कंप्यूटर वाली मेडम को चोद

हेलो दोस्तो ये मेरे दूसरी कहानी है. इससे पहले मई आप लोगो को अपने भाभी के साथ सेक्स की कहानी सुनाई थी. जिसमे मई उनके साथ सेक्स कैसे किया था.

सो आज मई अपने न्यू कहानी के साथ आया हू जिसमे मैने अपनी कंप्यूटर टीचर के साथ कैसे सेक्स किया वो बतौँगा. तो चलते है कहानी की तरफ…

ये उस दीनो की बात है जब मई स्कूल मे पड़ता था जहा पर कंप्यूटर क्लास भी चलता था. उस कंप्यूटर क्लास का मई मॉनिटर थे. तब वाहा पर कंप्यूटर राकेश कुमार सिर सीखते थे. फिर एक दिन की बात है सिर का ट्रान्स्फर हो गया था.

उसके कुछ दीनो के बाद एक मेडम जी हमारे कंप्यूटर टीचर बन कर आए थे. जिनका नाम भी उनके हॉट फिगर के तरहा ही था, खुश्बू नाम थे मा’आम का.

पहले दिन तो उन्होने कुछ नही पढ़ाया था. दूसरे दिन मेडम ने सारे बाकचो के नाम पूछे. जब मेरी बारी आई तो मैने अपने बारे मे बताया और कहा की मेडम मई कंप्यूटर क्लास का मॉनिटर हू.

मेडम ने कहा चलो अक्चा है मेरा काम आसान हो जाएगा. मैने बोला वो कैसे मा’आम? तो वो बोली तुम मुझे कंप्यूटर क्लास करने वेल सारे बाकचो के नाम लिखवा देना. और मुझे कुछ कंप्यूटर के बारे मे बता भी देना. वो इसलिए क्यू की यहा पर सारे कंप्यूटर ओल्ड मॉडेल के है. मैने बोला ओक मेडम जी.

मई आप लोगो को बता दो की मेडम भूत खूबसूरती थी. बिल्कुल अपने नाम के तरह और उनका साइज़ भी 34-36-38 था. जिसे देख कर सारे लड़को का लंड खड़ा हो जाए, मेडम भूत मस्त माल थी.

कुछ महीने बाद एक दिन मेडम ने मुझे बुलाया और कहा की तुमको कंप्यूटर ठीक करने आता है क्या? मैने बोला है जी मा’आम.

तो वो मेरा हाथ पाकर कर उस कंप्यूटर तक ले गये जिसे ठीक करना था. पर जैसे ही उन्होने मेरा हाथ पकड़ा मानो मेरे पूरे बदन मे करेंट लग गया हो. फिर जब मैने कंप्यूटर को ठीक करने का लिए ओपन किया तो कुछ ऐसा हुआ की मेडम शर्मा गये.

उस कंप्यूटर मे क्लास 12 के भैया लोगो ने ब्फ ओं कर रखा थे. जिसे मेरे ओं करते ही वो ओपन हो गया. मैने देखा की कंप्यूटर तो ठीक है. तो मैने मेडम से कहा की मा’आम कंप्यूटर तो ठीक है.

और कहानिया   ममता की प्यासी चुत

पर उन्होने कहा की जब मैने चालू किया तो ये अक्चा से नही चल रा था. मैने बोला की मा’आम एक बार आप क्पू चेक कर लो. जब मा’आम क्पू चेक करने लगी तो वो मेरे सामने बैठ गये. जिससे मेरी नज़र उनके बूब्स पर गये, क्या बूब्स थे दोस्तो! मेरा तो मॅन ही मॅन उनको वही छोड़ने का कर र्हे थे. मेरा लंड भी खड़ा हो गया थे जिसे शायद मेडम ने भी देख लिया था, फिर हम लोग चले गये.

फिर एक दिन मेडम ने मुझे अपने घर बुलाया. उस दिन मेडम ने रेड कलर का सारी पहना हुआ था. उनको देखते ही फिर से मारा लंड खड़ा होने लगा. तभी कुछ ऐसा मेडम ने बोला जिससे मेरे तो होश ही उड़ गये.

मेडम – इतनी जल्दी क्या है खड़ा कर दिया, कुछ देर मे तो होने ही वाला है, तो अभी रुक जाओ..

ये बोल कर वो अपने कमरे मे चली गये. मई भी उनके कमरे में चला गया, वाहा जेया कर देखा तो पूरा रोमॅंटिक डटे की तरह उनका रूम सज़ा हुआ था.

मे – ये क्या है मा’आम, इतनी टायारी क्यू?

मा’आम – तुम्हारे लिए, मई सब जानती हू तुम्हारे बारे मे की तुम मेरे बारे मे क्या सोकते हो. इसलिए ज़्यादा देर मत करो, आज मई तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहती हू, तुम करोगे ना?

मैने भी हन कह दिया.

वो बोलने लगी मई जानती थी तुम मुझे नाराज़ नही करोगे. इतना कह कर वो मुझे किस करने लगी और मई भी उनको किस करने लगा. उनके वो मुलायम लिप्स क्या मस्त थे, मई तो बस चूस्ता ही रहा.

फिर वो मेरा टशहिर्त उतार दी और मुझे किस करने लगे सारे बदन मे. उसके बाद मैने भी उनकी ब्रा निकल कर उनके बूब्स पर टूट पड़ा. क्या मस्त बूब्स थे दोस्तो जन्नत से कम नही थे. बूब्स चूस्ते चूस्ते हम 69 की पोज़िशन मे आ गये. एक दूसरे के छूट और लंड को चूसने लगे और हहाा मम्मूम्म अया जैसी आवाज़े निकालने लगे.

ऐसे 20 मिन्स तक चलता रहा, फिर वो मेरे मूह मे ही झार गये और मई उनके.

और कहानिया   कॉलेज मैडम को हवस के चकना चकया

कुछ देर के बाद जब मेरा खड़ा होने लगा तो वो बोली अब मत तर्पाओ जान छोड़ दो प्लीज़…

मई भी बिना देर किए उनके उपर आ गया और अपने लंड को उनके छूट मे सेट किया. एक जोरदार धक्का लगाया जिससे वो तड़प उठे और आआआआः कर के चीखने लगे.. बोली धीरे धिरुए से डालो.. इतने मे ही मैने दूसरा धक्का लगा दिया जिससे उनकी आखो मे पानी आ गया था.

वो गली देने लगे.. अरे मदारचोड़ो फर दी मेरी छूट साले..!

पर मई रुकने वाला नही था और बस छोड़ने मे ही लगा रहा. कुछ समय के बाद मेडम को भी मज़े आने लगे और वो भी मेरे साथ देने लगे.

पूरे 25 मिंट मे वो 3 बार झारे थे, उनकी पूरी बॉडी अकरने लगी थी और तो और पूरा कमरा हमारे सेक्स करने के आवाज़ से गूँज उठा. मेडम आआआआहह उम्म्म्मममहीईई जैसी आवाज़े निकलती ही रहे.. उूउऊँ जान मज़ा आ रा है और ज़ोर से और ज़ोर से करो आआआआः.. इतना मज़ा कभी नही आया था आआआआआः…

मे – काइया लगा मेडम मेरे साथ सेक्स करके, मज़ा तो भूत आया होगा ना?

मा’आम – आज तो भूत मज़ा आ गया, जान इतनी देर तक तो मेरा बाय्फ्रेंड भी नही छोड़ता है जितना तुम छोड़े हो.

मे – अक्चा तो आपका बाय्फ्रेंड भी है?

मेडम – क्यू तुम्हारी कोई गफ़ नही है?

मे – नही.

मेडम – कोई बात नही, मैं हूँ ना.

इतना कह कर वो बोलने लगी-

आज तो पूरी रात नींद नही आएगा तुम्हारी वजह से और हासणे लगे. इतनी देर मे तो मई भी मेडम के छूट मे ही झार गया. मेडम बोलने लगी.. ये क्या किया, अंदर ही क्यू निकल दिया?

मैने बोला सॉरी मेडम जोश मे भूल गया था. वो बोली कोई बात नही मई जाकर डॉवा ले लूँगी.

हम लोग फिर किस करने लगे और फिर मई वाहा से चला गया अपने घर.

अब जब भी मेडम का सेक्स करने का मॅन करता है वो मुझे बुला लेती है. हम लोग आज भी सेक्स करते है, मेडम की तो शादी भी हो गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.