सगी बेहेन स्वाति की चुत बजाय

मेरी दीदी का नाम स्वाती है …वो मेरे से 4 साल बड़ी है …और हमारे घर मैं , मेरी दीदी और मम्मी ओर पापा है .. वो मेरी सग़ी बहेन नही मेरे अंकल की लड़की है. मेरे अंकल आर्मी मे है और मेरी आंटी अब इस दुनिया में नही है, इसलिए वो अब हमारे घर पे हमारे साथ रहती है.

मई पहले एक सच बता दु की मेने कभी भी दीदी के साथ सेक्स नही किया …पर हाँ मैने उनके पूरे शरीर को नंगा देखा है …

जब मैं 18 साल का था …मेरा फ्रेंड और मैं मिलकर सारे बाते किया करते थे…एक बार हम दोनो एक फ्रेंड की दीदी की बात कर रहे थे ….तो वो मुजसे बोला की रहूल तूने कभी ध्यान दिया है ?…शुभम ( फ्रेंड) की दीदी के बूब्स इतने बड़े है …और टाइट नही है ….मैने उससे कहा की …यार या तो उसकी दीदी किसी से चुस्वती होगी या दबवती होगी ….मैने कहा की उसकी दीदी की एज भी तो बहुत है ….

फिर वो बोला की एज तो तेरी दीदी की भी ….जवान तो तेरी दीदी भी है …तेरी दीदी के बूब्स तो बड़े भी है और टाइट भी है …फिर शुरू मैं तो मुझे गुस्सा आया ,….पर फिर नॉर्मल होकेर मैं बोला की यार ब्रा का भी तो अंतर होता है …

फिर वो बोला की एक बात पूचु बुरा तो नही मानेगा …मैने कहा हा पूछ …तो वो बोला की तूने स्वाती (मेरी दीदी ) की ब्रा देखी है कभी ….मैं कुछ नही बोला …फिर वो कहता रहा तो मैने कहा की हा मैने देखी है ….उसने पूछा की केसे ब्रा पहनती है …तब मैने उससे बताया की दीदी ज़्याडतेर वाइट ब्रा पहनती है …और ये बात सच थी की दीदी मोस्ट ऑफ थे त्यंस वाइट ब्रा ही पहती थी …

फिर क्या हुआ तब से मैं दीदी को बुरी नज़र से देखने लगा …
फिर एक बार वो सुबह सुबह नहाने गयी तो …तो बाथरूम जो था वो मेरी रूम मैं अटॅच्ड था …तो वो आपने रूम से मेरे रूम मैं नहाने आती थी ..

और कहानिया   गांड में लुंड का आनंद 1

एक दिन मेने बाथरूम मैं हल्की से स्पेसिंग की ….गेट मैं ..
तो जैसे ही दीदी अंदर गयी मैने वाहा आपनी आँख लगा दी ..
जेसे ही दीदी ने अंदर की लाइट ऑन की …और बाहर की लाइट ऑफ थी …तो दीदी अंदर सॉफ नज़र आने लगी ..

फिर दीदी ने आपनी शर्ट क बटन खोलने शुरु किए ,,,
शर्ट उतराते ही दीदी क दोनो बूब्स बहुत टाइट नज़र आने लगे ….कुछ ज़्यादा ही टाइट थे …दीदी ने बहुत टाइट ब्रा पहनी हुए थी ….अगर कोए हल्की से उंगली डाले तो फॅट ही जाती उनकी ब्रा ..

फिर उन्होने आपना लोवर उतरा ….जेसे ही दीदी ने लोवर उतरा …उनकी पेंटी …वा मज़ा आ गया था …ट्रॅन्स्परेंट ब्लू कलर की पेंटी दीदी की जाँघो पर कसी हुए थी …

उनकी हिप्स हिल रहे थे …फिर उन्होने ब्रा उतरी ..

मेरी आँखे फॅट गयी उनके दूध बहुत मोटे थे …दीदी क निपल इतने बड़े नही थे …पर उनके निपल क चारो तरफ का घेरा बहुत ज़्यादा ही बड़ा था ..

मेरी मूह मैं पानी आ गया …
फिर स्वाती दीदी नहाने लगी ….पेंटी गीली हो गयी थी ..

फिर उन्होने आपने बूब्स क बीच मैं साहबुन लगाया और बूब्स क उपेर और नीच की साइड मैं ….फिर उन्हे रगर ती रही …

जब सॉफ हो गये तो उन्होने आपने हाथ मैं साहबुन रगड़ा और फिर पेंटी मैं हाथ घुसा कर रगर्ति रही …

और फिर उन्होने काफ़ी डेरे रगार्ने क बाद ….हाथ निकल कर ..नहाने लगी ..

फिर पेंटी की एलास्टिक आगाई कर क …पानी डाला ..

और फिर पेंटी उतार दी …

फिर उन्होने आपने बॉडी पूछ ली …एक हाथ से आपने दूध पाकर कर उपेर कराती और दूसरे हाथ से पूछती थी …

फिर मैने देखा की दीदी की चुत पर बहुत सारे बाल थे …
बहुत ज़्यादा ढयन से देखने पर पर भी मुझे बस हल्का सा होल (छेड़) दिखा ,…क्यूकी बाकी बचा हुआ होल उनकी जंगो क बीच मैं छुपा हुआ था ..

और कहानिया   कमोतेजित से भरी भाभी

उनकी चुत काफ़ी फूली हुए थी …

फिर मैने आपने दोस्त को बताया ….और एक दिन हम दोनो ने मेरे घर पर दीदी क फोटो क सामने ….उनकी पेंटी मैं मूठ मारा ….

अब दीदी की एज 25 है और वो अब बहुत ज़्यादा सेक्सी हो गये है ….मोटी मोटी जंघे …मोटे बूब्स और फूले हुए हिप्स ….मेरा लंड खड़ा कर देता है ……उनकी ब्रा पर 34 सी/90 क्म्स लिखा हुआ र्हता ह…..तो क्या उनकी एज क हिसाहब से ज़्यादा बड़े है या नोर्म्ळ या केसे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares