एक दिन में 5 लड़कों से चुदी भाग-2

उसके बाद 11 बजे राजीव आया दिखने में हॉट उसने फोरप्ले बहुत अच्छे से किया मेरे होंठ चूसे, जीभ चूसी और गर्दन पर चूमा!

मेरा मूड तो बन गया था पर मैं सोच रही थी की यार लिपस्टिक तो मत खराब करो प्लीज!

उसने मेरी नाभि में में जीभ फेरी और मैं तो पागल हो गयी! फिर मैंने उसका लंड चूसा और अच्छे से गिला कर दिया!

उसने फिर मेरी अच्छे से अन्तर्वासना चुदाई करी और कुछ देर बाद उसका भी सारा माल निकल गया!

फिर वो चला गया अब तीसरा आया 1 बजे मैंने घर का ac चालू कर लिया! मैंने ब्रा और पैंटी ही पहनी हुई थी और वो आते ही मुझे देखकर मुझ पर टूट पड़ा!

हम सोफे पर जाकर एक दूसरे को चूमने लगे और उसने मेरी ब्रा उतारी को बूब्स चूसने लगा और पैंटी को सरका कर चूत में लंड डाल दिया!

ये बंदा बॉडी बिल्डर था तो इसने मेरी कसके चुदाई करी और मेरी चूत में दर्द होना शुरू हो गया था फाइनली उसका झड़ गया!

मजा तो सबके साथ आ रहा था पर दर्द होने लगा था पर चुदाई की भूख न मिटी!

चौथा आया 4 बजे इतने मैंने आराम किया और खाना भी खा लिया! मैंने सोचा इसको चुदाई के लिए मना करू क्युकी दर्द हो रहा था यार चूत में!

पर अब मैंने कपड़े नहीं पहने थे पता था कपड़े उतरने हैं घंटी बजी और मैंने देखा 4 लड़का आया हैं!

मैंने गेट खोला उसने मुझे नंगा देखा और टूट पड़ा! हम चूमते चूमते एक दूसरे को बैडरूम में आ गए !

मैंने उसका लंड चूसा और उसने मेरे बूब्स फिर वो मेरी चूत में ऊँगली डालने लगा और कहा बेबी तुम्हारी चूत इतनी गीली क्यों हैं?

मैंने कहा जानू तुम्हारे इंतजार में मुठ मार थी, ये बात सुनते ही उसने मेरी चुदाई शुरू करदी!

और कहानिया   जबरदस्त लड़की की जबरदस्त चुदाई

ये चोदते चोदते मेरी गांड में ऊँगली डाल रहा था और मुझे मजे आ रहे थे!
इसने मेरे निप्पल खिंच कर मुझे घोड़ी बनाकर अच्छे से चोदा और कुछ देर बाद इसका भी झड़ गया!

फिर 5 वा लड़के को आने में टाइम था और वो सबसे सीधा था!

करीब 7 बजे वो घर आया और बहुत शर्मा रहा था पर मैंने उसे धीरे धीरे चूमना शुरू किया!

उसके होंठ पर होंठ रखे और उसके जीभ से जीभ मिलाई! बहुत मजा आ रहा था शांति महसूस हो रही थी की हश मैंने सबसे चुदाई पूरी करली और किसी को पता भी नहीं चला!

पर अब समय था चुदाई भी थी तो मैंने आराम से खुद चुदवाया! उसने धीरे धीरे मेरे बूब्स चूसे मेरी नंगी पीठ चूमि! मजा ही आ गया हलाकि मजा सबके साथ आया सबका अलग मजा था!

सबका अपना अलग अंदाज था सबने अलग अलग पोजीशन में चोदा! किसी ने घोड़ी बनाया , किसी ने डॉगी स्टाइल में, किसी ने एक टांग उठाकर और किसी ने पीछे से लिटाकर!

अब मैंने अपनी दोनों टाँगे खोली और आखिरी वाले लड़के के लंड को अंदर लेलिया! मैंने उसे धीरे से चुदाई करने को कहा वो मान गया और धीरे धीरे चुदाई करने लगा!

मजा सा आ रहा था मदहोशी छा रही थी, मीठा दर्द के साथ चुदाई का अलग ही मजा था!

वो धीरे धीरे लंड को अंदर बहार करता और मेरे होंठो को चूमता रहा! मैं सिसकारियां लेती और जैसे ही अंदर उसका लंड जाता मेरी अहह उह्ह्ह सससस हाईए की आवाजे आने लगी!

मस्त चुदाई के बाद उसका माल निकल गया और वो मुझे कसके गले लगाकर लेट गया!

कुछ देर बाद हमने कपड़े पहने और वो चला गया और मैं नहाने चली गयी!

आज तो बहनचोद रंडी बना दिया , और मुझे याद आने लगा कैसे मैंने सबके लंड चूसे, किस किया और सबसे चुदी!

और कहानिया   मेरी कुवारी चुत बना भोसड़ा

तो नहाते नहाते भी मैं चूत सहलाने लगी और ऊपर से पानी चूत पर गेरने लगी!

आज जी भर के चुदाई करी वो भी पांच मनपसंद हॉट लड़को के साथ बस और क्या चाहिए!

Leave a Reply

Your email address will not be published.