16 साल की कच्ची चूत मे डाला लॅंड

जब वो बेड पर लेट गयी तो मैने उसकी टाँगो को खोला और उसकी सुंदर छूट को निहारने लगा. फिर मैने निच्चे झुकक कर उसकी छूट के मुँह को खोल कर किस किया तो वो तड़प उठी. तब मैं छूट को ज़ोर ज़ोर के चाटने लगा. छाते हुए मैं कभिए कभिए अपनी जीभ को उसकी छूट क्जे अंदर कर देता जिससे से वा तड़प उठती. त्याब थोड़ी देर बाद उसकी छूट से जुवैसी मेटीरियल बहने लगा चखने में वा नमकीन था. तब मैने उठ कर उसको चूमा और कहा की अब मैं अपना लंड तुमाहरी छूट में डालने लगा हूँ इससे तुम्हे तोड़ा दर्द होगा पर तुम घबराना नही. मैने इतना कह कर अपने लंड के सिर को उसकी छूट पर रगड़ने लगा मेरा ऐसा करने पर वा सीसीईयने लगगी. तब मैने तोड़ा सा थूक अपने लंड पर और तोड़ा सा उसकी छूट पर लगाया. और मैने अपने लंड का सिर उसकी छूट के मुँह पर रख दिया. उसकी छूट का मुँह बहुत टाइट था क्योंकि की वा कुँवारी थी. इस लिए मैने खा की तुम अपने हथीन से छूट का मुँह तोड़ा सा खोलो. मेरा ऐसा कहने पर उसने अपनी छूट का मुँह खोला और मैने अपने लंड का सिर उसकी छूट में घुस्सा दिया वो चीखी और कहने लगगी की इसे बाहर निकालो बहुत दर्द हो रहा है. तब मैने झुकक कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिया और किस करने लगा. वो अपना मुँह खोल के मुझसे लिपट गयी और किस करने लगगी. अमाइन उससे कस्स के पकड़ लिया. जब वा थोड़ी शांत हुई तो मैने कहा की अब कैसा लग रहा है तो उसने कहा उसकी छूट में दर्द और जलन हो रही है. तब मैने कहा की थोड़ी देर में तुम्हे मज़्ज़ा आने लगेगा पर तुम छीलना मत और उसने हन में सिर हिल्ला दिया. अब अमीन आहिस्ता आहिस्ता झटके मरने लगा उसे तोड़ा मज़्ज़ा आने लगा तो मैने एक ज़ोर का झता मारा जिससे मेरा लंड 2 इंच और उसकी छूट में घुस्स गया वो फिर दर्द तड़प उठी मैने कुछ ना सुनते हुए झटके मरने लगा एक और झटके के साथ मेरा लंड 5 इंच तक उसकी छूट में चला गया. अब तो वा दर्द से बुरी तरह कराह रही थी और उसकी आँखों में आँसू भी आगाय थे पर अभी तक मेरा लंड सीतरफ़ 5 इंच ही घुस्सा था और 4 इंच बाहर था. मैं फिर झटक मरने लगा और 2-4 ज़ोर के झटको के बाद मेरा पूरा 9 इंच का लंड उसकी छूट के अंदर था. वा बुरी तरह से कंम्प रही थी और पसीने से नहा गयी थी. मैने थोड़ी देर तक लंड उसकी छूट के अंदर ही रखा और आहिस्ता-2 झटके मारने लगा. जब वा थोड़ी शांत हो गयी तो मैने लंड बाहर निकाल लिया जिससे उसे थोड़ी रहट हुई मैने देरी ना करते हुए एक बार फिर अपना लंड उसकी छूट के मुँह पे रखा और इस बार 4 झटको में ही मैने पूरा लंड उसकी छूट में घुस्सा दिया. मैने ऐसा 3-4 बार किया तो वा झड्द गयी. झाड्ड़ने के बाद उसकी छूट एक दूं गीली हो गयी थी और मुझे लंड अंदर बाहर करने में झाड़ा मुश्किल नही हो रही थी. मैं अब उसे आराम से छोड़ रहा था और वो भी चुदाई का मज़्ज़ा ले रही थी. वो भी अपनी कम्र को हिल्ला कर मेरा साथ देने लग गयी मैने उसे पूछा की अब कैसा लाग्ग रहा है तो उसने शर्मा कर कहा की मुझे बहुत मज़्ज़ा आ रहा है. लगभग 25-30 मीं की चुदाई के बाद जब मुझे लग्गा की मैं झड़ने वाला हूँ तो मैने अपना लंड उसकी छूट में से निकाल कर सारा वीर्या उसके पेट पर गिररा दिया. हम दोनो बूरी तरह से हाँफ रहे थे. 2 मीं रुक कर मैं उठा ट्विंकल को सॉफ करने के लिए कपड़ा लेने गया. जब मैं कपड़ा लेकर आया तो छूट को सॉफ करने के लिए जब मैने उसकी टाँगो खोला तो देखा की उसकी सुंदर सी गुलाबी छूट खून से लाल हुई पड़ी है. मैने उसे कुछ नही कहा और कपड़े से उसकी छूट से खून को और पेट से अपने वीरज़ा को सॉफ किया. मैने जब उसकी तरफ देखा तो वा मुस्कराई और मुझे किस करने के लिए कहा मैने उससे 25-30 सेकेंड्स के लिए किस किया और कहा की अब वा अपने कपड़े पहन ले उसने कहा की नही की प्लीज़ मुझसे एक बार और करो. तब मैने उसे कहा की नही अभी नही फियर कभिए अभी तुम कपड़े पहनो और घर जायो कहीं मेरी मा आ गयी तो उसने कहा की ठीक है. उसने अपने कपड़े पहने और अपनी बुक लेकर घर चली गयी. मैं उस दिन बहुत खुश था क्योंकि मैने जिंदगी में पहली बार क़िस्सी कुँवारी लड़की को छोड़ा था. उस दिन से लेकर आज तक मैं उससे काई बार आयेज-पिच्चे से छोड़ चक्का हूँ अब तो वा लंड चूसना भी सिख गयी है और मेरा पूवरे का पूरा लंड अपने मुँह में ले लेती है.

और कहानिया   मेरी पहली चुदाई ज़बरदस्त थी

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *