एक दिन में 5 लड़कों से चुदी भाग-1

हेलो दोस्तों मेरा नाम सोनम हैं और आज मैं आपको मुठ मारने पर मजबूर करने वाली कहानी सुनाने जा रही हूँ!

मेरे प्यारो यूँ तो आपने कंही चुदाई कहानी सुनी होंगी पर आज मैं आपको अनोखी कहानी सुनाने जा रही हूँ जो की काल्पनिक हैं!

तो लंड थाम के बैठ जाओ और कहानी पढ़े जो की शुरू होती हैं अब!

जैसे ही मैंने 12वी कक्षा पास की तो मुझे लग गयी बहार की हवा जो की आजकल का ट्रेंड था गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड और गपागप!

मेरे हार्मोन्स फुट पड़े जिसे आप जवानी फूटना कहते हैं मैं किसी भी हॉट लड़के देखती तो मेरा मन करता बस यही शुरू जाऊ!

मैंने पहले भी सेक्स किया हैं पर अबकी बार कुछ ज्यादा ही खुजली होने लगी थी! तो मैं काफी लड़को से बात करने लगी थी!

एक दिन मेरी एक लड़के से लड़ाई हो गयी तो मैंने गुस्से में फ़ोन दीवार पर मार दिया! फ़ोन की टच स्क्रीन खराब हो गयी थी मतलब अपने आप टच चल रही थी कभी कभी!

तो मैं करीब 5 अलग अलग लड़को से बात करती थी जिसमे से एक तो सेक्स करने के लिए त्यार था! बाकी 4 को कैसे बोलू कुछ समज नहीं आ रहा था!

हलाकि मैं सीधा पुछु तो उनमे से कोई मना भी नहीं करेगा क्युकी वो वैसे त्यार थे बस बोलने की देरी थी!

वैसे भी मैं दिखने में इतनी हॉट, गोरी चिट्टी, मोटे बूब्स और गोल गांड वाली लड़की को कोन मना करेगा!

तो हुआ ये जो एक लड़का सेक्स के लिए त्यार था मैंने उसको मोबाइल में मैसेज भेजा की मेरा घर खाली हैं कल मुझे यंहा मिलना और कंडोम लेकर आना !

बहनचोद हुआ ये मेरा टच खराब था तो इन सबको मेरे मैसेज अपने आप टच खराब होने की वजह से फॉरवर्ड हो गए!

मतलब “मेरा घर खाली हैं कल मुझे यंहा मिलना और कंडोम लेकर आना” ये मैसेज उन्ही पांच लड़को को चला गया!

और कहानिया   बहन की चुदाई स्लीपर बस में मेरी नहीं उसकी भी गलती से

ये तो शुक्र मनाओ मैंने बाकि सबकी चाट डिलेट कर रखी थी वरना ना जाने कितनो को मैसेज जाता!

एक तो त्यार था तो बाकी 4 का रिस्पांस देखना था क्युकी वो सब ऑनलाइन थे और मुझसे बात कर रहे थे!

अब मैं उन्हें ये भी नहीं बोल सकती गलती से हुआ या किसी और को भेज रही थी! पर साला सबने टाइम पूछा कब आना है कब आना हैं!

मेरी तो गांड फट गयी बेंचो एक साथ पांच लोगो को कैसे मैनेज करू? तो मैंने सबको अलग अलग टाइम दिया और बोला की इस समय के बाद मम्मी आ जाएगी!

सब मान गए मेरा दिमाग काम नहीं किया क्युकी वो सब दिखने में हॉट थे मैं उनको मना करके ये मौका नहीं गवाना चाहती थी!

अगले दिन घरवाले सुबह चले गए और 9 बजे पहले लड़का आया जिसका नाम था राहुल ये पहले से त्यार था! मेरको डर लग रहा था इसीलिए मैंने सोचा सबको जल्दी जल्दी सेक्स के लिए बोल दूंगी!

राहुल आया मैं उसे कमरे में लेकर गयी और उसे चूमने लगी! वो मेरे होंठ चूसता मजे से! मैंने फटाक से अपने कपड़े उतार दिए और पूरी नंगी हो गयी!

उसने कहा बड़ी जल्दी हैं मैंने कहा मम्मी आ गयी तो पागल जल्दी कर! पर अंदर ही अंदर मुझे पता था मम्मी तो रात को आएगी!

मैंने उसका लंड पकड़ा और चूसने लगी ताकि उसका जल्दी निकल जाए पर उसने थोड़ी देर चुसाया और फिर मेरी चूत चाटने लगा!

करीब 20 मिनट तक चूत चटाई हुई और बूब्स दबाता रहा मेरे फिर उसने लंड चूत में डाल दिया!

आह मजा आ गया सारी टेंशन खत्म वो मुझे टपाटप चोदता रहा और मैं मदहोश हो गयी आअह राहुल चोदते रहो प्लीज चोदो!

राहुल ने करीब 30 मिनट लगाए और उसका सारा माल निकल गया कंडोम में! मैंने उसे वो कंडोम रास्ते में कहि फेकने को कहा घर की डस्टबिन में मम्मी पकड़ लेगी!

थोड़ा और चूमा चाटी हुई और फिर वो चला गया फिर मैंने फटा फट अपना हुलिआ ठीक किया वापिस मेकअप वगेरा! अपनी पूरी बॉडी को टिश्यू से साफ़ किया और चूत भी अच्छे से साफ़ की!

एक दिन में 5 लड़कों से चुदी भाग-2 पढ़े !

Leave a Reply

Your email address will not be published.