बुआ को हमारे वकील चोदा

मेरा नाम सन्नी है… . एक बार फिर, मेी अपनी लाइफ की एक और सेक्सी साची घटना आप सभी के सामने लेकर आया हू और मेी उमीद करता हू की मेरी पिछली कहानी की तरह यह भी आप सभी को बहुत पसंद आएगी. आब आपको पिछली स्टोरी मेी बताया था.. की मैने कैसे अपनी बुआ को पाटकर छोड़ा था. उनका घर मेरे घर से केवल 1 काइलामीटर की दौरी पर है और मेरा हमेशा हे वाहा पर आना-जाना लगा रहता था और जब से मैने उन्हे छोड़ा है. तब से तो वाहा पर जाने का ख़ास मकसद भी मिल गया है हम लोग यानी की मेी और बुआ जब भी मौका मिलता सेक्स किया करते और आब उन्हे भी सेक्स करने मेी बहुत माज़ा आता है और हम लोग नयी नयी पोज़िशन ट्राइ करते है. कभी बातरूम मेी नहाते वक़्त चुदाई तो कभी किचन मेी खड़े खड़े सेक्स करते है.

जिन्होने मेरी पुरानी स्टोरी नही पढ़ी मेी उन्हे बता डू की मेी मार्च 2012 मेी 21 साल का हो गया हू मेरी ठीक तक बॉडी है और कलर बहुत सॉफ है और मेरी बुआ 40 साल की है उनका फिगर 32-30-36 है. फिर एक दिन, मेी बुआ के घर यह सोच कर गया की मेी आज तो बुआ को बहुत छोड़ूँगा और उन्होने उनके घर की दूसरी चाबी मुझे दे रखी थी. मैने यूयेसेस-से घर का गाते खोला और सिद्धा अंदर चला गया और मैने सोचा की आज चुपके से जाकर उन्हे पीछे से पकड़ लूँगा और चकित कर दूँगा… लेकिन घर मेी घस्ते हे मेी चकित हो गया क्यूंकी मुझे बुआ के बेडरूम से कुछ आवाज़े आ रही थी और वोवाज़े चुदाई के समय आती है. मेी जल्दी से उनके बेडरूम की तरफ गया और देखा तो गाते अंदर से बंद था और मुझे अंदर से एआई आवाज़े सुनाई दे रही थी की जैसे कोई किस कर रहा हो.

फिर मैने इधर-उधर देखा… लेकिन मुझे कुछ नही सूझा की मेी कहा से देखु की अंदर क्या हो रहा है? फिर मुझे याद आया की रक्षित और बुआ का कर्मा जुड़ा हुआ है और उसके रूम और बुआ के रूम मेी दोनो के कमरो की एक हे खिड़की है और वो खिड़की इसलिए बनाई थी ताकि रक्षित जो की अभी केवल 11 साल का है अगर रात के समय नींद मेी उठ जाए या डार्कर रोने लगे तो बुआ फूफा जी तक आवाज़ जाए. पहले यह तरीका मुझे अजीब लगता था… लेकिन आज मुझे यह बहुत अक्चा लग रहा था.

और कहानिया   अचा काम करना चाहिए

मेी बहुत धीरे धीरे और बिना आवाज़ के दूसरे कमरे मेी गया और बड़ी सावधानी से एक कुर्सी यूयेसेस खिड़की के नीचे रखी और यूयेसेस पर चढ़ गया और फिर जो मुझे दिखा वो तो एक बहुत बड़ा झटका था… मेरी बुआ किसी आदमी को बहुत हे गरम हो कर किस कर रही थी और वो दोनो बेड पर नंगे पड़े थे. यूयेसेस आदमी की पीठ मेरी तरफ थी तो मुझे पता नही चल पा रहा था की वो कौन है? और फिर मुझे इश्स बात का बहुत दुख भी था की शायद मेरा आब यहा पर चुदाई का काम ख़तम हो गया.. लेकिन आब उनकी किस्सिंग देख कर और कामुक आवाज़े सुनकर मेरा लंड तो कहा हो गया था और मेी लोवर्स के उपर से अपना लंड मसालने लगा. फिर थोड़ी देर के बाद उनकी किस टूटी और फिर यूयेसेस आदमी ने बुआ से कहा की मेी तुमसे बहुत प्यार करता हू और यह बात कहकर उसने उनके कान पर हल्का सा काटा. तभी मुझे एस्सा लगा की जैसे यह आवाज़ मैने पहले कभी सुनी है… लेकिन फिर मैने ज़यादा ध्यान नही दिया.

फिर उसने बुआ को लेटया और उनके उपर आकर उनके सीधे बूब्स को अपने मूह मेी लेकर चूसने लगा और दूसरे बूब्स को अपने हाथ से दबाने लगा. बुआ के मूह से आवाज़े निकालने लगी आहह आहह उम्म्म आहह और फिर वो अपनी दोनो आँखे बंद करके माज़ा ले रही थी. तभी मुझे यूयेसेस आदमी का चेहरा दिखा और मेी यूयेसेस आदमी का चेहरा दिखा और मेी यूयेसेस आदमी को देखकर बहुत चकित रह गया क्यूंकी वो संजीव अंकल थे और वो एक शादी-शुदा आदमी है और उनकी एक 5 साल की बेटी है. फिर यह सब देख कर तो मेी पागल हे हो गया और आब तो मेरा लंड मेरे काबू से बाहर हो चला था और आब मेी चुप छाप इनकी चुदाई का शो माज़े से देख रहा था और खुद हे अपने लंड को शांत कर रहा था.

वो बुआ के बूब्स चूस रहा था और कभी कभी बुआ के बूब्स को दांतो से काट भी रहा था और बुआ तब एक दूं ए चीख पड़ती और फिर 10-15 मिनिट एस हे बुआ के बूब्स चूसने और काटने के बाद उन्होने फिर एक ज़ोरदार लीप किस किया और फिर उसने बुआ को अपना लंड चूसने को कहा… लेकिन बुआ ने सॉफ माना कर दिया.

और कहानिया   अपनी बीवी की बहन के सात अफेयर

वकील अंकल: चलो आब आप मेरा लंड भले हे ना चूसे.. लेकिन मेी तो आपकी छूट चाट सकता हू की उस्मआ भी कोई दिक्कत है? बुआ ने कुछ नही कहा बस शरारत भारी स्माइल पास की और उसके सिर को पकड़कर नीचे करने लगी. फिर अंकल ने बुआ के दोनो पाएरो को फैलाया और उसको चाटने लगा जैसे एक कुत्ता हड्डी को छत-ता है और बुआ आब ज़ोर ज़ोर से मोनिंग कर रही थी आहह उउउ हह… और ज़ोर ज़ोर से अपनी गंद उपर नीचे करके छूट चटवा रही थी. फिर अंकल ने बुआ की छूट तब तक छाती जब तो वो क बार झाड़ नही गयी और फिर उन्होने बुआ की छूट का सारा पानी पी लिया और उन्हे देख कर मेी बहुत गरम हो रहा था. फिर वो बुआ के उपर आ गये और किस करने लगे.

वकील अंकल: क्या तुम तैयार हो अपनी चुदाई के लिए?

बुआ: हा मेी तैयार हू.. लेकिन तुम पहले कॉंडम तो पहन लो.

वकील अंकल: क्यू आप अभी भी हमरीइसस चुदाई से प्रेग्नेंट हो सकती है क्या?

बुआ: नही.. लेकिन मेी बिना कॉंडम के तुम्हे अपनी चुदाई करने के लिए हा नही कहोँगी जयो और मेरी अलमारी से कॉंडम निकल लो.

वकील अंकल उठे और अलमारी से कॉंडम निकालने लगे.. मेी बुआ को देखे जर आहा था तभी पता नही कैसे बुआ की नज़र मुझ पर पद गयी और वो चकित हो गयी.. लेकिन उन्होने कुछ नही बोला और एक शरारती स्माइल पास की. फिर अंकल ने अलमारी से कॉंडम निकाला और उसे अपने खड़े 7 इंच के लंड पर चढ़ा लिया… फिर वो बुआ के पास आया और उनके उपर आकर किस करने लगे. उन्होने अपने हाथो से लंड को बुआ की छूट पर सेट किया और एक ज़ोरदार्धक्का लगाया… बस की चीख निकल गयी आह.. अफ.. मा.. मेी मारी प्लीज़ तोड़ा आराम से करो कही भाग नही रही हू… आ और वो बड़ी लुंबी लुंबी सिसकिया लेने लगी.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares