बॉस को मिला बेहेन का चुत

वो बोले- क्या मेरा एक और दोस्त आ सकता है पार्टी में?
मैं बोली- तो क्या वो भी सेक्स करेंगे?
वो बोले- अगर तुम लोग उसको पसंद करोगे तो ठीक है. नहीं तो वो खा पी के चला जायेगा.
मैं बोली- ठीक है!
और दूसरे दिन शाम को मिलना तय हुआ.

हम दोनों ने घर में बताया कि फ्रेंड के यहाँ जाना है हो सकता है कि रात में वही रुक जायें.
माँ ने उतना ध्यान नहीं दिया और हां कह दी.

हम दोनों तैयार होने लगी. हम दोनों ने साड़ी पहनी. मैं गुलाबी साड़ी में थी और सोनम लाल साड़ी में! उसका ब्लाऊज काफी गहरे गले का था, उसकी दूध की लाइन साफ़ साफ़ दिख रही थी.
मैं बोली- अरे आज तो बॉस तुझे खा जायेगा ऐसे देखा तो!

उसके बाद मैंने ठीक 4 बजे बॉस को फ़ोन किया और उन्होंने मुझे बस स्टॉप में मिलने को बोला.
हम दोनों ने बस स्टॉप पहुंच कर देखा तो उनकी कार वहीं थी. हम दोनों बहनें बॉस की कार में बैठ गयी.

हम तीनों कुछ देर में फार्म हाउस पहुंच गए. उनके नौकर किशोर ने दरवाजा खोला और हम अंदर चले गए.
किशोर मुझे देख कर मुस्कुरा रहा था. मैंने उसको आँख मार के शान्त रहने को कहा.

हम तीनों पहले वाले रूम में बैठ गए.

फिर कुछ देर बाद दरवाजे में आवाज हुई. सर उठे और दरवाजा खोला. एक मोटा सा लंम्बा सा आदमी अंदर आया.
बॉस बोले- दोस्तो, ये है मेरे बहुत खास दोस्त अमित! एक बहुत बड़ी कंपनी के मालिक हैं.

कुछ देर में किशोर ने खाने पीने का इंतजाम किया और फिर वो अपने रूम में चला गया. वो तो जानता ही था कि यहाँ क्या होने वाला है.

मेरे बॉस ने वाइन बनानी शुरु की और सबको दी. हम तीनों ने वाइन पी मगर सोनम कुछ हिचकिचा रही थी.
फिर मैंने आगे बढ़ के उसको पूरा ग्लास पिला दिया.
उसके बाद एक और ग्लास हम सबने पिया.

और कहानिया   बेहेन की सेक्सी सहेली बन गयी मेरी रंडी

अब तो हम सबको कुछ कुछ नशा होने लगा.

हम दोनों अलग सोफे पे बैठे थे मगर वो दोनों बस सोनम को ही देखे जा रहे थे क्योंकि वो दिख भी रही थी बहुत सेक्सी!
और उसके ब्लाउज के अंदर से झाँकते हुए उसके गोरे गोरे दूध उन दोनों पे कहर ढा रहे थे.

आप लोगों को सच बताऊँ तो उसके सामने मैं कुछ भी नहीं हूँ. उसका जिस्म मस्त भरा हुआ है और वो पहाड़ी इलाके की मतलब बर्फीले इलाके की है तो वो इतनी गोरी थी कि लाल दिखती है. उसको देख कर वो दोनों तो बस अपनी लार टपका रहे थे.

3 गिलास वाइन पीने के बाद हम चारों लोग मस्त हो गए थे.
तभी बॉस के दोस्त ने कहा- क्या यार, पार्टी में बुलाया और कुछ गाना नहीं है.
तो बॉस उठे और होम थिएटर में मस्त तेज़ संगीत लगा दिया और हम सबको डांस करने के लिए कहा.

हम चारों लोग वहीं हाल में डांस करने लगे.
पहले बॉस मेरे साथ डांस कर रहे थे, उन्होंने मुझे कस के अपनी बांहों में लपेट कर मेरे कान में कहा- यार, तेरी बहन तो कसम से पटाका है. क्या ये चुदाई के लिए तैयार होगी?
मैं बोली- क्यों नहीं … हम दोनों आज मस्ती करने ही तो आई हैं. उसको मैंने सब बता दिया है.

वो बोले- एक बात बोलूँ अगर तुम बुरा न मानो तो?
मैं बोली- क्यों नहीं, आप बोलिये.
वो बोले- क्या तुम आज रात मेरे दोस्त से चुदवा लोगी क्योंकि आज मैं तुम्हारी बहन को चोदना चाहता हूँ.
मैं बोली- क्यों नहीं, अगर आपको अच्छा लगता है तो मुझे कोई प्रोब्लम नहीं!

बॉस खुश हो गए और मेरे होंठों पे एक चुम्मा किया और कहा- तुम कितनी अच्छी हो यार!
सब लोगों को बॉस ने वहीं रोका और सबके लिए एक एक गिलास वाइन और बनाई और अब इस बार बॉस सोनम के पास चले गए, अपने हाथ से उसको वाइन पिलाने लगे और उनका दोस्त मेरे पास आ गया और मुझे वाइन पिलाने लगा.

और कहानिया   गैर मर्द से मस्सगे और चुदाई

हम दोनों बहनें अब कण्ट्रोल में नहीं थी लेकिन मेरी निगाह बस सोनम और बॉस पर थी.

बॉस सोनम की गोरी गोरी कमर को हाथ से सहला रहे थे और दोनों एक दूसरे की आँखों में देखे जा रहे थे और मस्ती में झूम रहे थे.

इधर उनके दोस्त भी मुझे अपनी बांहों में पा कर कण्ट्रोल नहीं कर पा रहे थे, उनका मुसल जैसा लंड पैंट को फाड़कर बाहर आने को हो रहा था. मेरा पूरा ध्यान उन दोनों लोगों की तरफ था और मुझे पता भी नहीं लगा कि उसने मेरी साड़ी उठा ली है और मेरी चड्डी में हाथ डाल दिया है. और मेरी गांड दबा रहे हैं.

अचानक वो बोले- उधर क्या देख रही हो जानेमन? आज तो तेरा राजा मैं हूँ. बोल चुदाई करेगी ना मेरे साथ?
मैं भी मस्ती में बोली- क्यों नहीं … आज जितना मन है, चोद लो.

मेरी नजर फिर से सोनम पे गई और उधर बॉस सोनम को किस करने लगे थे और उसके होंठों को मलाई जैसे चूम रहे थे.

डांस करते करते हम सब ही थक चुके थे और हम सब अब सोफे में बैठ गए. बॉस ने सोनम को तुरंत अपने से चिपका लिया और उसे किस करने लगे. उनके दोस्त ने मेरा पल्लू गिरा कर ब्लाउज का हुक खोल दिया और ब्रा के ऊपर से दूध को चूमने लगा.

उधर बॉस ने सोनम को किस करते हुए उसकी साड़ी को जांघ तक उठा दी थी और उसकी मांसल गोरी गोरी जांघों को सहला रहे थे.

इधर मेरा ब्लाउज और ब्रा भी उतर चुकी थी और वो मेरे दोनों स्तनों पे टूट चुका था. मेरी तो जोर जोर से सिसकारी निकल रही थी पर मेरा पूरा ध्यान उन दोनों पे था.

Pages: 1 2 3