किराएदार की बेटी की चूत मार के आया मजा

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सभी लोग।  आशा करता हूँ की आप सभी अच्छे ही होंगे।  यह कहानी हमारे किरायेदार की लड़की के ऊपर हैं।  तो चलिए यह कहानी शरू करते हैं।

पढ़िए :- किराएदार की बेटी को चोदा

यहाँ कुछ 2  साल पहले की  बात हैं हमारे घर में नए किरयेदार आये थे। हमारे किरायेदार की लड़की बहुत ही सुन्दर थी।  उसका नाम अलका हैं।

वो दिखने में बहुत ही सुन्दर और उसका फिगर बहुत ही सेक्सी हैं। पहले दिन से ही मुझे अलका बहुत पसंद आने लगी थी।

मैंने अलका से बात करने की बहुत कोशिस की पर अलका अभी सही से घुलने मिलने में सरमाती थी।  मैं ऑनलाइन काम करता था  और घर से ही अपना काम किया करता था।

घर पर मेरा कमरा अलग था और कमरा छत पर था।  मुझे  पता था की अलका किसी न किसी दिन अलका जरूर कसी न किसी दिन बात जरूर कारगी।

एक दिन अलका कपडे सूखने के लिए छत पर आई थी।  उस दिन वो अच्छे मूड में थी।  मैंने अलका से उस दिन बात की तो अलका ने मुझसे बात की।

उस दिन से हम दोनों रोज बाते करने लगे थे।  हम दोनों आपस में घुल मिलने लगे थे।  एक दिन मैं अपने रूम में बैठ कर पोर्न देख रहा था।

मुझे पता नहीं नहीं था की मेरे कमरे की कुण्डी नहीं लगी हुई थी। उसदिन अलका कपडे सुखाने आई थी वो कपडे सुखाने के लिए रख के आई और फिर मेरे कमरे में आई।

मैं तो अपने रूम में मजे से नंगा होकर पोर्न देख तहा था।  एकदम अलका दवाजे से अंदर आई उसने मुझे बिस्तर पर पूरा नंगा लेटे हुए देख लिया था।

जैसे ही मैंने अलका को देखा मैंने अपने अपने लंड के ऊपर कपडा रख के पूछा।  अरे अलका तुम कब आई।  अलका ने कहा जब तुम जब अपने पापु को हिला रहे थे मैं यही खड़ी देख रही थी।

और कहानिया   आइब्राउस बनवाकर बुआ की चुदाई

किस्मत इतनी अच्छी थी की उसदिन घर पे कोई भी नहीं था।  मैंने अलका को कमरे में आने के लिए कहा।  अलका अंदर आई और मेरे बगल में बैठ गई थी।

अलका ने मुझसे पुछा तुम क्या देख रहे थे मुझे भी दिखाओ।  माने अलका को कहा की किसी और को मत बताना।  तो अलका ने कहा की मैं किसी और को नहीं बताउंगी।

हम दोनों मिल कर पोर्न देखने लगे थे।  मैं तो नंगा लेता हुआ था और  मैंने अपने ऊपर चादर डाल रखी थी।  पोर्न देखते देखते हम दोनों का मन भी सेक्स करने का हो गया था।

पहले हम दोनों एक दूसरे के आए हमने किश करने की कोशिश की।  हिचकिचाते हुए हम दोनो ने किश की।  किस करते करते  ऊपर चढ़ गई थी।

वो जितनी सरीफ दिख रही थी उतनी ही उसके अंदर हवस की आग भरी हुई थी।  वो अपने घरवालों की वजह से अपनी फैशन और मनपसंद चीजों को दबाके रखती थी।

मेरा हाथ धीरे धीरे अलका की चूत को ओर बढ़ने लगा।  हम दोनो एक दूसरे को किस कर रहे थे।  अलका ने मेरे ऊपर से चादर हटाई और मेरे लंड को पकड़ने लगी।

मैंने अलका के कपडे उतारना चालू कर दिया। मैंने अलका को हल्का सा ऊपर उठाया और उसकी चूत में अपना लंड घुसा दिया।

मेरे लंड पर बैठने के बाद अलका ऊपर नीचे ऊपर नीचे कर रही थी।  मुझे बड़ा मजा आ रहा था और अलका तो बहुत खुश थी और चुदाई के पुरे मजे ले रही थी।

हमने जो जो पोज़ उस दिन पोर्न वीडियो में देखे हर पोज़ को उस कमरे में हमने किया। माहे बहुत मजा आया।

मैं उठा और मैंने अलका को बिस्तर पर लिटाया मैंने उसकी टांगो को चौड़ा कर उसके चूत के ऊपर अपने लंड को रगड़ने लगा।

रगड़ते रगड़ते मैंने उसकी छूट में लंड फिर से घुसा दिया।  इस बार मेने अपना लंड पूरा अंदर घुसा दिया और अलका की चीख निकल गई।

वो भी चुदाई के पुरे मजे ले रही थी। अब इतनी देर चुदाई के बाद मेरा माल निकलने को हो गया था।

मैंने अलका के मुँह में अपना लंड दिया और उसे चुसवाने लगा कुछ देर चुसवाते ही मैंने  पूरा वीर्य अलका के मुँह में भर दिया।

और उसके मुँह से लंड निकाल के वही पर लेट गया।  हम दोनों को चुदाई का बाहत मजा आय।

आशा करता हूँ की आपको यह कहानी पसंद आई होगी।  ऐसी और कहानी आपको पर पढ़ने को मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.