पड़ोस की झकास माल

हैलो दोस्तों कैसे है आप सभी.. अन्तर्वासना, हिंदी सेक्स स्टोरी, मस्तराम और कामुकता के दुनिया में आपका स्वागत है.. पहले मे आप सभी को अपने बारे मे बता दूँ. मेरा नाम बब्लू है मेरी हाईड 5,9 है रंग सावला है पर दिखने बहुत हैन्डसम हूँ । और बहुत सेक्सी भी हूँ ।जब तक मुझ को चूत न मिले तब तक मे बहुत परेशान रेहता हूँ मेरी उम्र 38 बर्ष है।मे चूत का बहुत दीवाना हूँ ।

अब मे आपको एक सच्ची कहानी बताता हूँ मैं मध्य प्रदेश से हूँ ।

जब हमने पेहली बार चुदाई की, उस समय हम पढ़ते थे… तकरीबन हमारी उम्र 18 वर्ष होगी ।अक्सर हम दोस्तों से सुनते रेहते थे सेक्स के बारे में इसलिए हमारा भी दिल करता था की मे भी किसी लड़की के साथ सेक्स करू।

एक भगवान ने हमारी दिल की मुराद सुन ली और एक लड़की उसका नाम में आप सभी को नहीं बताऊंगा क्यों की नाम बताने से प्यार कम हो जाता है ।मे उस लड़की को बहुत बहुत प्यार करता हूँ । उसका मुझको पता नही..

बो हमारे पड़ोसी की भाॅजी थी दिखने दूध से भी गोरी बहुत सुंदर थी उसके बारे में जितना भी बताऊंगा उतना कम है दूध की साईज ३४ – ३२ -३४ !! एक दम मस्त माल थी उम्र 20 वर्ष जब मे उसको देखता था तो मे पागल हो जाता था और सोचता था यार ऊपर बाले ने क्या खूब माल बनाया ।

और मुठ्ठ मारकर रह जाता था ।

पर ऊपर बाले के यहाँ देर है अंधेर नही एक दिन ऊपर बाले ने हमारी सुन ही ली ।

उसकी मामी जो पेट से थी उस दिन उनके पेट मे बहुत जोर से दर्द हुआ इसलिए बो लड़की हमारे पास आई क्यों की उसके मामा एंड छोटी मामी दूर खेतों मे काम कर रही थी..

और कहानिया   दोस्त की बेहेन की चुदाई

मामा मामी को बुलाने के लिये उसने हम से कहा बस फिर क्या हमने उसकी मजबूरी का फायदा उठाते हुए उस से कहा की हमारे पास टाइम नहीं है तो बो हमसे बहुत गिड़गिड़ाई मेने मन ही मन सोचा क्यों न मोका पर चोका मारदिया जाय फिर क्या था मेने अपने दिल की बात उस्से केहदी पहले उसने हमको ऑख दिखाई और मना कर दिया ..

तो मेने भी मामा को बुलाने से मना कर दिया जब जा के बो तैयार हुई उसने एक दिन बाद मिलने का समय दिया मे तैयार हो गया पूरी रात उसके सपनों मे ही निकाल दी तकरीबन २, ३ दोपहर मे उसने हमको बुलाया और सिर्फ एक ही बार करने को बोला मे भी मान गया..

फिर क्या था मे लग गया काम पर पहले मेने उसके गाल होंठ चूमे धीरे धीरे उसके दूध मसलता रहा अब उसको भी मजा आने लगा क्यों की उसकी न मेरी पेहली चुदाई थी इस लिए चुदाई के मामले में हम दोनों ही अनाड़ी थे..

उसकी भी चूत मे कुछ अजीब सी हल चल होने लगी और मेरा भी लंड खड़ा हो गया जब मेने उसकी सलवार के अंदर हाथ डाला तो उसकी पेंटी पानी से पूरी गीली हो चुकी थी बो बहुत गर्म हो चुकी थी उसकी साँस बहुत गर्म और तेज चल रही थी उसका भी हाथ मेरी पेंटी के अंदर चला गया और बो भी हमारे लंड से खेल रही थी ।

अब देर न करते हुए मेने उसके और अपने सारे कपड़े उतार दिए जब उसने हमारा लंड देखा तो चोक गईं और बोली इतना बड़ा मोटा !

मेरे लंड की साईज 8 इंच लंबा 3 इंच मोटा है मेरी छोटी सी चूत मे कैसे जायगा और बो डर के मारे कपड़े पेहनने लगी जैसे भी करके मेने उसको तैयार किया बो बोली पूरा मत डालना तो ही करने दूंगी..

और कहानिया   एक्ट्रेस बनने के लिए चुत चुदाई

मे तैयार हो गया अब टाइम न बैस्ट करते हुए मेनै अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर रखा और एक ही झटके मे आदा अंदर चला गया बो दर्द के मारे चिल्लाने रोने लगी पर मैंने उसकी एक न सुनी मैंने झटकै देना जारी रखा पता नही कम मेरा लंड उसकी छोटी सी चूत मे पूरा चला गया..

१० -१५ मिनट के बाद उसको भी अच्छा लगने लगा बो भी अपनी चूत को उठा उठा कर चुदने लगी और केहने लगी और जोर से चोदो इसको फाड़ दो …

इसी प्रकार हमारी चुदाई जारी रही तकरीबन २५ -३० मिनट की चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गये कुछ देर तक हम एक दूसरे लिपटे रहे..

सके बाद अपने अपने कपड़े पहने मेने उससै पूछा अच्छा लगा की नहीं बो हस कर रह गईं ।

उस दिन के बाद जब भी हमको मोका मिलता है मह चुदाई करते हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares