पडोसी आंटी ने मुझे चोदना सिखाया

हैलो दोस्तो मेरा नाम प्रणीत है.. अन्तर्वासना, कामुकता और हिंदी सेक्स स्टोरी की दुनिया में आपका स्वागत है.. मेरी उम्र २२ साल है.
मैं लम्बा तगड़ा हु, और मेरा लंड मोटा, लम्बा और काला है.. आज मैं आपको मेरी पड़ोसन मामी को कैसे पटाकर उसे चोदा उसके बारे में आपको बताऊंगा!

मामी का नाम सावित्री है!

वो बहुत हॉट है जब भी मैं उसको देखता हूं मेरा लन्ड खड़ा होने लगता है..

दरहसल हुआ है था कि जब मै आठवीं क्लास में था तब उनके घर पर बैठा हुआ था.. तब मामी घर पर झाड़ू लगा रही थी.

उस वक़्त उसने मैक्सी पहनी थी तभी वो नीचे झुकी और उसके दोनों निपल्स पूरी तरह से मुझे दिखाई दिए… निपल्स की चूचियां भी दिखाई दी बस वो लम्हा जब भी याद आता है तब तब उसे चोदने का बड़ा मन करता है ..

अब मुझसे और कंट्रोल नहीं हो रहा था.. मैंने ठान लिया था इसकी चूत में अपना लन्ड डालकर रहूंगा… मैं बस मौका ढूंढ रहा था..

तभी मुझे एक आइडिया आया.. मैंने सोचा कि मामी के साथ दोस्ती बढ़ता हूं.. मैं हमेशा उनके साथ बातें करता था ..

उनके घर जाकर बस कुछ दिन बाद मौका देखकर मैंने उनका व्हाट्सप्प नंबर मांग लिया.. उसने मुझे अपना नंबर दे दिया..

एक दिन मैंने मामी के व्हाट्सअप नंबर पर सनी लियोन का बिकनी फोटो भेज दिया ..

तभी मामी ने बोला कि क्या तुम ऐसी तस्वीर देखते हो नेटपर..?

मैंने हां कहा तो वो कुछ नहीं बोली… बस अभी वो लाइन पर आ रही थी ..

वहीं दूसरे दिन मै सिर्फ टॉवल लपेटकर उनके घर गया.. तब वो अकेले घर पर थी…

अंदर मैंने चड्डी नहीं पहनी थी.

तभी मामी ने मुझसे पूछा क्या हुआ.. कुछ काम है ..?

मैंने कहा हां और तभी मैंने जान बूझकर अपने टॉवल खोल लिया..

और कहानिया   माँ बनने के लिए तांत्रिक से चुदाई

तभी उसने शरमाते हुए कहा जल्दी अपने टॉवल पहन लो …

अब उसने मुझे नंगा देख लिया था …

अब मै भी उसे नंगा करे चोदना चाहता था..

मैं घर गया और कपड़े पहनकर वापस मामी के पास आया वो किचन में खाना बना रही थी .. मुझसे अब कंट्रोल नहीं हो रहा था..

मै पीछे से जाकर उसे पकड़ लिया और उसे पीठ पर चुम्मिया देने लगा…

मामी बोली छोड़ो मुझे ये क्या कर है तुम ..?

पर मै कहा सुनने वाला था …

मैंने उसे और जोर से पकड़ लिया …अब वो भी गरम हो रही थी … तभी मैंने रूम के सारे दरवाजे और खिड़की बंद लिए और मामी को उठाकर बेडरूम ले गया…

अब मेरी मनोकामना पूर्ण होने वाली थी… मैंने जल्दी उसकी साडी खोल दी .. वो लहंगा और ब्लाउस में थी…

उसका पेट बहुत मुलायम था … अब उसके निपल्स पर मेरी अब नजर थी… तो मैंने जल्दी जल्दी उसके ब्लाउस के हुक खोल दिए..

उसने अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी ..  मै उस पर टूट पड़ा ..

मैंने जितना सोचा था उसके निपल्स उससे काफी बड़े थे… मैंने उसे जोर जोर से चूसने लग गया..

मामी मेरा भरपूर साथ दे आवाज निकाल रही थी ..आह ..आह ..आह ..आह.. आह ..आह…. पर मेरा मन इतने से कहा भरने वाला था..

मैं अपने सारे कपड़े उतारकर नंगा हो गया और मामी को भी पूरी तरह से नंगा कर दिया..

मेरा ६ इंच का लन्ड खड़ा हो चुका था..

फिर मैंने बिना सोचे अपना लन्ड मामी के चू त में घुसा दिया

मामी- चोद मुझे साले और जोर से चोद आह आह आह

मैं -रण्डी तुझे इतने दिन तक चोदने के सपने देखता था आज तेरी चूत फाड़ दूंगा

मामी – चोद और जोर से रण्डी बना दे मुझे.

मै – मामी मुझे रोज चोदने दोगी ना

और कहानिया   पत्नी एक्सचेंज करना बहुत अचा लगता है

मामी – पहले मेरी चूत अपनी जीभ से चाट फिर रोज दूंगी..

फिर मैंने अपना लन्ड चूत से बाहर निकाला और उसकी चूत चाटने लग गया… बहोत टेस्टी थी उसकी चूत…

उस दिन बाद मैंने मामी को लगातार १ महीने तक रोज चोदता था…

उसका निपल्स चूसता था… में बहोत खुश था… मामी भी बहुत खुश थी …

ठीक २ महीने बाद मामी प्रेगनेंट हुई …

उसके पति को लगता था कि ये बच्चा मेरा दिया हुआ है लेकिन वो मेरा दिया हुआ बच्चा था..

तो ठीक है दोस्तो अगली बार एक नई कहानी सुनाऊंगा की कैसे मैंने भाभी अपना दीवाना बनाया