Category «कामुकता»

मॅ चुड गयी सब्ज़ीवले से

तो कहानी शुरू होती है, मेरी मा का नाम जमीला है. अब्बू का नाम उस्मान है, हम चल मई रहते है. जहा हम रहते है वाहा हुमारा घर सबसे आखरी है उसके बाद जॅंगल, पहाड़ी शुरू होती है आयेज. पापा एक कार्पंटर है सो बहुत मेहनत का काम करते है वो दिन बेर दुकान पेर …

सिस्टर को चुदाई करवाते हुए देखा

हिी फ्रेंड्स, मेरा नाम छोटू है. मेरी आगे 28 साल है और मई देसी कहानी साइट का रेग्युलर रीडर हू. आज मई भी अपनी एक स्टोरी शेर करना चाहता हू. ये कहानी मेरी बड़ी बेहन की है. तो चलिए सुनता हू कहानी… ये कहानी 2005 की है जब मई 10त क्लास म पढ़ता था. तो …

चूत का रास्पान और खुला हुआ आसमान

ही फ्रेंड्स कैसे हो आप सभी छूट वाली और लंड वेल दोस्तो. मैं आपका योगु फिर से हाजिर हू एक नयी कहानी लेकर. आप तो जानते ही हो मैं पुणे मई मंक कंपनी मैं जॉब कर रहा हू. मैं देखने मैं सेक्सी हॅंडसम और सिंगल बंदा हू. आज की कहानी मेरे और मेरी एक रीमा …

डी एस सी की मॉडेल को बाल्कनी में लाके किया मज़ा

मैं कुछ दीनो के लिए एक-दूसरे शहर में रह रहा था. मैने ऑनलाइन एक रूम बुक करवाया था, और वाहा जाके मैने चेक-इन किया. वो रूम काफ़ी अछा बना हुआ था. रूम में से मैं बहुत सारे फ्लॅट्स की बाल्कनीज़ देख सकता था. कुछ बाल्कनीज़ मेरे फ्लॅट के उपर थी, और कुछ नीचे थी. एक …

फ्रेंड के वाइफ को गारबदान दिया भाग 1

मेरा नाम प्रशांत है . आज में आपको एक साची कहानी बता ता हूँ थोड़े साल पहले जिसमे मेरी फ्रेंड के वाइफ को स्पर्म डोनेशन कैसे किए और उसको कैसे छोड़ा आपको सब बताता हूँ. मैं हयदेराबाद में अकेला रहता था एक आक्ची जॉब आने के बाद और उसके पहले में भाई के साथ रहता …

लॅडीस वाकेशन में हम बचो की हुई मों स्वापिंग

ही दोस्तो, मेरा नाम राहुल है और मैं मुंबई का रहने वाला हू. मेरी उमर 19 साल है और मैं मेरी मों के साथ 1 भक में रहता हू और उनका नाम है निकिता जो 44 की है. हमारे पड़ोसी यानी निराल आंटी जो करीब 46 की होंगी और उनका बेटा और मेरा बेस्ट फ्रेंड …

दोस्त की मा को चूड़ते देखा

चलिए अब कहानी की और चलते है. तो लास्ट स्टोरी मे पढ़ा की मे अपने मामा के गॅव से सिटी मे अपने घर वापिस आ गया. क्यूकी मेरी स्कूल खुलने वाली थी. मेरा मॅन मामी के पास ही था उसके लंड चूस्ते हुए ख़यालो मे खोया हुआ था. थोड़े दीनो के बाद सब रेग्युलर हो …

साली के साथ मजेदार चुदाई

हेलो गाइस मे देव कुमार शर्मा एक बार फिर आपके सामने अपनी ज़िंदगी का एक रियल किस्सा शेर करने के लिए आया हू. पहले तो आप सब से माफी चाहूँगा की बहुत दीनो बाद मे आपके सामने आया हू. लेकिन क्या करू रियल कॉंटेंट मे जो मज़ा है वो और कही नही. तो फिर शुरू …

पुंजबन जत्तियाँ हुसान दी पटिया-22

हनजी दोस्तो की हॉल ने. उमीद आ टक व नेक्स्ट भाग दी उड़ीक क्र र्हे होव गये कमा च भाट जदा बिज़ी हों क्र के तोड़ा लाते हो गयइ. तुहादे मैल औंदे आ पर ओते ज्वाब देना औखा हुंदा एस लयी म अपनी. हूँ तुहादा जदा स्मा ना लन्दे होये सिडा स्टोरी ते औने ते …

चाची और लॉक्कडोवन्

नमस्कार दोस्तो, ये कहईने एकदम साची है. ये जब के बात जब मे अपने का के पढ़ाई के लिए अपने चाचा के घर आया हुआ था जो देल्ही मे रहते है. चाचा चाची के कोई बचा नही है. जब मेरे पढ़ाई चल र्हे थी तभी लॉक्कडोवन् लग गया और मे वही र्हे गया. मई आपको …