दोस्ती और प्यार के बीच इशू दीदी

मैं पागल होता जा रहा था और फिर मैने रोहिणी बनी इशू के जिस्म के साथ खेलने लगा और उसकी बड़ी बड़ी चुचियों को दबाने और मसालने लगा, तेज़ी से इशू की दर्द से आवाज़ निकल गई और कहती है भैया धीरे से प्ल्ज़, उसकी बातों का एक एक लाब्ज़ मेरे अंदर करेंट दे रहा था और फिर मैने इशू की ब्रा का स्ट्राइप साइड से नीचे किया और उसकी चुचियों को नंगा कर दिया और उसकी चुचियों के चूसने और दबाने लगा.

इशू के भी टन बदन मे आग लगी हुई थी वो मेरे बालो के साथ खेलने लगी और मैं इशू की जिस्म को लीक करने लगा और फिर मैने धीरे धीरे इशू की पनटी को उतार दी और उसकी छूट को देखने लगा, इशू उठी और मुझे गले लगा लिया और कहने लगी भैया तेरे बहें इशू की छूट भी ऐसी है ना.

मैने कहा हन, फिर उसने कहा इस छूट को अपना प्यार नही दोगे इस छूट को छोड़ना नही चाहोगे, मैने कहाँ हन बिल्कुल पेलुँगा अपनी बहें को और मैने उस ढाका दिया वो पलंग पेर फिर से लेट गई और मई इशू के पैरो के पास बैठ गया और उसके झंघो को फेला दिया और उसकी छूट को किस किया.

उसकी छूट एक दूं क्लीन शेव्ड की हुई थी, उसकी छूट की खुश्बू ने मुझे पागल बना दिया और मैं इशू की छूट को चटन लगा और उसकी छूट मे उंगली केरने लगा, इशू कहती है भैया आह.. आहह.. मार गई भैया प्ल्ज़ अपनी जीभ मेरी छूट के अंदर डालो ना..

मैं अपनी जीभ उसकी छूट के अंदर कर के उसकी छूट को अपनी जीभ से चाटने लगा, फिर कुछ देर के बाद उठा और इशू की चुचियों को चूस्ते हुआ उसके हूँटों को चूसने लगा और उसके उपेर लेट गया और अपना लंड मेरे बहें की छूट के उपेर एक दम से तैयार खड़ा था.

मेरी बहें की छूट मरने के लिए और एक झटका मारा और मेरा लंड इशू की छूट के अंदर चला गया और उसकी चीक्ख लिकन गई.. हाई.. मार डाला कामीने भाई ने और फिर दूसरे शॉर्ट मे मेरा लंड उसकी छूट के पूरा अंदर कर दिया और मई फिर इशू की छूट को पेलने लगा और करीब 5-7 मीं के अंदर मेरा पानी उसकी छूट के अंदर ही निकल गया और मई इशू के जिस्म के उपेर लेट गया.

और कहानिया   बारिश की रात बेहेन के सात

कुछ पल के बाद इशू मेरे बालो के साथ खेलती हुई कहती है भैया मज़ा आया तुम्हे, मैने कहाँ रोहिणी कसम से आज तुमने मुझे जन्नत दिखा दी, मई कभी सपने मे भी नही सोच सकता था यॅ सब, लेकिन तुमने जो मज़ा दिया है वो कभी नही भूल सकता.

लेकिन सॉरी मेरा पानी तुम्हारी छूट के अंदर ही निकल गया, रोहिणी ने कहा कोई नही मुझे सारे रास्ते पता है, बस तुम्हे मज़ा आया ना आज अपनी बहें की छूट ले कर.

मैने कहा बहुत और मई उसके गले लग गया और कुछ देर के बाद कल्लू रूम के अंदर आ गया, हम दोनो नंगे थे मैं दर्र गया, कल्लू कहता है सेयेल क्यों दर्र गया तेरा दोस्त हूँ मैं.

फिर कल्लू ने पुचछा क्यों मज़ा आया इस रोहिणी के साथ, रोहिणी ने कहा प्ल्ज़ मुझे रोहिणी मत बोलो, कल्लू कहता है अच्छा फिर क्या कहूँ, रोहोणी ने मेरे लंड को अपने हातों मे ले कर कहा मैं इशू हूँ राजा की बहें.

कल्लू हेस्ट हुआ कहता है अच्छा तो तू मेरी जान है और मुझे कहने लगा राजा क्यों ना आज इस इशू की हम दोनो मिल कर गांड

मारे और इस साली इशू को आज हम दोनो मिल कर रंडी बनाते हैं, बोल मेरे भाई बनाएगा ना इशू को रंडी.

मैं भी जोश मे आ गया और कहा हन, मेरे बहें रंडी है और फिर कल्लू ने अपने कापरे उतार दिया और रोहिणी जो आज से मेरे बहें थी कहता है मेरी जान इशू तुझे रंडी नही बनाया तो मेरा नाम कल्लू रणडिबाज़ नही और फिर हम दोनो इशू को चूमने और चाटने लगे, उस किस करने लगे मिल कर इशू की चुचियों को चूसने लगे और उसकी छूट को कल्लू और मैने मिल कर चाटने लगे.

और उसके बाद इशू को कुट्टिया पोज़ मे किया और कल्लू ने इशू की चूटतेर को थप्पड़ मारे और इशू की झंघे फेला दी जिससे इशू की ग्रांड का होल क्लियर नज़र आने लगा और फिर कल्लू ने उसकी गांद के होल पेर ठोका और अपनी जीभ से उसकी ग्रांड के होल को चाटने लगा.

और कहानिया   मेरे चुत को बजा दे मेरे राजा

मुझे पहले तो अच्छा नही लगा लेकिन फिर कल्लू के समझने पेर मैने भी वही किया जैसे कल्लू ने किया और फिर मैने और कल्लू ने मिल कर इशू की चुत और गांड को चटा और इशू को मिल कर अपना लोड्‍ा चुस्वाया और उसके बाद कल्लू ने इशू की गांद मे अपना लोड्‍ा डाला और मैने इशू के मूह मे मिल कर मेरी बहें को छोड़ा.

कभी मैं इशू की चुत मे और कभू कल्लू इशू के मूह मे अपना लंड दे रहे थे और फाइनली हम दोनो ने इशू के मूह के अंदर अपना माल निकाला और उस पीने के लिया कहा और इशू दीदी ने मुश्कराते हुए पूरा माल पी लिया और मेरे लंड को किस करते हुए बोली मेरे भाई का कम बहुत टेस्टी है.

दोस्तो तट इस सुपर्ब मैं कभी वो दिन नही भूल न्ही सकता, करीब 3 घाटे के अंदर मैने दो बार इशू को छोड़ा और एक बार पानी निकला मेरे ज़िंदगी की पहली चुदाई इतनी खूबसूरत अगर आप भी मेरे साथ होते तो यक़ीनन आप भी वो शाम कभी नही भूल न्ही पाते जो की मेरे दोस्त कल्लू और मेरे बहें बनी इशू ने किया.

उसके बाद कल्लू ने मुझे घर छ्चोड़ा और फिर हम लोग डेली फोन पेर बात करते और हफ्ते मे 2-3 दिन मिलते ही थे, मई कल्लू से इशू के सीक्रेट शेर करता था और कल्लू मेरे सामने रोहिणी को मेरी बहें इशू की तरह पेलता था.

हम तीनो की बहुत अच्छी चल रही थी और इसी बीच मैने कल्लू को इशू से मिलवाया था आस आ फ्रेंड और कल्लू ने जब इशू को रियल मे देखा वो और पागल हो गया, इशू से मिलने के बाद कल्लू कहता है मेरे भाई इशू की गांद देख क्या माल है ये बहेनचोड़ इससे तो मेरे लंड के नीचे होना चाहिया, यार बस किसी तरह से इसकी गांद फादनी है यार.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares