेरे आने का इंतज़ार कर रही हो। दरवाज़ा खुलते ही मेरी नजर माया पर पड़ी जो कि बला की खूबसूरत लग रही थी। मैंने आज उसकी आँखों में एक अजीब सी चमक महसूस की.. जो कि शायद उसकी वर्षों बाद यौन-लालसा की …