बीवी को चोदने के चक्कर में बहन को चोद दिया

Sister Sex Story, Biwi ko Chodne ke Chakkar me Bahan ko Choda Sex Story : आज मैं आपको एक ऐसी कहानी बताने जा रहा हूं जो बड़ा ही हॉट और सेक्सी है। यह मेरी पहली सेक्स कहानी है नॉनवेज story.com पर। मैं इस वेबसाइट पर रोजाना कर कहानियां पड़ता है इसलिए मैं आपके लिए भी आगे कहां से लेकर आया हूँ। बीवी को चोदने के चक्कर में मैंने अपनी बहन को चोद दिया कि मेरी सच्ची कहानी है। आज मैं वह सब बताऊंगा इस कहानी के माध्यम से यह सब कैसे हुआ क्यों हुआ और फिर बाद में क्या हुआ।

मेरी शादी हुए मात्र 6 महीने हुए हैं। और मेरी शादी के 2 महीने पहले ही बहन की शादी हुई थी। मेहमान सऊदी अरब में रहते हैं। और मेरी बहन अकेले ही अपने ससुराल में रहती हैं। शादी के 1 महीने बाद ही मेरी बहन का हसबैंड सऊदी अरब चला गया। तुम मेरी बहन 6 महीने से ससुराल में अकेली थी इस वजह से वह अपने घर आ गई है। मम्मी पापा मेहमान से बात की कि मेहमान जी जवाब नहीं है वहां पर तो कविता को मैं यही ले आता हूं आप 4 महीने बाद आएंगे तो फिर आप ले जाएंगे थोड़ा सा इसको अकेलापन वहां पर महसूस हो रहा है अगर आप वहां पर रहते तो कोई दिक्कत नहीं होती , मेहमान जी 20 के लिए राजी हो गए और उन्होंने कह दिया कि ठीक है आप ले जाएंगे जब मैं आऊंगा तो उसको मैं ले आऊंगा।

तो मेरी बहन आ गई मेरे घर में मैं मेरी पत्नी मेरी मम्मी और पापा। मेरी बहन बहुत प्यारी है सबकी दुलारी है सब लोग बहुत प्यार करते हैं। आप तो खुद को कभी डांट नहीं पड़ा है घर में, शादी के बाद उसकी इज्जत और भी बढ़ गई है। जो मन करता है वह करते हैं जो मांगती है वह उसे मिल जाता है। जब वह घर आए तो वह मेरे कमरे में ही आ गई वह अपना बैग वगैरह रखें और मेरे पलंग पर ही आराम करने लगे। मुझे लगा कि यह सब नॉर्मल है शाम को भी चली जाएगी दूसरे कमरे में। ना उसको मम्मी पापा कुछ बोले ना उसको मेरी बीवी रश्मि।

मुझे लगा आज आई है इस वजह से मेरे बेड पर ही सोने का मन कर रहा है तो मैं भी रात में दूसरे कमरे में आ गया। नॉनवेज story.com कहानियां पढ़ा और मुट्ठ मार कर सो गया। दूसरे दिन वह फिर नहीं गई,  मैंने रश्मि को बुलाकर बाहर पूछा कि रश्मि क्या आज भी दीदी  अपने कमरे में ही सोएगी क्या?   रश्मि बोलिए बात मैं कैसे पूछूं उससे  तुम्ही पूछ लो।  यार सारे काम खराब हो गया,  मैं तो पूछने से रहा पर शायद आज भी लगता नहीं सोए भी तो कि रात के 10:00 बज गए।  दूसरे दिन भी हम वैसे ही हुआ अपने दूसरे कमरे में जाकर सो गया मूवी देखा कहानियां पढ़े और फिर अपना माल गिरा कर सो गया।

तीसरे दिन की बात है मेरा दिमाग खराब होने लगा था क्योंकि आज नई नवेली किसी के घर में बीवी हो और उसको चोदने के लिए ना मिले तो बेकार है कुछ ना कुछ तो तरीका निकालना ही पड़ेगा।  मैंने रश्मि को बोला कि देख रोज-रोज  मैं तुमको बहुत मिस कर रहा हूं पूरी रात जगा रहता हूं और हिला हिला कर काम चला रहा हूं।  रश्मि बोली क्यों बड़ी गर्मी हो रही है।  जब मैं कहती हूं मुझे चोद दो तो कहते हो कि रात को अभी पापा है।  देखा जब तुम्हारी बारी आई तो कैसे परेशान हो रहे हो अंदर की गर्मी जाग रही है।  मैंने कहा ठीक है यार लेकिन एक बात करना जब वह बाथरूम जाएगी तुम्हें फटाफट तुम्हें 5 मिनट में चोद लूंगा खड़े खड़े।

और कहानिया   मां और बेटी दोनों का सुहागरात एक ही दिन

मैंने वही किया जब मेरी बहन बाथरूम गयी तो मेरी बीवी रश्मि उस समय किचन में खाना बना रही थी मैं भाग कर गया और साडी को पीछे से उठाकर पेंटी खोला और उसको थोड़ा झुका कर लंड को गांड के बिच से लगाकर चूत के छेद पर ले गया और जोर जोर से घुसाने लगा। आगे उसकी चूचियों को मसलते हुए मैं जोर जोर से चोदने लगा। करीब पांच मीनट ही चोद पाया की बाथरूम की छिटकिनी खुलने की आवाज आई और तुरंत ही अपना लंड बाहर कर लंड को ट्रैकसूट के अंदर कर के किचेन से बाहर आ गया।

दूसरे कमरे में जाकर दरवाजा बाद किया और मूठ मारकर सारा माल बाहर गिरा दिया। थोड़े देर में ही रश्मि आ गयी मेरे कमरे में और बोली क्या हुआ राजा और वो आँखे का इशारा करने लगी। मैंने कहा यार तुम दिमाग ख़राब मत करो। और वो हस्ते हुए वहां से चली। गयी। जब वो फिर छत पर कपडा उठाने गयी ऊपर तो मैं भी उसके पीछे पीछे आ गया और बोला यार रश्मि जी तो करता है सब के सामनेही तुम्हें चोददूँ। आज रात को प्लीज यार जरूर देना मेरा लंड आजकल हमेशा ही खड़ा रहता है। तो रश्मि बोली फिर आ जाना कमरे में आज रात।

जब तेरी बहन सो जायगी तुम तुरंत ही मुझे चोद लेना। मैंने कहा हां यार ये तो सही है। फिर कैसे पता चलेगा कमरे में तो अँधेरा रहेगा। तुम किधर सोयेगी उसे कहा मैं आगे सोऊंगी। मैंने कहा ठीक है फिर तुम पेंटी पहनकर नहीं सोना मैं नाईटी ऊपर कर के तुरंत ही चोद कर जल्दी कमरे से निकल जाऊंगा। बाहर भी चोद देता पर मम्मी बरामदे पर और पापा छत पर तो कोई और जगह नहीं है। और तुम भी दूसरे कमरे में आने को मना कर रही थी।

रश्मि कह रही थी मैं नहीं जाउंगी दूसरे कमरे में लोग कहेंगे बहोत चुदाई का मन कर रहा है इस औरत को। तो कोई बात नहीं आज काम चला लेना फिर एक दो दिन में वो खुद ही दूसरे कमरे में चली जाएगी अभी नई नई आई है इसलिए वो यहाँ सो रही है। अब बात होगी थी मैं आज उसकी के कमरे में अपनी बीवी को चोदने वाला था। रात को करीब 1:00 बज गया था। मैं एक पुलिस मूवी देख कर रश्मि के कमरे के दरवाजे को होली से खोला। और फिर कमरे का दरवाजा बंद कर के अंदर चला गया।

