ग्रुप सेक्स सुहागरात

मेरी पिछली कहानी
पति नहीं है तोह क्या हुआ
में आपने पढ़ा कि मेरा पति रोहन अपने दोस्त के घर चला गया. उसने मुझे बताया कि वह अपने बाकी दोस्तों के साथ किसी दूसरे दोस्त की बीवी की चुदाई करके आयेगा. इसलिए मैंने भी एक कॉल बॉय बुलाकर अपनी चूत की चुदाई करवा ली.
सुबह होने के बाद मैंने मसाज भी करवाई और फिर मैं स्वीमिंग पूल में नहाने के लिए चली गई. नहाते हुए घर की डोर बेल बजी तो मैं ब्रा और पैंटी में दरवाजा खोलने के लिए बाहर आई.

अब आगे:

मैंने दरवाजा खोला तो रोहन के साथ उसके दो दोस्त भी आये थे. मैं उन दोनों को पहले से जानती थी लेकिन यह नहीं जानती थी कि वो आज घर पर आने वाले हैं. उनमें से एक का नाम एलेक्स और दूसरे का जॉन था. मैंने दोनों को बारी-बारी से गले लगाया. अभी मैंने सारोंग ही पहना हुआ था. लेकिन नीचे से मेरी पैंटी दिख रही थी. एलेक्स को गले लगाते हुए मुझे महसूस हुआ कि उसका खड़ा हुआ लंड मेरी पैंटी के ऊपर से मेरी चूत पर टच हो रहा है.

जब मैंने जॉन को हग किया तो उसका लंड भी खड़ा हुआ था. वो दोनों मुझसे बातें करते हुए मेरे बूब्स की तरफ देख रहे थे. मेरी ब्रा छोटी ही थी इसलिए मेरे बूब्स बाहर निकलने को हो रहे थे. आधे तो बाहर ही दिखाई दे रहे थे. मैं जान-बूझ कर छोटी ब्रा पहनती हूँ जैसा कि मैंने आप लोगों को पहले भी बताया है.

उन तीनों के अंदर आने के बाद मैंने उनसे कहा कि मैं कपड़े बदल कर वापस आती हूँ. मेरा पूरा बदन भीगा हुआ था और मेरी भीगी हुई ब्रा और पैंटी जैसे पारदर्शी होकर मेरे चूचे और चूत के दर्शन रोहन के दोनों दोस्तों को करवा रही थी. मैंने रूम में जाकर अपनी ब्रा और पैंटी को निकाल दिया और फिर अलमारी से एक काले रंग की ब्रा और पैंटी का सेट निकाल लिया. उसको पहन कर मैंने ऊपर से एक गाउन भी पहन लिया.

नीचे आने के बाद मैं रोहन के पास जाकर बैठ गई. हम चारों में बातें शुरू हो गयीं.

जॉन- अंजलि, तुम इस ब्लैक गाउन में बहुत ही सेक्सी लग रही हो.
मैं- थैंक्स जॉन।
मैं- रोहन कल रात कैसी रही आपकी?
रोहन- अंजलि, मजा आ गया कल की रात में तो!
मैं- ओह, ये तो अच्छी बात है.

और कहानिया   5 लोगो से मेरी दर्दनाक चुदाई कहानी

एलेक्स- अंजलि, तुम भी एक बार करके देखो, तुम्हें भी मजा आएगा.
मैं- नहीं, मुझे अपने पति के सामने इस तरह किसी और के साथ सेक्स करने में सहज नहीं लगेगा.
जॉन- लेकिन एक बार ट्राई करने में क्या जाता है?
मैं- नहीं, फिर कभी सोचूंगी.

उन दोनों को मैंने मना कर दिया. फिर मैं कॉफी बनाने चली गयी और वापस आकर हम सब साथ में कॉफी पीने लगे. जब मैं रोहन के साथ बैठी थी तो एलेक्स और जॉन मेरे बूब्स को ही देख रहे थे क्योंकि मेरी नाईटी के ऊपर के दो बटन खुले थे। फिर थोड़ी देर बाद एलेक्स और जॉन चले गए.

मैं और रोहन रूम में आ गए. रोहन ने मुझसे कहा- चलो हम आज बाहर शॉपिंग करने चलते हैं.
रोहन की यह बात सुनकर मैं तो शॉक हो गयी क्योंकि रोहन बहुत कम शॉपिंग पर जाते हैं.
मैंने कहा- ओके, मैं तैयार हो जाती हूँ.

