मा की चुत मे पड़ोसी का पानी भाग 2

अगले दिन जब मे सूभ उठा तो मम्मी ने बोला जल्दी फ्रेश होज़ा, मेहमान आने वेल है नाश्ता करने (असीम अंकल के बारे मे).

मैने ठीक है बोला और जल्दी फ्रेश होके आ गया और रेडी हो गया. आज मम्मी ने क्या कपड़े पहने थे, क्या नज़ारा था वो. मम्मी ने सूट सलवार पहनी थी.

वो सूट सलवार बहोट टाइट थी और जो सलवार थी वो स्किन कलर की थी. ऐसा लग रहा था की मम्मी ने नीचे कुछ पहना ही नही है. नीचे कुछ नही है ऐसा दिख रहा था इतनी टाइट थी की मम्मी की गांद एकदम उठी लग र्ही थी. और बूब्स तो ऐसे की जैसे ज़बरदस्ती डाले हो और क्लेवगे तो बहोट ज़्यादा, जैसे पॉर्न स्तर के होता है वैसे दिख रहे थे.

मे तो मम्मी को देखता ही रह गया. ऐसा लग रहा था जैसे यह ड्रेस मम्मी बहोट दीनो बाद पहन रही है.

फिर कुछ देर बाद अंकल, उनका बेटा और अंकल के पापा आए. मैने उन्हे गुड मॉर्निंग बोला और अंदर आने को बोला. तो अंकल ने भी मुझे गुड मॉर्निंग बोलके अंदर आए.

अंकल – और बेटा कैसे हो?

मे – ठीक हूँ और आप बताओ?

अंकल- मे भी ठीक हूँ, मम्मी कहा है आपकी?

मे- वो नाश्ता बना रही है.

फिर मम्मी आई और उन्होने सब का वेलकम किया. अंकल तो मम्मी को देख के सॉक हो गये. उन्हे यकीन ही नही हुआ की क्या देख लिया सुबा सुबा. अंकल धोती कुर्ता मे थे.

मम्मी – और कैसे रही आप लोगो की रात?

अंकल – कुछ ख़ास अची नही.

मम्मी – हन वो नयी जगह है इसलिए.

अंकल – हन.

मम्मी – चलिए अब नाश्ता कर लेते है.

अंकल- जी ज़रूर.

फिर मम्मी ने सबको डाइनिंग टेबल पे बेत्ने को बोला. अंकल के फादर स्टार्टिंग चेर पे भेठ़ गये हमारे. अंकल मेरे रिघ्त मे भेठ़ गये और लेफ्ट मे अंकल का बेटा भेठ़ गया.

हमारे डाइनिंग टेबल मे सिर 4 ही लोगो की जगह है. मम्मी आई और वो बोली की जगह तो फुल हो गयी. फिर अंकल ने अपने बेटे को बोला की तू मेरे पास आ लेकिन वो नही गया. तो मम्मी ने बोला कोई बात नही.

मम्मी अंकल के बेटे को – अछा आप मेरे गोड मे बेत जाओ.

और कहानिया   आखिर मैंने भी चुदाई का मज़ा लिया

अंकल का बेटा मान गया तो मम्मी अंकल के सामने बेत गयी. सबने खाना लिया लेकिन अंकल का बेटा खाना नही खा रहा था. तो मम्मी ने पूछा आप नही खाओगे क्या?

तब अंकल ने बोला जी यह अभी भी अपने मम्मी का दूध पीटा है, मे इसके लिए बॉटल ली थी दूध वाली लेकिन इसने वो टॉर दी.

मम्मी – बेटा खाना खा लो मम्मी का दूध बाद मे पे लेना.

अंकल का बेटा – नही मुझे दूध पेना है.

मम्मी – लेकिन बेटा आपकी मम्मी अभी यहा नही है.

अंकल का बेटा – नही मुझे मम्मी का दूध पेना है.

मम्मी – आपकी मम्मी जब मिलेगे तब पे लेना, अभी आप किसका पीओगे?

अंकल का बेटा – आपका पीऊंगा.

सब ये सुनके सॉक हो गये की क्या बोल डेया इसने .

फिर अंकल – बेटा तू मार खाएगा, क्या बोल रहा है आंटी को, सॉरी बोलो आंटी को!

मम्मी अरे कोई बात नही बचा है .

मम्मी – बेटा मेरा दूध नही आता है.

अंकल का बेटा – नही आपका भी आता होगा, आपके तो मेरे अम्मी से बड़े है दॉढ़ू आपके दूधु मे ज़्यादा दूध होगा, मुझे पेना है.

मम्मी यह सुनके शॉक हो गयी. अंकल का बेटा जिध करने लगा और रोने लगा तेज तेज से. मम्मी को बुरा और वो बोली ठीक है पे लेना. और मम्मी अंकल के बेटे को अंदर ले गयी रूम मे.

फिर थोड़ी देर बाद वो आई अंकल के बेटे को लेके. अंकल का बेटा बोला – अबू इनके दूधु से दूध नही निकल रहा आप अम्मी वाला इलाज करो ना जो आप करते हो.

मम्मी यह सुनके सोचने लगी की कोसना इलाज. तब मम्मी ने पूछा कॉन्सा इलाज? अंकल ने बोला जी कुछ नही यह ऐसे ही बोल रहा है.

फिर अंकल के फादर खाना खा के उपर चले गये थे इसलिए हम 4 ही थे.

अंकल का बेटा – नही मे झूठ नही बोल रहा. जब मम्मी को दूध नही आता तो अम्मी अपने कपड़े उतार के लेट जाती है और पापा अम्मी के पैरों के बीच मे अपना सस्यू डालते है और दूधु चूस्ते फिर वो आने लगता है. यह सुनके सब के सब सॉक हो गये.

और कहानिया   दो बहनो की चुदाई वो दोनों थी मेरी मुँहबोली साली दिल्ली में

और अंकल अपने बेटे को डाँटने लगे और उपर ले गये.

मे भी सोचने लगा की अंकल अपने बेटे के सामने यह सब करते है.

फिर रात को सब डिन्नर पे आए और मम्मी सेक्सी निघट्य मे थी जो उन्होने रात हो पहनी थी. सबने खाना खाया और अंकल के फादर उपर चले गये.

हम सब बाते करने लगे तब मैने लस्ट स्टोरी नाम की वेब सीरीस लगा दी नेत्फलिक्ष पे. वो एकदम सेक्स वेब सीरीस थे. सब देखने लगे, उसमे इतने बोल्ड सीन थे की अंकल और मम्मी हर सेक्स सीन मे एक दूसरे को देखने लगते.

फिर तकरीबन 12:00 बजे वो वेबसेरीएस ख़तम हुई. तभी अंकल का बेटा ने मम्मी को अम्मी बोला. अम्मी मुझे सस्यू आई है करा दो.

अंकल – चलो बेटा मे करा दूं.

नही अम्मी करएगी. तब मम्मी उसे लेके गयी सस्यू करने. मे भी गया तब मैने देखा मम्मी ने उसका पेंट खोला. तो मैने उसके लंड को देखा वो मोटा और लंबा था मेरे से और उसका टोपा भी नही था. मम्मी भी देख के हेरान रह गयी.

फिर वो आए और अंकल ने कहा चलो बेटा सोने.

अंकल का बेटा – नही अब्बू यही सोते है अम्मी के पास, आप भी सू जाओ ना अम्मी के साथ. वैसे भी घर पे भी तो आप और मम्मी साथ सोते थे. अंकल का बेटा जिध करने लगा और अंकल को यही सोना पड़ा.

मम्मी ने बोला कोई बात नही जब यह सो जाएगा तब आप ले जाना. मम्मी ने मुझे सोने को कहा और अंकल मम्मी और अंकल का बेटा मम्मी के रूम मे चले गये. मे थोड़ी देर बाद मम्मी के रूम के के होल से देखा .

अंकल का बेटा – पापा आप धोती ुअतर दो घर पे भी आप ऐसे ही सोते हो. वो जिध करने लगा तो अंकल ने उतार दी. अंकल अब अंडरवेर मे थे जिसमे उनका लंड सॉफ सॉफ पता चल रहा था.

फिर मम्मी लेफ्ट साइड और अंकल रिघ्त साइड लेट गये. अंकल का बेटा – मम्मी दूधु निकालो पीना है. लाइट ऑफ नही थी, टेबल लॅंप ओं थी लेकिन उतनी रोशनी नही थी उसकी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.