मम्मी का प्यार बेटी के लिए

ये स्टोरी एक साची कहानी है . राजुल नमकी एक लड़की बोहोट सनडर थी. वो भवन कॉलेज मे पति थी.. उसकी सुंदरता को लाकर सभी लोग आकर्षित थे.

एक दिन उसकी मम्मी को एक कॉल आता है.. तब राजुल घर पर नही थी.

त्रिंग त्रिंग

हेलो

क्या मई राजुल की मम्मी से बट्ट कर सकती हू.

हहा मेी बोल रही हू.

क्या अप राजुल की मम्मी हू.

जीई है मेी उसकी मम्मी हू..अप्प्प कों बोल रहे हू?

मई उसकी करीबी दोस्त बोल रही हू..

अच्छा अप का आवाज़ मिने कभी नही सुना है..मूज़े लगा की मई उसकी सब आचे दोस्तो को जानती हू..?

अच्छा आंटी मैने कहा ना मई उसकी कर्भी दोस्त हू.. अची नही?

क्या मतलब?

मतलब छोड़ो.. आपको पता है अभी राजुल कहा है..

जी नही पता… पर बोलकर गयी थी की अपनी सहेली के घर पर जा रही है..

अछा मेी बोलू वो मेरे सामने है..

तो फिर क्यू फोन किया.

ये बताने के लिए की अपपकी बेटी क्या कर रही है.

क्या कर रही है?.. उसे फोन दो.

उम्म वो जोकुछ भी कर रही है वू फोन नही ले सकती.

क्यू?

वू अपने मौत से बोल नही सकती.

बोल नही सकती मतलब?

उसके मूऊ मेी बोहोट कुछ है

क्या है.. उसे फोन डू

फोन नही दे सकती बोला ना.. अछा मेी बतौ उसके क्या पहना है..?

मूज़े पता है उसने जींस और वाइट त-शर्ट पहना है..

और उसकी काली ब्रा और वाइट पनटी वित फ्लवर ओं इट क्यों बताएगा..

ये .. तुम्हे कैसे पता.. कों हो तुम

मूज़े सब पता है.. पर अभी उसके बदन पर कुछ नही है..

कुछ नही मतलब??? वो कहा है?

वो मेरे बेड पर है.

तुम्हारे बेड पर..

यी और उसकी पनटी रूबी के हाथ मेी है.. आपकी बेटी पूरे नंगी है

क्या ..? कों हो तूमम ..मेरी बेटी ठीक है ना.. उसे फोन दो.

अपपकी बेटी ठीक है.. उसने ही मूज़े फोन करने बोला है..

क्या.. पर वो नंगी क्यू है.

नंगी होकर ही तो सेक्स कर सकते है..

सेक्शकश.. मेरी बेटी सेक्स कर रही है.. उसे फोन दो..

उम्म देती हू पर वू बट्ट नही कर पाएगी.

पार क्यों?

उसके मुहह मेी प्रीति की छूट है.. सुनू

उम्म्म. उल्ल्फ्फ़ उल्ल्फफ़्फ़ .. सुना क्या अपने मम्मी(फोन पर)

हेलो अप लोग खा पर है.. मेरी बेटी को बोलो ये सूब छोड़ो और घर अभी के अभी आजए..

अपपको क्या लगता है वो ये छोड़ के आएगी.नही आएगी

उसे बोलना अभी घर ही मत आए

पर कभी अपने दहका है आपकी बेटी राजुल कितनी जवान है..

क्या

है उसने अपपको यही बताने के लिए फोन करने बोला है

और कहानिया   मेरे टीचर ने की मेरी माँ की चुदाई

नहिी ..पता

उसकी टाँगे दहकी है अपने.. उम्म क्या सेक्सी लगती है..

उम्म मूज़े नही पता करना है…

उसकी बूब्स कितने पर्फेक्ट है .. उसे ब्रा मेी कितना उछाल मिलता है..

मूज़े मॅट बटाऊ

उसकी छूट भीइ चिकनी है.. और शेव्ड भी

ऑश नही बोलो तुम ऐसा..

मेी तो जो देखराहि हू वो बोल रही हू..

क्या तूमम मेरी बेटी की छूट देख रही हो..

है बिल्कुल

उसने शेव भी की है.. क्या अप अपनी और साथ मेी पानी बेटी की छूट शेव करती हो..

नहिी.. मूज़े ये सब नही सुनना

अछा मेी फोन रखती हू.. और आपकी बेटी की छूट की साथ खेलती हू..

नही रूको.. कों हो तुम.. बतयू

नही ये बतायो की अप अपनी बेटी की छूट शेव करती हो? वरना मई फोन रकति हू

नही.. मई अपनी बेटी की चूत नही शेव करती..

तो तुम अपनी छूट शेव करती हो..

पार तुम कों हो..

करती हो की नही मम्मी

हाई .. करती हू..

तुम्हे पता है अभी आपकी बेटी रूबी की छूट चत्ट रही है

मेरी बेटी एशिया नही कर सकती..

पर मम्मी वो कर रही है.. एक रंडी बनी है वो यहा पर..

तूमम कितने लोग हो..

मूज़े और आपकी बेटी को गिन कर 5 लड़किया.

5 लड़किया..

हाई मेने यही बताने के लिए फोन किया है की आपकी लड़की एक रंडी है

क्या.. रंडी

जी ..एक रंडी .. एक लेज़्बीयन

(साइलेंट)

आपको पता है वू पिंकी क्या कर रही है आपकी बेटी के साथ ..

नही पता..

वू आपकी बेटी की 30 ब साइज़ के बूब दबा रही है..

