शादीशुदा जोड़ो की सेक्स

मेरा नाम अमित है, याद है या भूल गये मुझे | मैने आपको पीची बार अपने और अपनी एक पुरानी गर्ल फ्रेंड के बारे मे बताया था | और ये भी बताया था, कि उसका पति उसकी काम इच्छा को पूरा नहीं कर पता था और मेरी दोस्त ने मुझे अपनी काम की प्यास के लिए चुना | लेकिन, हम दोनों ने इस कामक्रीड़ा के रिश्ते को छुपाने के बदले फेमली फ्रेंडशिप मे बदल दिया था और मैने अपनी दोस्त स्टेला के पति को अपना अच्छा दोस्त बना लिया था और स्टेला भी मेरी पत्नी की दोस्त बन गयी थी | मेरी पत्नी की इच्छा थी, हम लोग अपनी छुट्टिया कहीं बाहर बिताये, तो मैने स्टेला के साथ मिलकर कुछ और ही नहीं करने का मन बना लिया था | मेरी पत्नी और स्टेला के पति दोनों की से सेक्स और संभोग मे कोई रूचि नहीं थी; लेकिन यहाँ आकर दोनों का ही मूड बदल गया था और वो दोनों काफी जिन्दादिली से बर्ताव कर रहे थे | उनसब चीजों को देखकर मेरे और स्टेला के मन बहुत ही कामुक विचार आने लगे और हम दोनों ने अब सामूहिक संभोग के बारे मे सोचना शुरू कर दिया |हम दोनों ने ही सही समय देखकर अपने पति और पत्नी से बात कर ली और उन दोनों को कपलसेक्स के लिए तैयार कर लिया था | लेकिन, ये नहीं बताया था, कि ये सब मेरा और स्टेला का प्रोग्राम है | स्टेला और मैने इसको वास्तविक तरीके से करने का निश्चिय किया | रेसोर्ट पर पूल था और हम सब ने पूलबाल खेलने का प्रोग्राम बनाया | स्टेला और खुद को मैने एक टीम मे रखा और अपनी पत्नी और स्टेला के पति को एक टीम मे | बच्चे भी हमारे खेलो का हिस्सा बने | ऐसा मैने जान-बुझ कर किया था, ताकि मेरी पत्नी और स्टेला का पति आपस मे हिलमिल सके और एक दुसरे के साथ घुलमिल सके | और, ऐसा ही हुआ | मै और स्टेला का पति अपने शोर्ट्स मे थे और स्टेला और मेरी पत्नी छोटे वाली स्विमसूट मे | खेलते-खेलते वो लोग पानी के अन्दर आपस मे टकरा जाते थे | स्टेला का पति मेरी पत्नी पे पूरी तरह से लट्टू हो चुका था और आज तो मेरी पत्नी काम की देवी लग रही थी | स्टेला के पति ने काफी बार मेरी पत्नी को छुने और टांग से टांग मिलाने की कोशिश की | एक बार तो वो दोनों आपस मे इलझ कर गिर पड़े; तो मैने और स्टेला ने हंसकर एकदूसरे को गले से लगा लिया | ये हमने इसलिए किया; कि वो भी हमें देखकर ऐसा करे और आपस मे मिले | मेरी पत्नी और स्टेला के पति ने जब ये देखा, तो वो भी अब पुरे जोश के साथ खेलने लगे और कोई पॉइंट लेते, तो आपस मे मिलके ख़ुशी जताते | स्टेला और मैने उनको ज्यादा से ज्यादा पॉइंट्स देने का सोचा और उनको गेम जीता दिया | गेम जितने की ख़ुशी मे वो दोनों बिना कुछ सोचे समझे एक दुसरे से लिपट पड़े और स्टेला के पति ने अपने होठ मेरी पत्नी के होठो पर रख दिये और चूमने लगा | शुरू मे दोनों ने इस बात का ध्यान नहीं दिया | लेकिन, जब उनको लगा, कि वो दोनों कोई और है; तो वो पीछे हट गये और मेरी पत्नी आँखे नीचे करके रूम मे चली गयी |मै उसके पीछे-पीछे रूम मे पुहंचा और उसको गले से लगा लिया और बोला, क्या हो गया ? सब ठीक है | जो हुआ अनजाने मे हुआ और आज तो हम कपलसेक्स करने ही वाले थे | अच्छा हुआ, हम सब आपस मे मिल जुल लिए | अब किसी को कोई शिकायत नहीं होगी | हम सब रात के खाने की मेज़ पर मिले लेकिन किसी ने कोई बात नहीं की | खाना खत्म करके मैने और स्टेला ने आँखों ही आँखों मे बात की और घूमने के लिए बोला | हम चारो, बच्चो को सुलाकर घूमने निकल पड़े | मे और स्टेला जान-बुझ के पीछे रह गये और उनके काफी पीछे चलने लगे | अब मेरी पत्नी और स्टेला का पति आगे-आगे चल रहे थे और आपस मे बाते कर रही थे | वो लोग बातो मे इतने मशगुल थे, कि उन्हें पता ही नहीं चला, कि हम पीछे रह गये है | वो दोनों गेम के बाते करके खुश हो रहे थे | हम सब अब रेसोर्ट के सुनसान इलाके मे थे | जहाँ रात मे कम चहल-पहल होती थी |वहा, एक सीट पर दोनों बैठ गये और हमारा इंतज़ार करने लगे | जब हम काफी देर तक नहीं आये, तो वो दोनों एकदूसरे के पास आने लगे और और स्टेला के पति ने मेरी पत्नी को पकड़ लिया और उसके होठ चूमने लगा | वो दोनों अब गरम होनो लगे थे और धीरे-धीरे एकदूसरे पास आकर एकदूसरे की गर्माहट महसूस करने लगे थे | उनको ऐसा करते देख कर स्टेला भी गरम होने लगी और उसने मुझे पीछे से पकड़ के चूमना शुरू कर दिया | अब उन दोनों ने एक दुसरे के कपडे खोलने शुरू किये और पुरे नंगे हो गये | स्टेला के पति ने मेरी पत्नी को सीट पर बिठाया और अपने होठ उसकी चूत पर लगा दिये | मेरी पत्नी ने मज़े मे अपने शरीर को हिलना शुरू कर दिया और मस्ती मे उसकी गांड हिलने लगी | इधर स्टेला भी गरम हो रही थी; तो, हम दोनों अचानक से निकल के उनके सामने चले गये | वो दोनों हम देखकर डर गये और मेरी पत्नी अपने को ढकने लगी | मैने और स्टेला ने बोला, चालू रहो और अपने -अपने कपडे उतरने लगे | मैने स्टेला को अपनी पत्नी के बराबर मे बिठाया और उसकी चूत को चाटने लगा | ये सब देखकर, स्टेला के पति की हिम्मत बड़ी और उसने मेरी पत्नी की चूत को चाटना शुरू कर दिया | मेरा और स्टेला के पति का लंड झटके पर झटके मार रहा था, तो मैने अपने एक हाथ से स्टेला के पति का लंड पकड़ लिया और हस्त्मथुन करने लगा | स्टेला के पति ने मेरी तरफ देखा और मुस्कुरा दिया | उसने भी मेरे साथ वेसा ही करना शुरू कर दिया |वहा का माहौल गरम होने लगा था | उसके बाद, मै और स्टेला का पति खड़े हो गये और मेरी पत्नी और स्टेला ने हमारे लंड चूसने शुरू कर दिये | मेरे और स्टेला के पति के मुह से लगातार कामुक आवाज़े निकल रही थी | लेकिन, कुछ मिस हो रहा था | उसके बाद, हम सब लेट गये और मेरी पत्नी ने स्टेला के पति का लंड मुह मे लिया और उसकी चूत को चूसने लगा | स्टेला ने मेरा लंड चुसना शुरू किया और उसके पति ने उसकी चूत | अब हमारा कोई भी अंग खाली नहीं था और रात की वजह से हमारी आवाज़े माहौल को कामुक बना रही थी | थोड़े देर मे हम सबके शरीर मे हरकते होने शुरू हो गयी | हम सभी अपना पानी छोड़ने वाले थे | एक-एक करके हम सभी ने अपना पानी छोड़ दिया और एक दुसरे से लिपट गये |उसके बाद, मै और स्टेला का पति दोनों सीट पर बैठ गये और अपने खड़े लंड को ९० डिग्री मे खड़ा किया | स्टेला मेरे लंड पर और मेरी पत्नी स्टेला के पति के लंड पर बठने लगी | और दोनों, हम दोनों को चोदने लगी | हम चारो के मुह से सीईईआआआअह्ह्ह्ह…ऊऊऊऊऊओ…..वाह……– आआह – लव यू ! के अलावा आवाज़े नहीं निकल रही थी | थोड़ी देर मे हम सबने अपना-अपना पानी छोड़ दिया | स्टेला ने मेरा और अपने पति का लंड अपने मुह पर रखा और हम दोनों का पानी पी गयी | मेरी पत्नी पीछे हट गयी; क्योकि, उसे ये पसंद नहीं था | हमने जिद नहीं की और स्टेला ने हम दोनों की इच्छा पूरी कर दी |हमसब बहुत थक गये थे और एकदूसरे से लिपट कर वही लेट गये | हम सब नंगे लेते थे | जब आँख खुली तो सुबह होने वाली थी | मैने सबको जगाया और हम सब रूम मे वापस चले गये | लेकिन, इस बार मेरी पत्नी मेरे साथ नहीं; स्टेला के पति के रूम मे गयी और स्टेला मेरे रूम मे | उसके बाद तो, हम दोनों ने कपल ने मस्त सेक्स और संभोग किया; वो कहानी कभी आगे …

और कहानिया   अंजन आंटी को प्यार से चोद

Leave a Reply

Your email address will not be published.