पड़ोसन आंटी और उसकी दो जवान बेटियाँ

हेलो दोस्तो तो मेरा नाम सचिन है, और मैं हयदेराबाद से हूँ. मैं एक कंपनी मे जॉब कर रा हूँ, मेरी उमर 24 साल है और मेरी हाइट 5.9 फीट और मेरे लंड का साइज़ 6.5 इंच लंबा और 2 इंच मोटा है.

अब चलिए मैं आपको बोर ना करते हुए स्टोरी शुरू करता हूँ, मेरी स्टोरी की 3 हेरोयिन है. मेरी पोदसी आंटी साना उनकी उमर 32 साल है, और उनका फिगर साइज़ 36द-30-36 है.

वो एक दम भरे भरे जिस्म की मालकिन है, और उसकी बड़ी बेटी सारा जिसकी आगे 22 साल है. उसका सेक्सी फिगर साइज़ 34-28-34 है, वो साली पूरी अपनी मा जेसी गोरी है.

अगर उसका हाथ ज़ोर से दबा तो वो एक दम लाल हो जाएगा, और हुमारी 3र्ड हेरोयिन मेरी फेवोवरिट ज़ोया है. उसकी उमर 18 साल है और उसका सेक्सी फिगर साइज़ 32-26-32 है.

एक दिन की बात है जब मैं बिल्डिंग के तरसे पर बैठ मासों के मज़े ले रा था. तभी ज़ोया उपेर आई और वो मुझसे बात करने लग गयइ, तब उसने डीप नेक त-शर्ट पहनी हुई थी.

तभी वो कुछ लेने नीचे झुकी तो उसके बूब्स देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. और ये बात उसको भी पता लग गयइ और फिर वो मुझे स्माइल दे कर व्हन से चली गयइ.

ऐसा काफ़ी बार हुआ और अब हम फोन पर छतिंग करने लग गये. हुमारी सेक्स की रिलेटेड काफ़ी छत होती थी, मैं उसके साथ वीडियो सेक्सी भी करता था.

पर मेरालुंद को उसकी छूट मे जाने के लिए तड़प रा था, एक दिन हम बिल्डिंग पर मिले. मुझसे कंट्रोल न्ही हुआ तो मैने सीधा उसकी त-शर्ट उतार कर उसके बूब्स को मसलना शुरू कर दिया.

अब मुझसे कोनर्टॉल न्ही हुआ, पर वो दर र्ही थी की कोई आ ना जाए. मैने उसकी एक ना सुनी और मैं उसके बूब्स को मसलता चला गया, और मैने उसके निप्पेस को खींच खींच कर चूसे.

उस टाइम मैं एक शॉर्ट मे था, तो मैने अपनी शॉर्ट उतार दी और उसे नीचे झुका कर मैने अपना लंड उसके मूह मे दल दिया. उसके मूह मे लंड जाते ही मुझे जनन्ता का मज़ा मिला, उसके रसीले गुलाबी होंठो मे अब मेरा लंड था.

उसने अपनाई जीब से मेरे सूपदे को चूसना शुरू कर दिया, मुझसे अब बर्दाश्त न्ही हुआ. तो मैने उसके बाल पकड़ कर उसका मूह छोड़ना शुरू कर दिया, मैने अपना पूरा लंड उसके गले तक उतार दिया.

अब उसकी आँखों से आँसू आ र्हे थे, और मुझे मज़ा आ रा था. मैं अपने मोबाइल मे अपनी पहली चुदाई का ट्रेलर की वीडियो बना रा था. फिर मैं उसके मूह मे ही झाड़ गया, और करीब 15 मिनिट उसका मूह छोड़ने के बाद मुझे आराम मिला.

और कहानिया   मस्त पडोसी लड़की की चुत बजाय

फिर मैने 10 मिनिट तक उसे स्मूच किया, और वो बोली – मुझे और मत तड़पाव मुझे छोड़ दो.

मैं भी ये ही चाहता था, पर वो वर्जिन थी अगर मैं छोड़ता तो उसकी चीखें पूरी बिल्डिंग मे सुनाई देती.

मैं – यार कल तू मेरे घर तूतिओं के बहाने आ जाना, व्हन मैं तुम्हे आराम से आचे से छोड़ूँगा.

नेक्स्ट दे उसके साथ उसकी बहें भी आ गयइ, उसको देख कर मुझे गुस्सा आया पर मैने कंट्रोल कर लिया. थोड़ी देर बाद उसकी मा ने ज़ोया को बुलाया और उसके साथ वो मार्केट मे चली गयइ.

अब मेरे घर मे सिर्फ़ मैं और सारा थे, मैं सारा के बूब्स को घुरे जा रा था. उसने मुझे ये सब करते हुए देख लिया और वो बोली.

सारा – आपकी कोई गर्ल फ्रेंड न्ही है क्या?

सचिन – न्ही मेरी कोई गर्ल फ्रेंड न्ही है.

सारा – तुम झूठ बोल र्हे हो.

सचिन – मुझे कोई मिली ही न्ही तो मैं झूठ क्यो बोलूं.

सारा – केसी गर्ल फ्रेंड चाहईीए तुम्हे बोलो?

सचिन – बिल्कुल तुम्हारे जेसी क्यूट हॉट सेक्सी.

सारा शॉक हो गयइ और साथ ही वो स्माइल देने लग गयइ, और उसने वो किया जिसका मुझे अंदाज़ा तक न्ही था. उसने मेरी शॉर्ट मे हाथ दल कर मेरे लंड को मसल दिया, उसको ऐसा करते देख कर मैं बोला.

सचिन – सारा तुम बहोट चालू हो.

सारा – जब ऐसा लंड मिल जाए तो चालू क्या मैं तो रंडी बनने के लिए भी त्यआर हूँ.

अब उसने मेरा लंड बाहर निकल कर चूसना शुरू कर दिया. मैं मज़े से उसको अपना लंड चुस्वा रा था, और मैने उसका टॉप फाड़ कर फेंक दिया.

उसने नीचे ब्लॅक कलर की ब्रा पहनी थी, उसमे उसके बूब्स मस्त दिख र्हे थे. मुझसे अब कोनर्टॉल न हुआ और मैने उसकी ब्रा के हुक्स को भी टूड दिया.

जिससे उसकी ब्रा नीचे हो गयइ, और उसके पिंक निपल्स को मैं मूह मे ले कर चूसने लग गया. साथ ही मैं उसके दूसरे बूब्स को मसल रा था, इससे सारा पागल हो र्ही थी.

सारा – एस एस अहः अहः चूसो मसल दो मेरे बूब्स को, और ज़ोर से एस आहह अहः हन एयेए ह ज़ोर से चूसो मेरे राजा या सक मी बूब्स.

मैं उसके निपल्स को काट रा था और उसके बूब्स को दंटो से छब्बा रा था. मेरे दंटो के निशान अब उसके बूब्स पर दिख र्हे थे, उसकी पनटी पूरी गीली हो गयइ थी.

और कहानिया   रस्ते में मेरी गांड चुद गयी

मैं नीचे हाथ दल कर उसकी छूट को मसल रा था, और मैं बोला – वा मेरी रंडी सारा तू तो झाड़ भी गयइ है.

सारा – तुमने पागल जो बना दिया आज मुझे, अब मैं तुम्हारी रंडी हूँ. मेरे साथ जो मर्ज़ी करो, जब तुम्हारा मान करे मुझे छोड़ लेना मैं तुम्हे अब कभी माना न्ही करूँगी.

तभी ज़ोया का कॉल आया और मैने फोन को स्पीकर पर र्ख दिया.

ज़ोया – केसे हो मेरे बेबी तुम्हारी रंडी तुम्हेरे लंड के लिए तड़प र्ही है.

मैं – तो रंडी क्यो गयइ अपनी मा के साथ, आज तू मेरा लंड ले लेती.

सारा अभी भी मेरा लंड चूस र्ही थी, और मैं बोला – अगर मैं तेरी बहें को माना लूँ और तुम दोनो एक साथ छोड़ूं तो, क्या तू आएगी मुझसे चूड़ने?

ज़ोया – सारा दीदी मेरी जेसी रंडी न्ही है.

मैं – तो सुन रंडी.

मैने तभी वीडियो कॉल करी और उसने अपनी बहें को मेरा लंड चूस्ते हुए देख लिया. तभी ज़ोया मेरे घर आई और वो ज़ोर ज़ोर से डोर नॉक करने लग गयइ.

जिससे सारा दर गयइ और मैं बोला – कोई न्ही है तुम अंदर जाओ.

जेसे ही सारा अंदर गयइ तो मैं डोर खोला, तो ज़ोया सीधा अंदर आ कर मुझे पर टूट पड़ी तो मैं उसे गोध मे उठा कर बेडरूम मे ले गया.

झन पर सारा पहले से ही नंगी थी, सारा ज़ोया को देख कर शॉक हो गयइ. पर दोनो फिर हँसे लग गयइ और वो मुझे बोली – आज से हम दोनो बहएने तुम्हारी रंडी है, और आप मेरे मलिक है. आप छाए वो हुमारे साथ करिए.

अब वो दोनो मेरा लंड चूस र्ही थी, और मैं बोला – आ अहः सारा आह ज़ोया तुम दोनो क्या मस्त लंड चुस्ती हो.

सारा – मलिक मैं आपकी ही रंडी हूँ.

ज़ोया – न्ही हम दोनो आपकी रंडिया है, अब छोड़ भी दीजिए ना और कितना तड़पाएँ अपनी रंडियो को?

मैं – चल सारा ज़ोया के मूह पर र्ख दे.

फिर मैने ज़ोया की छूट पर अपना लंड सेट कर दिया, और अब मैं अपना लूंर रगड़ने लग गया.

ज़ोया – मलिक अब अपना लंड डाल भी दीजिए नाअ.

फिर मैने एक ढाका मारा और मेरा 3 ईंद लंड उसकी छूट मे चला गया. ज़ोया 18 साल की कची काली थी, इसलिए वो ज़ोर से चीलाई और बोली – आह अहः आहा हन.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published.