उम्म नही..

राजुल को तो बोहोट मज़ा एयेए रहा है. उसकी आवाज़ सुनू

उम्म्म्ममममममम हूंम्म्मममममममम हूंम्म्ममममममम

सुना अपने रंडी की मा(आंटी)

उम्म सुना.

अरी ये लू आपकी बेटी के हाथ कहा पर है..(हासणे की आवाज़)

क्या कहा पर है..

उम्म तुम्हे लगता है एक्षसितमेंट हो रही है.. मुम्मे

जीई मतलब..

तुम्हाई छूट भी गीली हो रही है ना मम्मी

नही टू

चलो मुजसे मॅट चुपाऊ मई भी तो एक लड़की हू..

नहिी मेरी छूट गीली नही है(मम्मी)

नही आंटी मूज़े पता है आपकी छूट भी गीली है.. आपकी राजुल की भी है..

अच्छा रूज़ुल ठीक तो है ना

अरी वो तो अची एंजाय कर रही है.. उसके हॅट अभी उसी की छूट मई है.

क्या ,,,

अप भी मम्मी अपनी छूट मेी उंगली कर रही हो ना ये सुनके..

क्या बक रही है…

सच बोलो रंडी की मा..

रंडी की मा होगी तेरी..

उम्म्म तूमम गली डू .. रंडी बोलो मूज़े तो अच्छा लगता है..

(साइलेंट)

अच्छा बोलू ना मम्मी तुम्हारी छूट भी गीली होगआई है ना..

और कहानिया   मेरी चुत और गांड भजइ जेट ने

नहिी..

नहिी.. जूत मॅट बोलो.. तुम्हारी बेटिइ तो याहाओअर धूम मचा रही है.

क्या वू ठीक है ना..

वू ठीक है और हम उसे ठीक शेप मेी ही रघगे.. रंडी तो है वो

उम्म ऐसा मत बोलो..

हाई मूज़े पता है तुमको भी सेक्स चाड रहा है..

उम्म

तूमम अपनी पनटी उतार सकती हो..

क्याअ नहिी..

अरी तुम्हारी बेटी की भी यही सोच है.. वो हमेश यही बोलती रहती है की वो तुमसे प्यार करती है..

प्यार तो मई भी करती हू .. पर

पर क्या…. अपनी पनटी उतार दो और अपनी बेटी के साथ मज़े करो..

(साइलेंट)

तुम्हे पता है उसकी छूट मई कितनी उंगली है..

क्या वो ऐसा भी करही है.. मेरी बेटिइ..

जीई और बोल्लो कितनी उंगली है..

2 है..

नही,… आन्सर से नज़डीग भी नही हू..

मतलब 4

जीई रंडी की मा. चार उंगली है.. अप बोलो तो उसे पूरा हॅट भी डालने बॉलुउ

उम्म .. मेरी बेटिइ

हुम्म बोहोट मज़े कर रही है.. प्रिया भी उसकी बूब्स दबा रही है..

उम्म्म

और्र वू अहैइ बार रही है.. तुम्हारी तरहह

उम्म्म..

तुम्ही तो उंगली कर रही हो ना… रंडी की माआ.

(साइलेंट)…. उम्म्म

ईए लू तुम्हारी बेती तो जादगाइिईई..

उम्म्म …अचाा

उसकी चुट्त तो रुबयी चत्ट रहिी है….. अपपकी बेटी की शेव्ड चुट्त्त

नहिी .. मेईईइ भी जद्द रहिी हू.. बॅस कारू…

जीि रंडी की माआ. … मूज़े भी मज़ा आगेया…

बासस्स कारू….

अपपकी बेती लाज़वब हाीइ….

उस्सी एब्ब घर बहह दो…

जीई आंटी… पर आपको एक बात बतानी है..

कियाअ?

आपकी बेती को डाटना मॅट…प्यारर करणाा. जैसा ह्यूम किया है..

(साइलेंट)

बोलो रंडी की माआ..

हाीइ ….एस

ओक.. और एक बट्ट..

और क्या?

मई आरती बोल रही हू.. मूज़े आपकी बेटी पसंद नही है..

क्याअ….!!!

हुम्म बॅस आपकी बटी रेकॉर्ड कर रहे थी..

मतलब…

मतलब ये किी.. आपकी बेटी बोहोट सुंदर है.. उसकी वाज़े से हम लढ़ियो की तरफ कॉलेज मेी कोई डेक्ता ही नही…

तो… ये सब क्यो…?

तो एब्ब ये सब कॉलेज सभी लोगो तो सुननाएगे.. और फिर्र हुम्म एसका म्‍मस नबनाएगे…

नहिी एशिया मत कारू..

एब्ब तूमम और तुम्हारी बेटी को सच मेी..

क्या सच मीि

सच मे,, लेज़्बीयन बनाएगे…

नहिी….

बाइ रंडी की माआ…(लोटसस ऑफ लाफ)

नहियिइ… सुनू

बयी….(हंग अप्प)कॉल एंड्स..

उसीी वक़्त.. राजुल की आवाज़ अतीी है’मम्मी मई घर आगाई हूउ.. मार्केट से सब्जी लाई हू…’

उसकी मम्मी फोन हाथ मेी लाकर.. उसकी पनटी क्नेस्स तक थी और वासे ही शॉक गाड़ी थी..

ऐसी हॉल्ट मेी मम्मी को देख कर राजुल दर गाइइ और मम्मी को पूछ ने लगी.’क्या हुव्व्वा मम्मी’

एब्ब बटाऊ मम्मी किया बोलेगी..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares