देवर्जी ने मेरी चूत की प्यास भुज़ाई

हिी फ्रेंड्स, मेरा नामे अर्पिता गई, मे 28 साल की हू. ये मेरा पहली स्टोरी है मेरे देवर के साथ

हमारे घर मे और देवर रहते है, मेरे पति आर्मी मे है. वो साल मे 1 या 2 बार ही आते है. आप को ज़्यादा बोर ना करते हुए स्टोरी पे आती हू

एक बार मुझे बहुत बुखार हुआ था, मे बेड पे सोई थी. मेरे देवर मेरे बगल मे बैठ के मेरे सर पे पानी का पट्टी लगा रहे थे.तब मे सो गई और देवर भी मेरे बगल मे सो गये

बहुत रत को मुझे ठंड लगने लगा, मे ठंड से कांप रही थी. मे देवर को जाकड़ ली. मुझे पता नही था की वो देवर है. उसके बाद वो भी मुझे जाकड़ लिए, मेरे आँखे बंद थे

धीरे धीरे वो मेरे लीप पे उनका लीप टच किए, फिर हमारी लीप किस होना सुरू हो गया. फिर भी मे आँख नही खोली

किस करते करते देवर मेरे गले को किस करना सुरू कर दिया, मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, धीरे धीरे मे आँख खोली. देखी की वो देवर है लेकिन मे इतना मदहोश हो गयी थी की माना नही कर पाई

वो मेरे सारी को खोल दिया और ब्लाउस के उपेर से मेरे बूब्स किस करने लगा और दबाने लगा, मे पागल सी हो गयी थी. वो मेरे ब्लाउस पेटिकोट सब खोल दिए. मे उनके सामने एक रेड हाफ नेट वाली ब्रा और पनटी मे थी, वो मुझे वैसे देख एग्ज़ाइटेड हो गये

मुझे बहुत सरं आ रहा था, वो उनके सारे कपड़े खोल दिए और पूरा न्यूड हो गये

उनका लंड देख क मे और एग्ज़ाइटेड हो गयी फिर वो मुझे गले लगा के हग किया और बोला भाभी ई लोवे योउ

मे कुछ नही बोल पाई सरं से. उनका लंड मेरे नीचे टच हो रहा था, मेरे छूट गीला हो गया था फिर वो मेरे ब्रा खोल दिए और दोनो हाथो से मेरे बूब्स ज़ोर ज़ोर से दबाने लगे, मे आहह ह…. कर रही थी फिर वो बोले भाभी मेरे लंड पाकड़ो, मे स्माइल कर दी उसके बाद वो मेरे हाथो को पकड़ के लंड पे रख दिया उनका लंड पूरा टाइट हो गया था पूरा लंबा और मोटा. मे धीरे धीरे हिलने लगी उसके बाद मे लंड मु मे लेके छूसी बहुत देर चूसने के बाद वो भीरिया मेरे मूह मे ही दल दिए

और कहानिया   सुहागरात में देवरजी से चुदाई

मे बातरूम जा क मूह ढोई. Fईर वो मुझे गोद मे लेके के आए और बेड पे सुला दिए और मेरे पनटी को खोल दिए और छूट को चाटने लगे. कुछ देर चाटने के बाद वो लंड छूट मे दल दिए और बहुत देर छोड़े फिर अपना वीरिया मेरे अंदर ही दल दिए, फिर हम दोनो वैसे ही सो गये

आप सब को मेरी स्टोरी कैसी लगी प्लीज़ बोलिएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares