घरेलु बीवी मसाज पार्लर में चुदी

मैं रीता हु मैं दिल्ली की रहने वाली हु. मेरा फिगर ३२ २८ ३६ है. और में दावे से कह सकती हु की मुझे देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो सकता है.

यह मेरे बर्थडे से २ दिन पहले की बात है. मेरा बर्थडे आने वाला था सो मैंने एक पार्टी ऑरगेनाइज़ करी थी इसलिए मुझे सब से अच्छा लगना था. सो मैंने तय किया की मैं पार्लर जाकर बॉडी मसाज़ ले लेती हु. मैंने दिन के २:३० के बजे की बुकिंग कर ली. में टाइम से पार्लर पहुच गयी और वह जाकर अपनी अपोइन्मेनट के बारे में पूछा तो पता चला की कोई लेडी म्साज़र अवेलेबल नहीं है.

और उन्होंने जेंट्स मसाजर का आप्शन मुझे दिया. मैंने दो मिनट सोचा और हां कर दिया क्यूंकि मुझे लगा की लेडीज से जयादा ताकत जेंट्स में होती है सो मेरी मसाज़ अच्छे से होगी. पार्लर के मालिक ने मुझे मसाज़ रूम में भेज दिया. और २ मिनट में मसाज़ बॉय भी आ गया. वो जैसे ही एन्टर हुआ आई ऍम शॉकड…. ओ ऍम जी… वो बहुत हैण्डसम और डैशइंग पर्सनालिटी का था.

हमने एक दुसरे को इन्त्रोडीयुस करा… उसका नाम निशांत था… फिर उसने मुझे कपडे चेंज करने के लिए कहा तो में चेंजिंग रूम में गयी और ड्रेस चेंज कर ली….मैंने जो कोसटीयुम पहनी थी वो सिर्फ ब्रा और पेंटी थी और वो भी रेड कलर की. तो मैंने उसके ऊपर बाथिंग गाउन पहना और बाहर आ गयी. मुझे देख कर निशांत बोला की आपको यह बाथिंग गाउन उतरना पड़ेगा. और इसको उतर कर आप लेट जायो.

मैंने जैसे ही अपना बाथिंग गाउन उतारा निशांत मुझे ऊपर से निचे तक देखने लगा. पर में उसको इगनोर कर के लेट गयी. उसने मेरी बेक मसाज़ से मसाज़ करनी शुरू करी और मेरी नज़र उसके लंड पर गयी उसका लंड मुझे देखते ही खड़ा हो गया था एसा लग रहा था की मानो मेरी चूत में जाकर मुझे चोदना चाहता हो. बेक के बाद उसने मेरी गांड पर तेल लगाना शुरू करा और मेरी गांड को दबाने लगा. मुझे भी अच्छा लग रहा था इसलिए मैंने उसे कुछ नहीं कहा और मसाज़ लेती रही. फिर उसने मुझे पलटने को कहा और मेरे पेट पर तेल लगाया और मेरे हैंड्स और लेग्स की भी मसाज़ की. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. और में थोड़ी एक्साइट हो गयी थी.

और कहानिया   गर्लफ्रेंड की फ्रेंड ने ज़बरदस्ती चूत मरवाई

तभी वो बोला मैम.

मैंने उसे रोक दिया और बोला रीता बोलते है सो यु आल्सो कॉल मी रीता. उसने फिर बोला रीता बूब्स की मसाज़ कर दू क्या ? मैंने बोला जहा की मसाज़ करनी है कर दो. उसने मेरी ब्रा उतार दी और बहुत सारा तेल मेरे बूब्स पर डाला और बूब्स को दबाने लगा और में एक्साइटीड होने लगी. मैंने बोला और जोर से दबायो बहुत आनन्द आ रहा है. और मेरा हाथ उसके लंड पर चला गया तो उसने उसकी अंडरवियर से अपना लंड निकाला.

में उसके लंड को देखती ही रह गयी. उसका लंड ७ इंच का होगा २ सेकंड के लिए तो में डर गयी उसका लंड देख कर. उसने अपना लंड मेरे हाथ में पकड़ा दिया और में लंड को सहलाने लगी. उसने मुझसे पुछा कैसा लगा मेरा लंड तो मैंने उसको उसके ही अंदाज़ में जवाब दिया अभी तुमने मेरी चूत कहा देखी है. तो उसने कहा तुम कहो तो दर्शन कर लू. मैंने कहा मैंने कहा रोका है… फिर वो मेरी पेंटी के ऊपर से ही मेरी चूत को हाथ लगाने लगा… मैंने कहा ऐसे मज़ा नहीं आएगा.

उसने मेरी पेंटी के अन्दर हाथ दाल दिया और मेरी चूत में उंगली करने लगा. मैंने बोला अच्छे से करो… उसने मेरी पेंटी उतर दी और मेरी चूत पर बहुत सारा तेल डाल दिया. और मेरी चूत को मसलने लगा. मुझे बहुत अच्छा लग रहा था तो मैंने भी उसका लंड अपने मुह में ले लिया और लंड को चूसने लगी. वो भी चूत में एक हाथ से उंगली करने लगा और दुसरे हाथ से मेरे बूब्स मसलने लगा करीब १० मिनट बाद मेरी चूत से कण्ट्रोल नहीं हो रहा था.

फिर मैंने निशांत से कहा अपने इस लम्बे से और बड़े से लंड से मेरी चूत की प्यास नहीं बुझायोगे क्या… उसने भी बिना देर करे मेरी चूत में अपना लम्बा सा ७ इंच का लंड डाल दिया और जोर जोर से अन्दर बहार करने लगा और में आह्ह्ह्ह…. आआआ आह्ह्हह्ह…. आआआ अह्ह्ह्हह …. करने लगी. मेरे मुह से आवाज़े निकलना बंद ही नहीं हो रही थी . मुझे उसके साथ चुदाई में बहुत मज़ा आ रहा था. फिर ३० मिनट बाद उसने मुझे डॉग पोजीशन में कर के और मेरी गांड में उंगली करने लगा और फिर अपना लंड अन्दर डाल दिया. में बोलने लगी और जोर से गांड फाड़ दे मेरी और तेज़ तेज़ लंड अन्दर बहार कर लगा. उसने अपनी स्पीड और तेज़ कर दी.

और कहानिया   कैसे दोस्त ने मेरी बेहेन की सील थोड़ी भाग 2

अब मेरी चूत और गांड शांत हो गयी थी पर उसके लंड को अभी और चोदना था मेरी चूत को. उसने अपना लंड मेरे मुह में दाल दिया और अन्दर बहार करने लगा. और उसी स्थिति में मेरी चूत पर और तेल डाला और मसलने लगा. ५ मिनट में ही मेरी चूत फिर से चुदने को तैयार हो गयी. वो फिर से मुझे चोदने लगा और इस बार भी मुझे बहुत मज़ा आ रहा था आआह्ह्ह्ह…. आआह्ह्हाअ…. करके मेरे मुह से आवाज़े निकल रही थी और में साथ साथ बोल रही थी की निशांत तुम्हारा लंड एक दम मस्त है, मुझे बहुत आनन्द दे रहा है…

और जोर से… निशांत… और जोर से निशांत… aaahhhhh…. आआआ…. वो भी बोला तुम्हारी चूत भी कुछ कम नहीं है. २० मिनट बाद उसने पोज चेज़ करा और मुझे टेबल के सहारे खड़ा कर के और मेरी गांड में लंड डाल कर हिलाने लगा करीब २५ मिनट के बाद हम दोनों थक गए ओर लेट गए. लेकिन न ही मेरी चूत को और न उसके लंड को शांति मिली थी तो हम ६९ की पोजीशन में हो गए. वो मेरी चूत चाटने लगा और में उसका लंड चूस रही थी. १५ मिनट बाद मेरी मेरी चूत का पानी भी निकल गया और उसका लंड का भी और हम दोनों को बहुत मज़ा आया.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares