चूत की चुदाई कहानी मेरी ज़ुबानी

ही, मेरा नाम अंजलि है, उमर 32 साल, रंग गोरा, फिगर 38″30″38″, हाइट 5’4″, हेर लोंग, हेर कलर ब्लॅक, आइ कलर ब्लॅक, फेस शेप रौंद, आइ शेप मोनॉलिड, नोस शेप स्नब टाइप, लीप शेप शार्प, बूब्स शेप साइड सेट , हिप शेप चब्बी, पुसी शेप वेट (डब्ल्यू) टाइप, आस शेप रौंद, पुसी साइज़ 2.5 इंच और फुल्ली क्लीन शेव्ड.

शू साइज़ 8″, फॅवुरेट फुड केला, फॅवुरेट डिश चिकेन बिर्यानी, फॅवुरेट कलर रेड, फॅवुरेट ड्रेस सलवार कमीज़. मेरी हॉबीस- घूमना-फिरना, मौज मस्ती करना और सेक्स करना. मेरा सेक्स स्टॅमिना 15 मिनिट है और लंड साइज़ मुझे 9 इंच पसंद है. लंड का स्टॅमिना 15 से 25 मिनिट पसंद है.

ये कहानी आज से 10 साल पहले मेरी चुदाई से शुरू हुई थी. अब तक मई बहुत सारे लंड अपनी छूट और गांद मे ले चुकी हू. मेरे अंदाज़े से, मैने अब तक 76 लंड लिए होंगे अपनी छूट और गांद मे. और वो कैसे-कैसे लिए, आज मई आप सब को बताने वाली हू.

अब मई अपनी फॅमिली के बारे मे बता डू मेरे घर मे मों, भाई, भाभी, मई और रिंकू है, और एक मेरी बड़ी सिस्टर है रिया.

वैसे मेरे दाद ने दो शादी की थी. मेरी बड़ी मों से विकास भैया है और मेरी मों से मई और रिया दीदी है. और वैसे विकास भैया और रिया दीदी की शादी मेरी शादी से 2 साल पहले हुई थी.

वैसे मई एक ओपन माइंडेड गर्ल हू और मई अपनी दीदी से भी बिल्कुल ओपन थी. वो मुझसे हर बात शेर करती थी और मई उनसे अपनी. अब मई अपनी और अपने फॅमिली मेंबर्ज़ का बीॉदाता बता देती हू.

मई अंजलि, उमर 22 साल, फिगर 34″28″34″ कप (द). काजल भाभी, उमर 23 साल, फिगर 32″28″32″. रिया दीदी, उमर 24 साल, फिगर 34″28″34″ कप (ब). विकास भैया, उमर 26 साल , लंड 7 इंच.

हमारी लाइफ मस्त चल रही थी. हमारे घर मे 2 कमरे, किचन, बातरूम और तोड़ा आयेज एक हॉल था. मई और दीदी और मा एक कमरे मे सोते थे और दूसरे कमरे मे विकास भैया सोते थे. सब ठीक चल रहा था.

और कहानिया   मेरी माँ ने मुझे लेस्बियन सेक्स का मजा दिया

लेकिन फिर एक दिन रिया और विकास के लिए रिश्ता आया. वो मेरे मामा जी लेकर आए थे.
वैसे वो दोनो भाई-बेहन थे, जिनका रिश्ता आया था और मेरे यहा भी विकास और रिया भाई-बेहन थे.

तो रिश्ता हो गया. जीजू का नाम राजू था और भाभी का नाम काजल. वैसे काजल भाभी काफ़ी मॉडर्न लग रही थी और सेक्सी भी. मेरी उनसे काफ़ी बनेगी, ऐसा मुझे लग रहा था.

राजू जीजू भी काफ़ी हॅंडसम लग रहे थे. उनकी नज़र मेरी तरफ काफ़ी थी. फिर दोनो जोडियो की माँगनी की डटे पक्की हो गयी थी, और हम सब बहुत खुश थे. माँगनी वाले दिन अचानक जीजू ने मुझे प्रपोज़ किया-

जीजू: अंजलि ई लोवे योउ. क्या तुम मुझसे शादी करोगी? तुम मुझे बहुत पसंद हो.

मई: ई आम वेरी सॉरी जीजू. मई आपसे लोवे नही करती और ना ही आपसे शादी कर सकती हू.

जीजू: इट’स ओक, मी लव्ली साली जी. मई मज़ाक कर रहा था. वैसे साली आधी घरवाली होती है.

मई: होती होगी, पर हमारे यहा ऐसा कोई रिवाज़ नही जीजू.

जीजू: अर्रे ओक साली जी, आप इतना गुस्सा क्यू कर रही है?

मई: नही-नही जीजू, मई ऐसे ही बात करती हू.

तभी रिया आ गयी और बोली-

रिया: क्या बाते हो रही है जीजा-साली मे? हम भी तो सुने.

मई: कुछ नही दीदी. वो ऐसे ही जीजू मस्ती करे थे.

और फिर माँगनी हो गयी. फिर शादी की डटे भी फिक्स हो गयी और बस 2 मंत बाकी थे शादी मे. उसके बाद दीदी और जीजू अक्सर मिलने लगे और विकास और काजल भी मिलने लगे.

एक बार दीदी बातरूम से नहा कर कमरे मे आई और जैसे ही दीदी ने बॉडी से टवल हटाया, तो मैने एक बात नोट की. वो बात थी, की दीदी की छूट के होंठ थोड़े खुले हुए थे. लेकिन मेरी छूट के होंठ एक-दूं से टाइट और चिमटे हुए थे.

और कहानिया   लंड के बदले डिल्डो से चूड़ी

मई उस टाइम तो कुछ नही बोली. मैने एक बात दूसरी भी नोट की थी, की दीदी की लेग्स भी थोड़ी अलग लग रही थी. जब वो चल रही थी , तब मुझे चेंज दिख रहा था. फिर मई अपने काम मे लग गयी. मई दीदी से कुछ नही बोली, की ये ऐसा क्यू था और क्यू उनकी छूट मे डिफरेन्स था.

विकास भैया भी आज कल फॉर्म मे घूम रहे थे. न्यू-न्यू कपड़े पहन कर बाहर जाना और रोज़-रोज़ चिकना बनना वग़ैरा-वग़ैरा. फिर थोड़े दीनो मे ही दीदी की और भैया की शादी हो गयी. और यहा से शुरू हुआ, मेरी लाइफ मे चुदाई का एक नया एपिसोड.

वो हुआ यू, की मई थोड़े दीनो मे काजल भाभी से फ्रॅंक हो गयी थी. भाभी भूत अची थी और अब वो मेरी बेस्ट फ्रेंड बन गयी थी. मेरी लाइफ का फर्स्ट सेक्स भी भाभी के साथ हुआ था. विकास भैया अपने ऑफीस के काम से आउटडोर गये हुए थे और मई काजल भाभी के बेडरूम मे उनके साथ सोती थी. तो मेरा उनके साथ फर्स्ट लेज़्बीयन सेक्स हुआ.

रात को भाभी मुझसे लिपट जाती थी और काई बार तो मेरे बूब्स भी दबा देती थी.
धीरे-धीरे मुझे ये अछा लगने लगा था और मई भी कभी-कभी उनके बूब्स दबाने लग जाती थी.

और अब हमारा प्लान था, फुल लेज़्बीयन सेक्स करने का. फिर रात का खाना खाने के बाद, मई और भाभी उनके बेडरूम मे चले गये.

1स्ट्रीट सेक्स:- मेरा फर्स्ट सेक्स वित काजल भाभी.

हम जब बेडरूम मे गये, तो भाभी ने निघट्य पहनी थी और मई सलवार कमीज़ मे थी. वो मेरे करीब आई और उन्होने मेरी गर्दन पकड़ कर मुझे एक किस की और फिर आहिस्ता-आहिस्ता नीचे मेरी नाभि तक आ गयी.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published.