मेरी मम्मी को छोड़ा पापा के दोस्त ने

हेलो दोस्तो मेरा नाम विकाश है और इस स्टोरी मे मई आपको बताने वाला की कैसे पापा के एक दोस्त ने मेरी मम्मी को पता कर छोड़ा. दोस्तो ये मेरी फ्ली स्टोरी है प्लीज़ कमी होगी तो प्लीज़ रिप्लाइ ज़रूर करे.

स्टोरी लिखने से पहले मई अपनी मों और पापा के दोस्त के बारे मे बता डू. मेरी मों की आगे 32 और उनका फिगर 34-30-34 रहा होगा. ये स्टोरी आज से 7 साल पहले की है जब मई केवल 11 साल का था.

हम लोग पहले हमएसा गर्मी के छुट्टी के अपने नानी के घर जाते थे. नानी घर मे बस नानी अकेली रहती थी और पूजा बहुत करती थी. इसलिए वो हमेशा मंदिर ही जाया करती थी.

तो जब भी हम लोग नानी के घर जाते तो दोफर मे बस मई और मों रहते थे घर पे. पापा का बिज़्नेस होने के वजह से वो ह्म लोग को छोड़ कर चले जाते थे.

स्टोरी के मैं हीरो यानी अपने पापा के दोस्त के बारे मे बता डू. जिनका नाम गुल्फान है बुत उनका घड़ी का शॉप था. इसलिए हम लोग घड़ी वेल वाला मामा कहा करते थे. वो जब भी घर आते तो कुछ ना कुछ गिफ्ट या घड़ी लेकर ही आते थे मेरे लिए. ह्म उन्हे खूब मानते भी थे.

एक बार मैने नोटीस किया की जब भी वो आते तो मों मुझे पैसे देकर खूब दूर समान लाने को भेज देती थी. और मुझे कुछ एक्सट्रा पैसे देकर बोलती की जाओ ग्राउंड मे जाओ खेल लो अपने दोस्त के साथ आराम से आना.

ऐसे ही एक बार मुझे शक हुआ की मों हमेशा मामा के आने पे ही क्यू भेजती है. तो एक बार मैने बाहर जाके फाटक से पीछे से घर मे घुस कर देखने का फ़ैसला किया की क्या हो रहा है घर मे.

मई पैसे लेकर चला गया और पीछे के रास्ते से घर मे आके चुप गया.

मों और मामा को लगा मई चला गया तो उन्होने गाते लॉक किया और मामा मों को खूब तेज से गले लगा लिए. मों भी उनका पीठ सहला कर मज़ा ले रही थी.

फिर 2 मिंट मामा ने मों को किस करना स्टार्ट किया मों के लिप्स को चब चूसने लगे. फिर मों को गले के किस करने लगे. मों खूब तेज से सिसकारिया लेने लगी जिससे मों के चुचे बहुत तेज से उपर नीचे हो रहे थे.

और कहानिया   माँ बेटे का प्यार भाग 2

थोड़ी देर बाद मामा ने मम्मी के ब्लाउस भी उतार दिए और मम्मी सदी पेटीकोत और उपर से ब्रा मे थी. मम्मी ने काले कलर की ब्रा पहनी हुई थी.

मामा ब्रा के उपर से ही की चुचो को दबा रहे थे और उनके गर्दन पेर लगातार किस किए जेया रहे थे. मम्मी पागल जैसे हो रही थी और उनके बलों को सहला रहे थे.

फिर मामा ने मम्मी की ब्रा का हुक भी खोल दिया और ब्रा का हुक खुलते ही मम्मी की मस्त चुचिया दोनो बाहर आ गयी और मामा ने इसे एक मिनूट तक हाथ में दोनो हाथ से पकड़े रहा.

और फिर उन्होने एक एक चुचि को दबाने लगे थे. उन्हें बहुत मज़ा आ रहा था. मामा के थोड़ी देर ऐसा करने से वह भी पागल जैसा होने लगी थी और मामा की गर्दन को अपनी चुचि पेर दबा रही थी.

वह मम्मी की लगातार चुचियाँ छूसी जा रहे थे. मामा का लंड एकदम टाइट हो गया था. मम्मी मामा की पंत के उपर से ही उनके लंड को सहला रही थी जिससे मम्मी को और भी मज़ा आ रहा था.

फिर थोड़ी देर बाद मम्मी ने मामा के शर्ट को उतार दिया और उनकी बनियान को भी उतार दिया. मामा अब सिर्फ़ पंत मे थे, फिर मामा ने मम्मी की सदी निकल कर पेटीकोत भी निकल दिया.

अब मम्मी पनटी में थी, मम्मी ने मामा के पंत को भी निकल दिया और अंडरवेर निकल दिया. अंडरवेर निकलते ही मामा का लंड पूरा एकदम टाइट दिखते हुए बाहर आ गया.

मम्मी उनको देखकर खुश हो गयी थी जैसे पूरा संतुष्टि उनको आज मिल जाएगी. मम्मी ने लंड को पहले अपने हाथों में लिया और बहुत प्यार से सहलाने लगी.

2 मिन्स सहलाने के बाद मम्मी मामा के कहने पेर लंड को मूह में लेकर चूसने लगी. ह्म क्या मस्त लंड की चूसा कर रही थी. इस बार मामा मम्मी की गर्दन को पकड़ कर दबा रहे थे और उन्हें बहुत मज़ा आ रहा था.

चुसाई करने के बाद मामा ने मम्मी की पनटी को उतार दिया और दोनों लोग 69 पोज़िशन में हो गये. मम्मी की छूट की चूसा करते हुए मामा उनकी छूट में उंगलियाँ डाल रहे थे. इससे मम्मी को बहुत मज़ा आ रहा था.

और कहानिया   गैर मर्द से मस्सगे और चुदाई

ऐसी चुसाई करने के बाद मम्मी मामा की लंड का पानी मम्मी के मुँह में ही गिर दिया. और मम्मी ने बहुत प्यार से चूस के पी गयी.

फिर मम्मी ने फिर से मामा का लंड चूस कर खड़ा किया और लंड पेर बैठ कर छोड़ने को तैयार थी. अंकल का भी लंड पूरा चुदाई करने के लिए तैयार था.

मम्मी लंड पे बैठी और एक झटके में पूरा लंड अपनी छूट में घुसा लिया और उछाल उछाल के चूड़ने लगी. ऐसे चुड़ते हुए उनके दोनों चुचियाँ हिल रही थी जो मामा को बहुत अछा लग रहा था और वो उनके साथ खेल रहे थे.

10 मिनूट चुदाई करने के बाद मामा ने मम्मी को घोड़ी बनाया और उसी पोज़िशन में उनको छोड़ा. 15 मिनूट की चुदाई के बाद मामा ने अपना लंड का पानी मम्मी की चुचि पर गिरा दिया और उनके बगल में लेट गये.

मम्मी बहुत रिलॅक्स लग रही थी फिर उठी और तुरंत टाय्लेट गयी और आते ही फटाफट अपने कपड़े पहन लिए और मामा से फूली पहनने को. मैं 10 मिनूट बाद आया घर पेर तो वह लोग बिल्कुल नॉर्मल थे. लेकिन मम्मी के चेहरे पेर एक अजीब सा सुकून था और वह बहुत खुश भी लग रही थी.

मेरे आने के थोड़ी देर बाद मामा जाने लगे तो मुझे ₹50 दिया और मम्मी को बाइ बोल कर चले गये. इस तरह मम्मी और मामा की चुदाई काई बार हुई, आयेज की बाद में बतौँगा.

दोस्तो कैसी लगी स्टोरी प्लीज़ मुझे कॉमेंट करे, ये मेरी 1स्ट्रीट स्टोरी है.

अगली स्टोरी मे आपको बतौँगा कैसे मेरे पापा के दोस्त के साथ आए अंकल ने मम्मी को छोड़ा. और तब मम्मी को चलने मे भी बहुत दर्द रहा था. लेकिन वो स्टोरी आपको अगली स्टोरी मे बतौँगा. प्लीज़ इस स्टोरी का रिप्लाइ ज़रूर करे आप, थॅंक योउ.

पहले मेरी मम्मी ऐसी नही थी फिर वो ऐसा क्यू करने लगी मुझे नही पता. आप लोग को कोई आइडिया है तो ज़रूर शेर करिएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.