अंदर कुछ भी नहीं दिखाई दे रहा था मैं मोबाइल फोन भी नहीं ले गया था ताकि मैं थोड़ा सा लाइट जला कर देख लो। पर मुझे यह याद था कि रश्मि बोली थी कि मैं आगे सोऊंगी। मैं रश्मि पर हाथ रखा तो उसके चूतड़ पर हाथ मेरा पड़ा। जैसे ही हाथ करा वह सीधी हो गई। मैं समझ गया कि रश्मि है उसको भी पता है कि मैं आ गया। मैंने उसके नाइटी के दोनों को हुक खोला और ब्रा के ऊपर से ही चूचियों को दबाने लगा। फिर मैंने नाईटी को ऊपर कर दिया और चेक किया तो पेंटी नहीं पहनी थी। मैंने दोनों टांगो को अलग अलग किया। बिच में बैठकर लंड निकालकर चूत के छेद पर लंड लगाकर अंदर जोर से घुसा दिया। फटाफट चुदाई करते हुए तुरंत अपने लंड को जोर-जोर से घुस आया और अपना सारा माल उसके चूत के अंदर डाल दिया। और वापस दरवाजा लगाकर अपने कमरे में आकर आराम से सो गया।

और कहानिया   बुवा ने दिया सर्दी में गर्मी का एहसास

आज मुझे थोड़ा चैन मिला था क्योंकि तीन-चार दिन से मूठ मार कर ही काम चला रहा था। सुबह में घूमने चला गया था वापस में 8:00 बजे आया रात को आए नहीं आप। मैंने कहा आया तो था वह बोली नहीं तो आप शायद सपना देख लिए हो आप नहीं आए थे। मैं हैरान रह गया क्या मैं सच में तो सपना नहीं देखा। अब मैं सोचने लगा मैं तो गया था सपना तो नहीं था यह सच है। कहीं गलती से मैंने अपनी बहन को चोद दिया क्या। रश्मि बोली तुम सठिया गए हो। तुम सपने में ही मुझे चोदे हो। और इतना कहकर वो नहाने चली गयी। मैं सोच रहा था की मैंने तो चोदा था रश्मि को। तभी मेरी बहन आ गयी और वहां आकर बोली। क्यों जी रात को चुपके से मुझे प्यार कर के वापस चले गए?

मैंने कहा क्या तुम थे ? तो वो बोली तो क्या पर बहुत मजा आया। अरे यार मेरे से गलती हो गयी। तो मेरी बहन बोली पर मेरे से कोई गलती नहीं हुई मुझे तो पता था तुम हो पर ये भी पता है तुम मुझे प्यार करते हो और ये तो तुम चाहते हि थे मेरे से पर मेरी शादी हो गयी और तुम हाथ मलते रह गए। ओह्ह्ह्हह्ह्ह्ह मैं कभी ऐसा नहीं सोचा था अपनी बहन के लिए पर मेरी बहन को मेरे से चुदने का मन था ये बात तो आज पता चल गया। मेरी बहन बोली आज रात तुम वही सोना मैं आ जाऊंगीं।

रश्मि बोली आज मेरा पीरियड आ गया है इसलिए आज तुम मेरे कमरे में मत आना। अब पांच दिन तुम वेट करो। मैंने सोचा चलो सही हुआ बहन तो आज खुद मेरे से चुदने आ रही है। रात को जब रश्मि सो गयी तब मेरी बहन मेरे कमरे में आ गई और फिर मैंने दरवाजा लगा कर उसको नंगा किया और फिर खूब चुदाई की।

उसकी बड़ी बड़ी गोल गोल चूचियां और गांड और छुट को सुबह चार बजे तक पेला। खूब चोदा, उस दिन के बाद से मेरी बहन रश्मि के सात ना सोकर वो दूसरे कमरे में सो रही है और मैं रश्मि के साथ। पर आधी रात को रश्मि को चोदने के बाद मैं अपनी बहन के कमरे में चला जाता हूँ फिर उसको भी चोदता हूँ। मेरी बहन बहुत खुश है इस चुदाई से।

Leave a Reply

Your email address will not be published.