दो बहेनो को छोड़ा और मेरा लुंड खुश

बात अभी पिछले 15 दिन पहले की है मैं सुबह के समय अपने बिस्तर पर गहरी नींद में सोया हुआ था कि मेरे फ़ोन की घंटी बजी.
तो मैंने जैसे ही फ़ोन उठाकर हेलो बोला.

उधर से कोयल जैसी मीठी आवाज में एक लड़की बोली- क्या मैं विशु कपूर जी से बात कर सकती हूँ?
मैंने जवाब दिया- मैडम बोलिये मैं विशु कपूर ही बात कर रहा हूँ।
उधर से उस लड़की ने कहा- मैंने आपका बहुत नाम सुना है।
तो मैंने उसे कहा कि मैडम ये तो आप जैसों की नज़र-ए-इनायत है जो आप ऐसा बोल रही हैं वैसे कहिये मैं आपकी क्या सेवा कर सकता हूँ?

वो बोली- मैं एक इंटरनेशनल फ्लाइट में एयर होस्टेस हूँ और इस समय अमेरिका के लिए निकलने वाली हूँ तो क्या आप दो दिन बाद मुझे और मेरी सहेली को अपनी सर्विस दे सकते हैं?
तो मैंने तुरंत ही उस लड़की से पूछा- आपको मेरी कौन सी सर्विस चाहिए 2 घंटे वाली या फुल नाईट वाली?

वो कुछ देर के लिए अपनी सहेली से बात करने के बाद बोली- हमें फुल नाईट वाली सर्विस चाहिए.
उसने अमेरिका से लौटकर मुझे उन दोनों को जॉइन करने के लिए बोल दिया और कहा- हम आपको फ़ोन पर एड्रेस और लोकेशन भेज देंगे.
और उसी के साथ फोन कट गया।

तभी मैं बिस्तर से उठा और फ्रेश होकर नहा लिया और नाश्ता करके अपने काम पर चला गया।
दिन भर मैंने अपना काम पूरी मेहनत और लगन के साथ किया.

शाम को जब मैं अपने घर आकर जैसे ही मैंने अपने हाथ मुँह धोकर खाना खाने बैठा, तभी मेरे स्कयपे पर वीडियो कॉल आई.
मैंने जैसे ही कॉल उठाई, उधर से वो ही लड़की जिसने सुबह मुझसे बात की थी मेरे मोबाइल की स्क्रीन पर उसकी तस्वीर दिखाई दी।
मैंने उसे कभी देखा तो नहीं था लेकिन मैं उसकी आवाज से उसे पहचान गया था साथ में उसकी सहेली भी थी।
उन दोनों ने मुझसे बात की।

वो दोनों लड़कियाँ बला की खूबसूरत थी. उन दोनों का फिगर लगभग 36-24-36 था. उन दोनों का बदन ऐसा महसूस हो रहा था जैसे भगवान ने उनको फुरसत से बनाया हो.
मेरा लण्ड पाजामे में ही खड़ा हो गया और मेरा खाना खाना दुश्वार हो गया।

और कहानिया   सेक्सी भाभी को मेरा लुंड बहुत पसंद आया

खैर, जैसे तैसे मैंने अपना खाना खत्म किया और अपने आप पर कंट्रोल किया और टी वी देखने लगा। टी वी देखते देखते मुझे कब नींद आ गई पता ही नहीं चला।

दो दिन बाद सुबह के करीब 4 बजे मेरे मोबाइल की घंटी बजी तो मैं एकदम से हड़बड़ा कर उठा तो देखा कि किसी बिना नाम यानि कि सिर्फ नंबर ही था, से कॉल आया।
यदि ये कॉल शायद सेव्ड नंबर से आया होता तो शायद मैं नहीं उठाता लेकिन बिना नंबर के था तो मैंने उठाकर बात करना उचित समझा.

मैंने बात की तो उधर से उन दोनों लड़कियों का ही कॉल था। उन्होंने मुझे बताया कि हम दोनों इंडिया आ चुकी हैं और अभी अभी फ्लाइट से उतरी हैं।
वो दोनों लड़कियाँ मेरी सर्विस लेने वाली थी इसलिए मैंने कुछ भी बोला नहीं हालांकि मुझे उस समय गुस्सा तो बहुत आया था. लेकिन मैंने उन लड़कियों से कुछ भी कहा नहीं और ओ के ओ के करके रह गया और फोन को रख के फिर सो गया।

सुबह उठकर अपने रूटीन वर्क से फ्री हुआ और अपने काम पर चला गया।

अगली सुबह करीब 8 बजे मुझे उन लड़कियों का फोन आया- विशु जी, आप ठीक 10 बजे मेरे फार्म हाउस पर पहुँच जाना.
उसने अपने फार्म हाउस का एड्रेस दिया और मुझे लोकेशन समझा दी और फोन काट दिया।

उसके बाद मैं नहा धोकर तैयार हुआ और अपनी बाइक उठाकर उनके बताए हुए पते पर पहुँच गया. मैंने घंटी बजायी तो एक लेडी ने दरवाजा खोला और बोली- जी कहिये आपको क्या काम है?
मैंने उसे बोला- मुझे आपकी मैडम से मिलना है.
तो वो बोली- मैडम तो यहाँ नहीं आई हैं लेकिन आप मुझे बता सकते हैं मैं और मेरे पति इस फार्महाउस के केअर टेकर हैं. हम लोग यहीं पास में बने सर्वेंट क्वाटर में रहते हैं. अगर आपके पास मैडम का फोन नंबर हो तो आप डायरेक्ट बात कर सकते हैं।

मैंने उसे बताया कि आपकी मैडम ने मुझे यहाँ बुलाया था किसी काम से!
और मैंने मैडम को फोन लगा दिया।

और कहानिया   कमीनी कामिनी की गाता भाग 2

तभी मैडम ने फ़ोन उठाया और मुझसे पूछा- विशु जी, आप कहाँ हो?
अभी तो मैने बताया कि मैं आपके फार्महाउस पर पहुँच गया हूँ।
मैडम ने मुझसे कहा- इफ यू डोंट माइंड, आप जरा केअर टेकर से मेरी बात करा सकते हैं?
तो मैंने स्योर कहा और स्पीकर मोड पर फोन लगाकर उस केअर टेकर को फ़ोन दे दिया.

मैडम ने उसको बोला- साहब को पूरे आदर के साथ मेरे रूम में इज़्ज़त से बिठाओ. इनके आदर सत्कार में कोई कमी नहीं होनी चाहिए. ये हमारे बहुत ही खास दोस्त हैं. जब तक मैं ना आऊँ तब तक उनका हर तरह से ख्याल रखना.

और फिर वो स्पीकर ऑफ करके बात करने लगी और कुछ देर बाद बात खत्म करके मुझे फ़ोन देते हुए बोली- आइये साहब!
वो मुझे फार्महाउस के उस कमरे में ले गई जहाँ साजो सामान से सजा हुआ कमरा अंदर से कोई राजमहल जैसा लग रहा था। उस कमरे में सभी सुख सुविधा का हर साधन मौजूद था.

तो मैंने सोचा कि गर्मी का टाइम है तो क्यों न स्विमिंग पूल में नहा लिया जाए!

यह ही सोचकर मैंने अपने कपड़े उतार कर स्विमिंग कॉस्ट्यूम का छोटा सा निक्कर पहन लिया और बाहर आकर स्विमिंग पूल में जैसे ही छलाँग लगाने को हुआ तभी मैंने देखा कि केअर टेकर ब्रा पहनकर नहाती हुए दिखी.
तो मैंने पूल में नहाना उचित नहीं समझा और मैं वहीं के वहीं रुक गया।

मैं कमरे में लौट रहा था तभी उस केअर टेकर ने मुझे आवाज़ देकर बुलाया. मैंने उसकी तरफ मुड़ कर देखा तो वो ब्रा पेंटी में पूल से बाहर आकर बोली- आप कहाँ जा रहे हैं? अगर आपको स्विमिंग करनी है तो कर लीजिए ना!
और मेरी कमर में हाथ डालकर पूल में ले गई।

उसके हाथ का स्पर्श पाकर मेरे लंड में करंट सा दौड़ने लगा और मेरा लंड उसी समय लोहे की रॉड के समान तन गया और उसके हाथ को छू गया।
तो केअर टेकर ने कहा- आपका लंड तो बहुत बड़ा और मोटा है, आप इसे कैसे सँभालते होगे?
मैं एकदम शान्त रहा और कुछ नहीं बोला और स्विमिंग पूल से बाहर आ गया।

Pages: 1 2 3

Comments 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares