पड़ोसन की चुदाई

उसकी सील भले ही पहले टूट चुकी थी लेकिन बाद मे पता चला के आज तक वो सिर्फ़ एक बार अपने बॉय फ्रेंड से अबसे लगभग 3-4 साल पहले चुदि थी, जिसकी वजह से उसकी छूट आज भी बहुत ज़्यादा टाइट थी और मेरे लंड को जाकड़ रही थी।  फिर चुदाई करते करते लंड आसानी से अंदर बाहर होने लगा और हम दोनो सातवे आसमान पर पहुच के मज़े लेने लगे. जब मैने उस से पूछा के क्या तुम जाग रही थी तो उसने बताया के ये सारा मेरे पास सोने से ले के चुदाई तक सारा उसका नाटक था।

और फिर मैने उसे जम कर चोदा और वो भी मेरा लंड अपने चूत मे ले के खूब चुदि।  काफ़ी देर चुदाई के बाद जब हम दोनो झड़ने वाले हुए तो मैने उस से पूछा के अपना माल कहा निकालु तो उसने कहा जीजू मै आपको अंदर तक फील करना चाहती हू तो अपना माल  मेरी छूट के अंदर ही भर दीजिए।

फिर मैने अपना पूरा माल उसकी छूट के अंदर भर दिया और हम दोनो साथ मे निढाल हो गये।  उस पूरी रत मैने उसे अलग अलग पोज़िशन मे 4 बार चोदा फिर हमे दोनो थक कर सो गये।  और वो मेरे पास करीब 25 दिन रुकी और मैने उसे अपने घर मे हर जगह हर पोज़िशन मे चोदा और चोद चोद कर उसकी चूत का भोसड़ा बना दिया और गॅंड मार मार कर उसे खूब मज़ा दिया। फिर वो घर चली गई।

लेकिन लॉक्कडोवन् ख़त्म होने के बाद वो मेरे और मेरी फॅमिली के साथ फिर वापस देल्ही आ गयी और आज भी हमारा चुदाई का सीलसिला जारी है।

हमने और क्या क्या साथ मे किया और कैसे मैने उसकी गॅंड मारी ये जानने के लिए आप मुझे मैल करे।

आपको मेरी आपबीती कैसी लगी ज़रूर बताएऔर अगर कोई लड़की या भाभी या आंटी मेरे लंड के मज़े लेना चाहे तो मै हॅमेसा तैयार हू।

और कहानिया   New Year Night Ki Sex Kahani

चोदा फिर हमे दोनो थक कर सो गये।  और वो मेरे पास करीब 25 दिन रुकी और मैने उसे अपने घर मे हर जगह हर पोज़िशन मे चोदा और चोद चोद कर उसकी चूत का भोसड़ा बना दिया और गॅंड मार मार कर उसे खूब मज़ा दिया। फिर वो घर चली गई।

लेकिन लॉक्कडोवन् ख़त्म होने के बाद वो मेरे और मेरी फॅमिली के साथ फिर वापस देल्ही आ गयी और आज भी हमारा चुदाई का सीलसिला जारी है।

हमने और क्या क्या साथ मे किया और कैसे मैने उसकी गॅंड मारी ये जानने के लिए आप मुझे मैल करे।

आपको मेरी आपबीती कैसी लगी ज़रूर बताएऔर अगर कोई लड़की या भाभी या आंटी मेरे लंड के मज़े लेना चाहे तो मै हॅमेसा तैयार हू।

धन्याबाद।

Pages: 1 2