माँ की गांड चुदाई ड्राइवर और दोस्त ने किया

यह कहानी शुरू होती है तबसे जब मेरी मां की

नाभी उनके रण्डी बनने की वजह बनी।जी हां मेरी

मां की उम्र 40 साल है और उनके शरीर का सबसे

कामुक हिस्सा उनकी नाभी है।मेरी मां की नाभी

बहुत गहरी और गोल है जिसे देख कर किसी भी

आदमी का लन्ड तन जाय। मां अपनी साड़ी नाभी

के थोड़ा नीचे पहनती हैं और ज्यादातर उसको

एक्सपोज करती हैं।

।मेरे दोस्त सचिन और अमित

को मेरी मां की नाभी बोहोत पसंद थी और उसे

देखने के लिए अक्सर ही वो मेरे घर आ जाय करते

थे।मेरे दोस्त मेरी मां को चोदना चाहते थे और में भी यही चाहता था।एक दिन में और मेरे दोस्त घर

पर बैठे हुए थे तभी अचानक से मां का पेट दर्द

करने लगा।में समझ गया की मां को चोदने का यह

अच्छा मौका है।मैने मां से कहा कि सचिन बोहोत

अच्छी मालिश करता है वह आपके पेट की

मालिश कर देगा।सचिन का तो जैसे सपना पूरा

होने वाला था मेरी मां की नाभी के साथ खेलने

का।लेकिन यह किसी को नहीं पता था की मां भी

लंड लेने के लिए तड़प रही है।मैने सरसो का तेल

उठा के सचिन को दे दिया और उसने तेल मां की

नाभी में डाल दिया और मां के पेट को मसलने लगा ।मां आंख बंद करके लेटी हुई थी तभी

सचिन ने मां के पेटीकोट को पकड़ के थोड़ा नीचे

खिसका दिया और नाभी के नीचे मालिश करने

लगा।मां की नाभी की गहराई को देखकर अमित

और सचिन दोनों बहुत हैरान थे और बारी बारी से

मां की नाभी में उंगली डाल रहे थे और पेट को

मसल रहे थे।पेट की मालिश करते करते सचिन के

हाथ मां के बूब्स तक पहुंच गए मां सिहर कर उठ

कर बैठ गई तभी अमित ने मां को पीछे से कसकर

पकड़ लिया, मां अपने आप को छुड़ाने की कोशिश

करने लगी लेकिन अमित ने उन्हें कसकर पकड़ा हुआ था।सचिन ने मां को बोल दिया कि वह तीनों

उन्हें चोदना चाहते ।मां ने मुझसे कहा की अब तुम

इतने बड़े हो गए हो की अपनी ही मां को चोदोगे

.मैने कुछ नहीं कहा बस चुपचाप खड़ा रहा और मां

अपने आप को छुड़ाने की कोशिश करती रही।

सचिन ने अपना हाथ मां के ब्लाउज की तरफ बढ़ा

दिया और हुक खोल दिए ।मां के दोनों बूब्स

आजाद हो गए थे और सचिन उनको देखकर

पागल हुआ जा रहा था.मां के बूब्स बोहोत ही बड़े

और कड़क थे जिन्हें एक हाथ से पकड़ना संभव

नहीं था।मां के दोनों बूब्स के बीच में उनका

मंगलसूत्र लटक रहा था जो बोहोत ही कामुक लग

रहा था।सचिन ने अपने दोनो हाथो से मां के स्तनों

को पकड़ लिया और अपने होठ मां के होठों पर

रख दिए।अब मां ने भी छटपटाना बंद कर दिया

था क्युकी वो भी लंड की प्यासी थी । उन्होंने कभी

भी एकसाथ एक से ज्यादा लंड नहीं लिया था और

आज एक साथ तीन लंड मिल रहे थे।हम तीनों ने

अपने कपड़े उतार दिए थे और मां की नजर हम

तीनों के लंड पर थी।मां हम तीनों के सामने सिर्फ

पेटीकोट में खड़ी हुई थीं।मां इतनी ज्यादा सेक्सी

लग रही थी कि मैने अपना मोबाइल निकालकर वीडियो बनाना शुरू कर दिया।सचिन ने मां का

पेटीकोट एक ही झटके में उतार दिया और उनको

घुटनों के बल बिठाकर अपना लंड मां के मुंह में दे

दिया।मां ने सचिन का 7 इंच का लंड अपने मुंह में

पूरा ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी।

मां सचिन के लंड को ऐसे चूस रही थी जैसे मानो

लंड चूसने में एक्सपर्ट हो,और सचिन को अपने

मुंह में 2 मिनट में ही झडवा दिया ।सचिन के बाद

मां ने अमित का और मेरा माल भी लंड चूसकर निकाल दिया।अब समय आ गया था जिस चीज

का इंतेज़ार था ,मां को चोदने का। मां की चूत भी

लंड लेने के लिए बेताब थी।सबसे पहले सचिन ने

मेरी मां की चूत में अपना लंड फसाया ।सचिन

का लंड बोहोत मोटा था और मां की चूत में घुस

नहीं रहा था सिर्फ टोपा अंदर जा रहा था तो मां ने

उसका लन्ड चूसकर गीला कर दिया और सचिन ने

एक ही झटके में अपना मोटा लंड पूरा मां की चूत

में डाल दिया।मां की चीखें निकल गई और जोर

जोर से चिल्लाने लगी सचिन मां की चूत में झटके

पर झटके दिया जा रहा था और बहुत स्पीड से लंड अंदर बाहर कर रहा था,मां बार बार कह रही

थी सचिन आराम से चोदो,मुझे बोहोत दर्द हो रहा

है में तुम्हारी मां जैसी हूं लेकिन सचिन कहा रुकने

वाला था उसे तो आज वो चूत मिली थी जिसका

वह दीवाना था,तभी अमित ने अपना लन्ड मां के

मुंह में दे दिया और उनका मुंह चोदने लगा और में

मां के स्तन दबाने लगा।सचिन ने चोदने की गति

और बढ़ा दी और थोड़ी देर बाद मां की चूत में ही

झड़ गया। अब मां की चूत फाड़ने की बार अमित

की थी।अमित का लंड सचिन से थोड़ा बड़ा था

शायद 8 इंच का होगा।अमित ने मां के दोनो पैर उठाकर अपने कंधों पर रख लिए और एक ही

झटके में अपना लन्ड मां की चूत में डाल दिया।मां

की चूत गीली हो चुकी इसीलिए अमित का लंड

आसानी से मां की चूत में पूरा चला गया और

अमित बोहोत ही तेज गति से मां को चोदने लगा।

अब मां को बोहोत मजा आने लगा था और मां

कह रही थी आज मुझे चोद चोद कर रण्डी बना दो

अमित ने  10 मिनट चोदने के बाद मां को

doggystyle में चोदना शुरू कर दिया ।मां की

 

बड़ी गान्ड देखकर अमित का मन मां की गान्ड

मारने का करने लगा ।अमित ने मां की गान्ड मारने की कोशिश की लेकिन मां ने अमित को गान्ड नहीं

मारने दी। मां जानती थी इसका इतना बड़ा लंड

गान्ड में चला गया तो हालत खराब हो जाएगी ।

और कहानिया   मेरी माँ का सेक्स मसाज सेंटर

1 हफ्ते ठीक से चलते नहीं बनेगा।अमित का मेरी मां

की गान्ड मारने का सपना पूरा नहीं हो पाया और

उसने अपना सारा वीर्य मां की चूत में ही निकल

दिया और अपना लन्ड मां के मुंह में डाल दिया

और मां ने चूसकर उसके लन्ड को साफ कर दिया।

अब मां को चोदने की बारी मेरी थी,मैने मां को

खड़ा हो कर झुकने के लिए बोला।मां टेबल पकड़

कर झुक कर खड़ी हो गई ।मेरा लन्ड भी 7 इंच का है लेकिन सचिन से थोड़ा मोटा है ।मैनें पहले

अपना टोपा मां की चूत में डाला और फिर एक

झटके में पूरा लन्ड अन्दर कर दिया और मां को

चोदना शुरू कर दिया ।मां जोर जोर से चिल्ला रही

थी और कह रही थी बेटा अपनी मां को आराम से

चोद में तेरी मां हूं ।मैने कहा कि अब तू रण्डी बन

चुकी है और हम सब तुझे रण्डी की तरह ही चोदेंगे।

20 मिनट तक चोदने के बाद मैने मां को

लेटने के लिए कहा और मां को ऊपर चढ़ कर

चोदना शुरू कर दिया ।थोड़ी देर बाद जब में

झड़ने वाला था तो मैने अपना लन्ड बाहर निकाल झड़ने वाला था तो मैने अपना लन्ड बाहर निकाल

दिया और अपना सारा वीर्य मां की नाभी में डाल

दिया ।मां की गहरी नाभी में मेरा पूरा वीर्य समा

गया।हम सभी लोग इस बात से अनजान थे कि

ड्राइवर खिड़की पर खड़ा हो कर हमारी वीडियो

बना रहा था।

ड्राइवर को भी मां की नाभी बोहोत पसंद थी ।मैने

कई बार उसको मां की नाभी को घूरते हुए देखा

था।

मां को चोदने के 3 दिन बाद जब हम घूमने जा रहे थे तो ड्राइवर ने मुझसे कहा कि तुम्हारी मां बोहोत

सेक्सी माल है में उसे चोदना चाहता हूं।मैने उससे

कहा कि अब कभी ऐसा कहा तो तुम्हारी नौकरी

चली जाएगी तो उसने हमारी वीडियो निकाल कर

बता दी।उसने कहा कि अगर तुमने अपनी मां को

मुझसे नहीं चुद्वावाया तो में सबको बता दूंगा।अब

हमारे पास कोई ऑप्शन नहीं था शिवाय मां को

ड्राइवर के साथ सुलाने के।हमने उससे कह दिया

कि अगली बार जब भी हम लोग मां को चोदेगे

तब तुम्हे भी बुला लेंगे।

7-8 दिन बाद सचिन और अमित का लंड फिर से मां को चोदने के लिए मचलने लगा और वो लोग

घर आ गए ।मां को भी इसी का इंतेज़ार था।हमने

मां को बताया की ड्राइवर को सब पता चल गया है

और वो भी आपको चोदना चाहता है।मां पहले तो

तैयार नहीं हुई लेकिन बोहोत मनाने के बाद मान

गई।हमने ड्राइवर को भी बुला लिया। मां पेटीकोट

और ब्लाउस में बैठी हुई थी और ड्राइवर का

इंतेज़ार कर रहीं थीं,थोड़ी देर में ड्राइवर आ गया

और आते ही मां को पीछे से कसकर पकड़ लिया

और उनका पेट मसलने लगा ।उसने अपनी बीच

की उंगली मां की नाभी में घुसा दी और अन्दर बाहर करने लगा और मुझसे वीडियो बनाने के

लिए बोला।मैने अपना मोबाइल निकाला और

ड्राइवर और मां की वीडियो बनाने लगा।मां की

नाभी इतनी गहरी थी कि ड्राइवर की आधी उंगली

मां की नाभी में समा गई।ड्राइवर ने मां के कपड़े

उतारकर उन्हें नंगा कर दिया और लिटा दिया।

ड्राइवर के दोनो हाथ मां के स्तनों को दबा रहे थे

और उसकी जीभ मां की नाभी में थी।ड्राइवर मां

की नाभी चूस रहा था और स्तनों को दबा रहा था

और मां आंख बंद करके लेटी हुई सिसकारियां ले

रही थी और में उन दोनो की वीडियो बना रहा था। सचिन और अमित लंड पकड़कर अपनी बारी का

इंतजार कर रहे थे।मां की नाभी का रस निकालने

के बाद ड्राइवर ने मां से नाचने के लिए कहा और

आइटम सोंग बजाने लगा।अब मां हम लोगो के

सामने नंगी नाच रही थी ।। घंटे नाचने के बाद मां

थक गई और थोड़ी देर रेस्ट किया।उसके बाद

सभी लोगो ने अपने कपड़े उतार दिए।ड्राइवर का

लंड देखकर सभी लोग चौंक गए क्युकी उसका

लंड ।। इंच का था और काफी मोटा और गोल

था।उसके लन्ड को देखकर मैने सचिन और अमित

से कहा कि आज तो मां कि चूत फटने वाली है

लेकिन किसे पता था कि आज मां की चूत ही नहीं

गान्ड भी फटने वाली है।

उसका लंड देखकर तो मां को चक्कर आने लगे

और वो कहने लगीं की में इसका लंड नहीं लूंगी

मेरी चूत फट जाएगी लेकिन ड्राइवर आज कहा

रुकने वाला था ।जितनी गहरी मां की नाभी थी

उससे ज्यादा बड़ा तो ड्राइवर के लंड का टोपा था।

ड्राइवर आगे बढ़ा और अपना 11  इंच का लंड मां

के मुंह में फसा दिया।मां धीरे धीरे उसके लंड को

चूसने लगी ।पूरी कोशिश करने के बाद भी वो

उसके लंड को आधा ही ले पा रही थी अपने मुंह में।करीब  0 मिनट तक ड्राइवर ने मां के मुंह को

चोदा और लगभग 9 इंच लंड ही मां अपने मुंह में

ले पाई। अब ड्राइवर अपनी सबसे पसंदीदा जगह

नाभी पर पहुंच गया और अपना लंड मां की गहरी

नाभी में डालने की कोशिश करने लगा।उसका

सिर्फ टोपा ही मां की नाभी में जा पाया और उसने

अपना सारा वीर्य मां की नाभी में ही भर दिया।

उसके लन्ड से इतना वीर्य निकला कि मां की नाभी

पूरी भर गई और वीर्य ऊपर से बहने लगा ।मां ने

कपड़े से वीर्य साफ किया ।अपनी नाभी में वीर्य

देखकर मां बोहोत उत्तेजित हो गई थी।

ड्राइवर ने कहा आजा मेरी रानी आज तेरी चूत को ऐसा

चोदूंगा की रण्डी बन जाएगी,मां ने कहा आजा मेरे

राजा आज मेरी चूत की प्यास बुझा दे।ड्राइवर ने

मां को लेटने के लिए कहा और उनकी टांगे

उठाकर अपने लंड का टोपा उनकी चूत पर रख

दिया।मां पहली बार इतना बड़ा लंड अपनी चूत में

ले रही थी।ड्राइवर ने एक ज़ोर का झटका दिया

और अब उसका आधा लंड मेरी मां की चूत में

और कहानिया   सुहागरात में होगयी मेरी चुत का भोसड़ा

था।मां जोर से चिल्ला उठी विकास (ड्राइवर का

नाम) बाहर निकाल नहीं तो चूत फट जायेगी।

ड्राइवर ने अपना लंड बाहर निकाला और अचानक

से और बड़ा झटका दिया अब उसका 8 इंच लंड

मां की चूत में समा गया था ,मां की हालत खराब

हो रही थी और मां जोर जोर से चिल्ला रही थी

बेटा अपनी मां को बचा लो नहीं तो ये ज़ालिम

आज मार डालेगा ,इतना बड़ा लंड में नहीं ले

पाऊंगी।लेकिन ड्राइवर रुकने का नाम ही नहीं ले

रहा था मां को चोदे ही जा रहा था और थोड़ी ही

देर में उसका पूरा 11 इंच का लंड मेरी मां की चूत

में घुस चुका था और मां चिल्ला रही थी विकास

मुझे छोड़ दो आज के बाद में किसी से नहीं

chudwaungi मुझे छोड़ दो मेरी चूत में इतना बड़ा लंड डाल दिया मां का बदन टूट रहा था,चूत

फट रही थी लेकिन ड्राइवर अपनी ही मस्ती में मां

को बोहोत तेज चोद रहा ।सब लोग बस खड़ा हो

कर तमाशा देख रहे थे में वीडियो बना रहा था।पूरा

कमरा विकास विकास कि आवाज से गूंज रहा

था।आज मां की वो चुदाई हो रही थी जो उन्होंने

कभी सोची भी नहीं थी।करीब 20 मिनट चोदने के

बाद ड्राइवर लेट गया और मां से अपने लंड के

ऊपर बैठने के लिए कहा।अब मां को भी मजा

आने लगा था।मां उठकर उसके लंड पे जाकर बैठ

गई ,इस बार मां ने वही ।। इंच का लंड एक बार में ही पूरा ले लिया था और उछल उछल कर चुद

रहीं थी और लपक कर पूरा लंड अपनी चूत में ले

रहीं थीं और अब उन्हें ड्राइवर से चुदने में बोहोत मजा आ रहा था.

था।मां के बड़े स्तन हवा में उछल रहे

थे और ड्राइवर उन्हें पकड़ने की कोशिश कर रहा

था और मां बड़े मजे से लंड ले रही थी लेकिन उन्हें

नहीं पता था कि आगे जो होने वाला है वो उन्हें

जिंदगी भर याद रहेगा।

लगभग 10 मिनट चोदने के बाद ड्राइवर ने मां को

झुककर खड़े होने के लिए कहा ।मां को मजा आ रहा था मां टेबल पकड़कर झुककर खड़ी हो गई

और ड्राइवर खड़ा हो कर उन्हें चोदने लगा ।चोदते

चोदते उसने मां की गान्ड के छेद पर थूक लगा

दिया और अपना लंड मां के गान्ड के छेद पर रख

दिया। जिससे पहले मां कुछ समझ पाती ड्राइवर ने

एक जोर का झटका दिया और उसका आधा लंड

मां की गान्ड में घुस गया।मां की चीख निकल गई

और वो कहने लगी विकास तुम्हे मेरी कसम है

अपना लंड मेरी गान्ड से बाहर निकालो में मर

जाऊंगी मेरी गान्ड फट जायेगी लेकिन ड्राइवर ने

एक झटका और दिया और मां के आंसू निकल

गए।मां ने मुझसे कहा बेटा आज मां की गान्ड

फटने से बचा ले में तेरी मां हूं मेरी चूत मरवा दे

लेकिन मेरी गान्ड बचा ले ।ड्राइवर को मां के ऊपर

बिल्कुल भी दया नहीं आ रही थी वो तो बस मां की

गान्ड में लंड अंदर बाहर कर रहा था।जो काम

अमित नहीं कर पाया था वो काम ड्राइवर ने कर

दिया और लगभग | घंटे तक मां की गान्ड मारी।

मां की गान्ड बोहोत टाईट थी और चूतड़ बोहोत

बड़े थे । ड्राइवर को मां की गान्ड मारने में बोहोत

मजा आ रहा था और मां की गान्ड खुल चुकी थी

सबके लिए और मां को भी गान्ड मरवाने में मजा आने लगा था।ये वही मां थीं जो किसी का लंड

अपनी गान्ड में टच भी नहीं होने देती थी और

आज || इंच का लंड पूरा अपनी गान्ड में उछल

उछल कर ले रही थी।

अब अमित को भी मौका मिल गया था मेरी मां की

गान्ड मारने का और ड्राइवर के बाद उसने भी

लगभग | घंटे मां की गान्ड मारी।

मां की इतनी भयंकर चुदाई देखकर मेरा भी मन

मां की गान्ड मारने का करने लगा । मां ने मुझसे कहा बेटा आज इन सबने तो मेरी गान्ड मार ली

और तूने मुझे बचाया भी नहीं अब तू भी अपनी मां

की गान्ड बजा ले और इन चूतड़ों पर कुछ झटके

मार दे।मैने अपना मोबाइल सचिन को दे दिया

वीडियो बनाने के लिए और अपना लंड मां की

गान्ड में फसा दिया और जी भरकर मां की गान्ड

मारी।लेकिन जितना मजा मां को ड्राइवर से गान्ड

मरवाकर आया उतना मजा हम तीनो नहीं दे पाए।

मेरे बाद सचिन ने भी मां की बोहोत गान्ड मारी।मां की गान्ड मरवाते हुए मुझे बोहोत मजा आ रहा था तभी ड्राइवर को बोहोत जोर से टॉयलेट लग आयी और वह वॉशरूम की तरफ जाने लगा तो मैने कहा वॉशरूम क्यों जा रहे हो मेरी रण्डी मां के ऊपर ही मूत दो।यह सुनकर सभी हसने लगे और मां ने कहा बस बेटा अब ये और करवा लो।ड्राइवर ने मां को नीचे लेटने के लिए बोला और मां भी नीचे लेट गई क्युकी आज वह बोहोत खुश थी।ड्राइवर ने मेरी मां के ऊपर बोहोत देर तक मूता और उसकी नाभी को अपने मूत से भर दिया और मां को अपने मूत से पूरा गीला कर दिया। तब तक अमित को भी टॉयलेट लग आई थी ,उसके दिमाग में कुछ idea आया और उसने मां से अपना लंड चूसने के लिए बोला।जैसे ही मां ने उसका लंड अपने मुंह में लिया अमित ने उनके मुंह में ही मूत दिया और मां को उसका सारा मूत पीना पड़ा। सचिन ने मां की चूत में अपना लंड डाल कर मूता और मैने मां की गान्ड में मुता।

इस चुदाई के बाद मां से एक हफ्ते तक ठीक से चलते नहीं बना। तो आप लोगो ने देखा केसे एक नाभी के छेद से मां की गान्ड के छेद तक का सफर। अगले पार्ट में आप लोगों को पता चलेगा केसे मेरे मुस्लिम दोस्त ने ड्राइवर से भी बड़े लंड से मेरी मां की गान्ड मारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *