मम्मी की चुदाई बुड्ढे ने की-1

ये खानी है 1 साल फले के जब मई कॉलेज मे था. मेरी मम्मी एक हाउसवाइफ उनका नाम मधु है है. उनके बूब्स और गांद का शेप इतना आछा है के अगर वो एक बार बोल दे मुझे छोड़ दो तो वो 24 घंटे उसे छोड़ते रहेगा. अब चलो शीधा कहानी पे आता हू.

एक दिन मम्मी बाहर कपड़े शुखा रही थी. तभी एक अंजन भूद्धा घर पे आ गया और वो ग़लती से ग़लत पाते पर आ गया था. वो मम्मी से पता फूकने लगा और मम्मी को भी वो पता साँझ नही आ रहा था और मम्मी के खूबसूरती निहार रहा था.

मम्मी ने यूयेसेस दिन लाल कलर के सॅडी पहन रहकी थी और ब्लाउस भी लाल कलर का ही था. एकदम लूज़ उसमे से मम्मी के बूब्स आसानी से दिख रहे था.

वो सब देख के बुद्धा के मॅन मे ख़याल आया इतनी मस्त आइटम को छोड़ा बिना कैसे जेया सकता हू.

फिर बुड्ढे ने मम्मी से पानी माँगा और मम्मी ने बुद्धा को घर के अंदर आने को बोला. जैसे हे मम्मी ने बुड्ढे को घर के अंदर बुलाया वैसे ही बुद्धा समझा लूटेरी लग गयी. और बुद्धा फाटक से घर के अंदर जा कर सोफा पे बैठ गया.

मम्मी किचन मे पानी लेने चले गये. जब मम्मी पानी लेकर आए तो बुद्धा ने जान भुज कर मम्मी के पेर मे पेर अदा दिया. जिससे मम्मी सीधा बुड्ढे के उपर गिर गये और सारा पानी बुड्ढे और मम्मी के उपर गिर गया.

अब वो दोनो गीले हो गये थे और मम्मी यूयेसेस बुड्ढे से सॉरी बोल रही थी. तभी बुड्ढे ने देखा जो पानी मम्मी के ब्लाउस पे गिरा था यूयेसेस से मम्मी के बूब्स धेक रहा था.

मम्मी ने कोई ब्रा नही पहनी थी, यूयेसेस से बुद्धा का लॅंड खड़ा हो गया. फिर बुद्धा ने कहा आपके पति का कपड़े हो तो थोरी देर का लिया मुझे दे डेजिए जब तक मेरे कपड़े सुख जाए.

फिर मम्मी ने पापा के कपड़े बुद्धा को दे दिया. लेकिन यूयेसेस बुद्धा को पापा के साइज़ के पंत नही आ रही थी. क्यूकी वो बुद्धा तोड़ा मोटा था तो उसने टवल लपेट लिया और वो मम्मी को दहकने गया जहा मम्मी ब्लाउस बदल रही थी.

और कहानिया   रूम पार्ट्नर और मकान मलिक ने मेरी मा को छोड़ा

रूम का डोर तोड़ा सा खुला था उसने जैसे हे मम्मी का बूब्स देखे वो पागल सा हो गया उनको चूसने का लिया.

तभी मम्मी ने सामने र्हकी काछ से बुद्धा को धेक लिया और सोचने लगी – मई साँझ ही गये थी ये मुझे छोड़ने के प्लान से अंदर आया है और इसे के कारण मई गिरी थी. चलो इसे भी मज़े ले लेना दो कहा उसे ये सब बार बार देखने को मिलेगा.

और फिर मम्मी सामने के साइड मूड गये जहा बुद्धा धेक रहा था. तो बुद्धा भी साँझ गया के एसका भी चुदाई का मान है. फिर बुद्धा जलदे से सोफा पे आ कर भेट गया.

थोड़ी देर बाद मम्मी भी आ गये और फिर यूयेसेस बुद्धा ने मम्मी को अपने पास भेट्ने को बोला. मम्मी फिर उसके पास भेट गये. बुद्धा ने मम्मी से उनका नाम फुचा और पापा का और घर मे कों कों है ये सब बाते करते करते उसने अपना हाथ मम्मी के जाँघ पर र्हक दिया और ढेरे ढेरे सहलने लगा.

मम्मी ने उससे कुछ नही बोला फिर बुद्धा के हिम्मत बाद गयी. और उसने अपना हाथ मम्मी के छूट पर रहक दिया सारी के ुआप्र से हे. मम्मी सब नोटीस कर रही थी लेकिन कुछ बोल नही रही थी. क्यूके उसे भी मज़ा आ रहा था, वो फेले बार किसे बुद्धा से चूड़ेगी ये सोच सोच कर गरम हो रही थी.

बुद्धा ने मम्मी के छूट सारी के उपर से हे मसलना चलो कर दी थी. फिर बुद्धा से रुका नही गया और उसने मम्मी को एकदम से किस करना चालू कर दिया. मम्मी भी उसका पूरा साथ दे रही थी.

फिर मम्मी ने बोला दरवाजा तो लगाने दो. जब मम्मी दरवाजा लगाने गये बुद्धा ने टवल फेक के मम्मी को दरवाजे से चिपका के मम्मी के एक तंग को हाथ मे ले के किस करने लगा.

2 मीं बाद उसने मम्मी को उठा लिया और बेड पर ले जा कर रख दिया. और अपने शर्ट उतार दी और अंडरवेर भी. फिर उसने मम्मी के सारी उची करके मम्मी सेक्सी ब्लॅक पनटी के उपर से छूट चाटने लगा.

मम्मी शिसकारिया भरने लगी आ आहह चातू और छातो..

फिर मम्मी ने अपना ब्लाउस खोल दिया और बुद्धा का हाथ पकड़ के अपने बूब्स दबाने लगे. बुद्धा छूट चाटने के साथ साथ बूब्स दबा रहा था. फिर बुद्धा उठा और उसने ढेरे ढेरे मम्मी की सारी उतरना चालू कर दी. और बोला टुजे तो मई आज इतना चूड़ोगा जितना तो अपने पति से कभी नही चूड़ी होगी.

और कहानिया   रानी की असली कहानी भाग 2

मम्मी बोले अक्चा देखते है.

उसने सारी के बाद पाठीकोत और पनटी भी उतार दे और फिर छूट चाटना चलो कर दिया. और बोला इतनी बढ़िया छूट मायने ज़िंदगी मे नही छाती. इसका सवद ला जवाब है.

बोलते बोलते मम्मी का जोश और बढ़ गया और वो बुद्धा को उपर खिकके किस करने लगे 1 मीं. बाद मे बुद्धा मम्मी के बूब्स चूसना चलो कर दिया.

10 मीं तक चूसने क बाद वो बोला टायर हो जेया मेरी रानी.

मम्मी बोले कब से टायर हू मेरे राजा.

उसने मम्मी की छूट पे अपना लंड फेरना चालू कर दिया. जिससे मम्मी का और जोश चाड़ने लगा. वो 5 मीं तक फेरता रहा और मम्मी जोश जोश मे छीलने लगे : छोड़ो मुझे छोड़ो…

फिर बुड्ढे ने अपना पूरा लंड मम्मी के छूट मे डालके छोड़ना चालू कर दिया. वो मम्मी के साइड मे लेटके कमर पकड़ के 15 मीं तक छोड़ता रहा. फिर उसने डॉगी स्टाइल मे छोड़ना चालू कर दिया और उसके बाद उसने अपना सारा माल मम्मी के छूट मे डाल दिया. और फिर उठके अपना लंड मम्मी के मूह मे दे दिया.

5 मीं के ब्लोवजोब के बाद फिर उसने अपना सारा माल मम्मी के मूह मे छोड़ दिया. और बोला 10 मीं का रेस्ट कर लेते है 10 मीं के रेस्ट के बाद मम्मी को अपने उपर बैठा के छोड़ने लगा.

कारेब 2 घंटे की चुदाई के बाद बुद्धा शांत हो गया. और बोला अब तो जब चाहूगा तब तुझे छोड़ने आओंगा. मम्मी शॉक मे रह गये. वो सोच रही थी के सिर्फ़ एक बार का लिए ही करेगी. लेकिन वो अब फस चुकी थी.

फिर वो बुद्धा चला गया और मम्मी ने देखा उनका कला सा पड़ोसी उन्हे अजीब नज़रो से देख रहा था और फिर मम्मी ने देखा के खिड़के के पर्दे मे तोड़ा सा गॅप तो मम्मी सब साँझ गये. इसके बाद क्या हुआ वो आपको पता चलेगा नेक्स्ट पार्ट मे.