मैंने कबर्ड से एक मिनी ड्रेस निकाली और जल्दी से रेडी हो गयी. रोहन और मैं शॉपिंग के लिए निकल गए. थोड़ी देर बाद हम मॉल में पंहुच गए. वहां हम एक लेडी गारमेंट्स की शॉप में गये और फिर वहां से मैंने मेरे लिये कुछ ड्रेसेस लीं। फिर रोहन मुझे एक लेडी अंडरगार्मेंट्स की शॉप में ले गए.
अंडरगार्मेंट शॉप में जाते हुए मैंने रोहन को मना कर दिया क्योंकि मेरे पास पहले से ही बहुत सारे अंडरगार्मेंट थे.
रोहन ने कहा- ले लो, क्या पता तुम्हें जरूरत पड़ जाए.

मैं रोहन की बात समझ नहीं पाई और हम शॉप में अंदर चले गये. रोहन ने सेल्स मैन को बुलाया और वह बोला- मैडम को ब्रा-पैंटी दिखाओ.
उसने कहा- ओके सर!
उसने मुझसे ब्रा का साइज पूछा. वैसे तो मेरी ब्रा का साइज 36 है पर मैंने 32 का बता दिया.
उसने कहा- यह आपको छोटा आएगा.
मैंने कहा- नहीं आप दिखाओ.

फिर उसने बहुत सारे सेट निकाल कर दिखाए.
रोहन ने कहा- मैं तुम्हारी मदद कर देता हूँ पसंद करने में.

फिर रोहन ने मेरे लिए कई सारी पारदर्शी अंडरगार्मेंट पसंद कर दी. उसके बाद शॉप से बाहर आकर हमने लंच किया और फिर हम शाम को घर आ गए। रूम में आकर मैंने अपनी मिनी उतार दी और रोहन को ब्रा पैंटी पहन कर दिखाई. ब्रा बहुत टाइट आ रही थी.

और कहानिया   मेरी बीवी का गैंगबैंग

मैं पहन कर देख रही थी कि रोहन ने कहा- अंजलि, मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूँ.
मैंने कहा- हाँ, बोलो?
रोहन- आज जब एलेक्स और जॉन घर आये थे तो वो मुझसे कुछ पूछ रहे थे. मैं तुम्हें वो बताना चाहता हूँ.
मैंने कहा- क्या पूछ रहे थे?
रोहन- वो बोले, यार अगर तेरी बीवी के साथ एक बार सेक्स करने को मिल जाए तो मजा आ जायेगा!

मैं रोहन की तरफ देख रही थी.
रोहन ने कहा- मैंने उन्हें मना कर दिया था. लेकिन वो जिद करने लगे. फिर मैंने उनको बोल दिया कि मैं अपनी बीवी अंजलि से ही बात करके बताऊंगा.
मैं उसकी बात सुनकर चकित हो गई थी.
रोहन ने फिर सफाई देते हुए कहा- वैसे मुझे तो कोई परेशानी नहीं है लेकिन तुम्हारी परमिशन भी तो जरूरी है.
रोहन ने मस्का लगाते हुए कहा- तुम एक बार करके देख लो, अगर अच्छा नहीं लगा तो हम फिर कभी ऐसे नहीं करेंगे.

मैंने रोहन की बात का कोई जवाब नहीं दिया. उसके बाद हम दोनों बेडरूम में आ गए. रोहन और मैंने रात को खूब चुदाई का मजा लिया. चुदाई खत्म होने के बाद रोहन तो सो गया लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी. मैं रोहन की कही बात के बारे में सोच रही थी. मैंने सोचा कि एक बार करके देख लेती हूं, वैसे रोहन भी तो उनकी बीवियों को चोदते हैं, क्या पता मुझे भी मजा आये?

बहुत देर सोचने के बाद मैंने फैसला कर लिया कि मैं सुबह होने के बाद रोहन को इसके लिए हाँ कर दूंगी.

सुबह उठी तो रोहन भी उठ गए थे. मैंने रोहन को गुड मॉर्निंग विश किया और एक किस दी। मैंने रोहन से बोल दिया कि जिस बात के बारे में हम रात को बात कर रहे थे मैं उसके लिए तैयार हूँ. मगर आपको भी मेरे साथ होना होगा और मैं केवल एक बार ही करूँगी!
रोहन ने कहा- थैंक्स अंजलि.

Pages: 1 2 3