लिफ्ट के बदले में चुत मिला

उसकी वाइट पेंटी जो अब तक पूरी गीली हो चुकी थी, वो निकल दी और साथ में ही उसकी पीठ पर हाथ फेरते हुए, उसकी ब्रा का हुक भी भोल दिया. अब उसने मेरी पेंट और अंडरवियर निकाला. तो वो एकदम खुश हो गयी और मेरे लंड को चूमने लगी और मैने पूछा – क्या हुआ? तो वो बोली – आज मज़ा आएगा, तुम्हारा मेरे पति से बड़ा है यार. वो ब्लो जॉब करने लगी, मैं उसकी बॉडी पर हाथ फेर रहा था और बोल रहा था, खा जा पूरा दर्लिन्गग्ग्गग्ग्ग्ग पूरा का पूरा अहहहः और लंड चूस-चाट कर पूरा चिकना कर दिया. अब मैने उसको ऊपर खीचा और हॉट किस करने लगा. अब मैने बोला – मुझे तुम्हारा दूध चुसना है. वो बोली – आओ ना राजा, तुम्हे मना थोड़ी करुँगी. और मैने जैसे ही चूसने गया, तो उसने मुझे रोक दिया और बोली – वेट और फिर जाके फ्रिज में से आइसक्रीम लेके आई और उसके अपने बूब्स पर डाल दी और बोली – चलो मेरे बेबी,सारा चाट जाओ और खा जाओ मेरे बूब्स को. मै उसे बाईट कर करके चुसना चाटने लगा.

वो बहुत एक्साइट हो चुकी थी तो मै उसके निप्पल को अपनी जीभ से चाट रहा था और उसकी चूत के दाने को भी रब कर रहा था. वो मेरा मुह दबा-दबा के बूब्स चुसवा रही थी. थोड़ी देर उसने अपना बहुत सारा पानी छोड़ दियाऔर वो मुझे बोली – तूने तो मुझे इतने में ही सेटइसफाई कर दिया. मैं बोला – अभी तो बहुत कुछ बाकी है मेरी जान. फिर मैने अपना लंड उसके मुह में दे दिया और उसके ऊपर भी आइसक्रीम लगा दी और वो फुल्ली एन्जॉय करके मेरे लंड को चूस रही थी और मै उसके बूब्स और गांड बारी-बारी से प्रेस कर रहा था. अब मेरा भी निकलने वाला था. तो मैने उसको बोला – मेरा निकलने वाला है. वो बोली – मेरे मुह में ही निकाल दो पूरा. और वो फ़ास्ट हिला-हिलाकर चूसने लगी. मैने उसके बूब्स को मसल डाला और मेरा पूरा माल उसके मुह में छोड़ दिया और उसने एक ड्राप भी वेस्ट किये बिना पूरा चाट लिया. अब तक ९ बज चुके थे. फिर मैने उसे किस और वो बोली – आज की रात यहीं रुक जाओ, पूरी रात चुदाई करेंगे.

मैने बोला ठीक है डार्लिंग पर अभी मुझे अपने रूम पर जाना पड़ेगा और फ्रेंड को कुछ बहाना बताके आऊंगा, तेरी चूत और गांड मारने. इस बात में मैने फिर से उसके बूब्स मसल डाले और वो बोली ठीक है, मैं इंतज़ार करुँगी. फिर मैने कपडे पहने और उसे एक लोंग किस किया और हग करके अपने रूम पर चले गया.

और कहानिया   खुले में चुत का गैंगबैंग 1

मैं रात को उसके घर से अपने रूम के लिए निकल गया. उसने बोला था. कि तुम कहीं डिनर मत केर लेना. मै बनाकर रखूंगी और जल्दी आना, तो मैं अपने रूम पर आया और फ्रेश होकर अपने रूममेट को बोल आया – किसी काम से बाहर जा रहा हु, कल शाम तक वापस आऊंगा और मैने नेक्स्ट डे के ऑफिस के लिए कपडे भी ले लिए और निकल पड़ा.

रास्ते में मैने मेडिकल शॉप से २ पैकेट कंडोम के ले लिए और ४ सिल्क चॉकलेट ओर ये सब करते, मैं रात को १०:३० बजे उसके घर पर पंहुचा. मैने डोरबेल बजायी, तो उसने पूछा कौन है? मैं बोला – किंजल हु और उसने दरवाजा खोला, तो मेरे तो होश ही उड़ गये. वो सिर्फ नाईटइ में थी. वो उसकी गांड तक की थी और देख कर ही पता चल जाता था, कि उसने अन्दर कुछ भी नहीं पहना था. उसका फिगर ही ऐसा था, कि उसकी कोई भी चीज़ उसमे से छुपी नहीं रह सकती थी. मैं उसे देखे ही जा रहा था तो वो बोली – अन्दर आ जाओ. मैं अन्दर गया और वो जैसे ही डोर बंद करके मुड़ी, मैने एकदम ही हमला कर दिया और उसको डोर पर ही लगाकर किस करने लगा और साथ ही साथ उसके बूब्स मसलने लगा. वो बहुत मोअनींग कर रही थी अहहहहः अहहहः ऊऊऊऊ खा जाओ मुझे आज रात .. ऊऊऊ …आज की रात मुझे मस्त चोदना किंजल …. अहाहहः

ये सब सुनकर मैं भी जोश में आ गया था और उसकी जीभ मैने अपने मुह में ली और चूसने लगा. उसने अपने हाथ को मेरी पेंट में डाल दिया और मैने भी उसकी ड्रेस को कंधो पर से सरका दिया. उसकी ड्रेस अब उसके बूब्स पर थी. मैने अब अपनी जीभ उसके मुह में डाल दी. वो क्या मस्ती में उसको चूस रही थी. अब मैने उसकी ड्रेस को उसके बूब्स पर से नीचे सरकाई, तो वो पूरी नीचे गिर गयी. मैं उसके बूब्स को बहुत जोर से मसलने लगा. इतना मसलने लगा, कि उसने मेरी जीभ को थोडा सा काट लिया और अब हमने करीब २० मिनट तक किस किया. फॉर वो बोली – चलो मैने तुम्हे खाना नहीं है. मैने बोला – डार्लिंग, मन कर रहा है, कि तुझे खा जाऊ. तो वो हँसने लगी और बोली – अच्छा बाबा, मुझे जो चाहो वो करना; पर पहले खा लो. तुम्हारे लिए मैने कितने प्यार से बनाया है. फॉर वो ऐसे ही नंगी किचन में गयी और मुझे सोफे के पास छोटे टेबल लाने को बोली. मैं टेबल ले आया और फिर वो सारी चीज़े लायी और प्यार से अपने हाथो से खिला रही थी.

और कहानिया   ये क्या होरहा है

उसने पनीर की सब्जी बनायीं थी और साथ में स्वीट में गुलाबजामुन भी बनाये थे. वो मुझे खिला रही थी और मैं उसकी पीठ, उसके बूब्स, उसकी कमर, जांघे, मुह, होठ, चूत सब पर हाथ फिरा रहा था, जैसा की मैने पहले बताया था. वो मुझे जानती थी और मैं ये बात नहीं जानता था. वो मुझे बोली – मैंने तुम्हारी बॉडी पहले भी देखी हुई है, मैं थोडा सा चौका, तो वो बोली – तुम जहा रहते हो, उसके सामने वाले फ्लेट में मेरी स्कूल की फ्रेंड रहती है. कल जब मैं उसको स्कूल के लिए लेने गयी थे, तो मैने तुमको वहां देखा था. तुम तभी-तभी नहाकर निकले थे और सिर्फ टॉवल में ही थे और कपडे सुखा रहे थे. इसलिए मैने तुमसे लिफ्ट ले ली थी. वरना मैं हर किसी लिफ्ट थोड़ी लेती हु. तो मैने उसको बोला – वही बता देना था, वरना वहीँ चोद देता था. फिर मैने एक गुलाबजामुन उठाया और उसकी चाशनी उसके दूध पर लगा दिया और उसको चाटने लगा. उसके निप्पल एकदम कड़े हो चुके थे और उसकी चूत अभी से गीली हो चुकी थी.

वो बोली – अब रहा नहीं जा रहा है. मैने थोडा सा पानी पिया और उसे वही सोफे पर लिटा के उसके ऊपर आ गया और उसको किस करने लगा. वो मेरी बेक पर हाथ फिरा रही थी और मेरे बम्म भी दबा रही थी. अब मैं सीधा हो गया और वो समझ गयी और मेरे लंड पर गुलाबजामुन वाली चाशनी लगाकर चाटने लगी और उसने अपने थूक से पूरा लंड चिपचिपा कर दिया. वो मेरे लंड को अपने मुह में पूरा लेने की ट्राई कर रही थी, लेकिन मेरा लंड पूरा अन्दर नहीं जा रहा था. एक दो बार तो वार्मइट जैसा हुआ, फिर भी उसने मेरा लंड चाटना नहीं छोड़ा. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था आआआआ ऊऊऊओ. अब मैने कंडोम निकाल लिया. वो मुस्कुराई और बोली – इससे क्यों लाये. मैने कहा – पगली, अभी तुझे माँ थोड़ी बनाना है. तो वो जोर से हँसने लगी और कंडोम लगा कर मेरे लंड के ऊपर चड़कर बैठ गयी. जैसे-जैसे मेरा लंड उसकी चूत में जाता, वो जोर से चिल्लाने लगती थी. मैने सामने उसके बड़े-बड़े बूब्स थे. मैं उनको मुह में लेकर चूसने लगा और उसे और भी एक्साइट कर दिया. उसके निप्पल पर बहुत जोर से जीभ से चाटने लगा और उसने मेरा पूरा लंड अन्दर ले लिया.

Pages: 1 2 3