मेरी चुदसी बीवी ने पाँच लंड एक साथ लिए

जो बात मैं आप लोगो को बताने जा रहा हूँ वो सिर्फ़ इतनी है कि उसके होने के बाद मेरी सेक्स लाइफ थोडी बदल गई है। मेरा नाम मनु है और मैं दिल्ली में रहता हूँ। मेरी शादी को 6 साल हो चुके है और मेरा एक 5 साल का बच्चा भी है! मेरी बीवी का नाम सोनू है और वो भी आज 25 साल की एक खूबसूरत युवती बन चुकी है।

हम दोनों ने अपनी मर्ज़ी से शादी की है और आज हम दोनों बहुत ही खुश हैं!

हम दोनों हमेशा से ही कुछ नया करने की सोचते रहते हैं चाहे वो सामाजिक जीवन में हो या फिर यौन जीवन में!

एक बार हम दोनों हिमाचल घूमने गए हुए थे। वहा पर न जाने क्या हुआ, सोनू ने सोचा कि क्यों न आज खुले आसमान के नीचे ही सेक्स किया जाए। तब हम दोनों ने वही किसी पहाड़ी पर झाड़ी के पीछे डरते डरते सेक्स के खूब मज़े लिए वो भी बिल्कुल नंगे होकर!
फिर वहीं कहीं नदी के किनारे में सोनू ने बिल्कुल नंगी होकर अपनी नहाते हुए फोटो भी खिंचवाई। वो फोटो आज भी देखता हूँ तो उतेजित हो जाता हूँ। तब हमें ये डर नहीं लगता कि कोई हमें देख लेगा तो क्या होगा!

कई बार तो हमने अपनी बालकनी में भी सेक्स किया है बिल्कुल खुले में। एक बार हमें पड़ोस वाली भाभी ने देख लिया था! उसने सोनू से कहा भी था पर सोनू ने कहा के हमें इस में ही मजा आता है!

एक बार रात को मैं सोनू की मस्त चुदाई कर रहा था। उस रात मैंने एक दो पैग लगा लिए थे इस लिए मुझे कुछ सरूर ज्यादा था, सोनू को भी मैंने एक पैग दिया था इस लिए वो भी आज कुछ ज्यादा ही मज़े दे रही थी। वैसे सोनू पीती नहीं है पर मेरे साथ कभी कभी चल जाता है।

और कहानिया   शराबी पति को सुलाकर मैं भैया से चुदवाती हूँ।

सोनू को चोदते चोदते मैं उस से गन्दी गन्दी बातें भी कर रहा था। वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी। मैंने आज एक ब्लू फ़िल्म लगा रखी थी, उसको देखते देखते ही मैं सोनू को चोद रहा था।

जैसे जैसे फ़िल्म में हो रहा था वैसे ही सोनू और मैं कर रहे थे। सोनू कभी मेरा लंड चूसती तो कभी मैं उसकी चूत चाटता कभी मैं सोनू को घोड़ी बना कर चोदता तो कभी उसकी गांड को फाड़ता। आज पूरे मज़े ले लेकर हम चुदाई कर रहे थे।

तभी फ़िल्म में एक सीन आया उसमे एक आदमी एक लड़की को लंड चूसा रहा था और लड़की कुतिया की तरह खड़ी हो कर चूस रही थी। तभी एक दूसरा आदमी आया और उसी कुतिया के पोज़ में उसे चोदने लगा।

ये देख कर सोनू भी मेरा लंड चूसने लगी और अपनी चूत में उंगली करने लगी। बहुत देर तक करते रहने के बाद उसका हाथ थकने लगा तो उसने उंगली हटा ली!

ये देख कर मैंने कहा- क्या हुआ! अगर ज्यादा ही मन है तो किसी दूसरे लंड का इन्तजाम करूँ क्या!

सोनू भी जोश में थी और चुदाई उस वक्त उस पर हावी हो चुकी थी। उसने कहा- क्यों नहीं कब से मेरी इच्छा है दो दो लंड लेने की, पर तुम सिर्फ़ अकेले ही चोदते हो, कभी तो दूसरा लंड लेकर आओ मेरे लिए!

हम अक्सर सेक्स करते हुए ऐसी बातें करते है इसलिए मैंने दुबारा उससे पूछा- तू ही बता दे ना तुझे किसका लंड चाहिए? जिसका तुझे पसंद होगा उसका ही दिला दूंगा तुझे!’

सोनू झट से बोल पड़ी- हाँ हाँ सुनील का लंड चाहिए मुझे उसका बहुत ही मोटा और तगड़ा है।’
‘क्यों नहीं कल ही ले, तुझे सुनील के लंड से चुदवाता हूँ, वो ही कल तेरी चूत की चटनी बनाएगा।’
‘पक्का ना?’

‘पक्का! पर एक शर्त है मेरे सामने चुदना होगा मैं यहाँ चुपचाप देखूंगा।’
‘पर अगर तुम देखोगे तो मुझे दूसरा लंड कहा से मिलेगा?’
‘तो क्या हुआ एक और मर्द बता दे जिससे चुदने की इच्छा है।’
‘हाँ हाँ दीपक का भी लंड बहुत मोटा है।’

और कहानिया   दोस्तों के बीच सिस्टर्स का एक्सचेंज भाग 1

हम दोनों ऐसे ही बात करते जा रहे थे, तभी मैं झड़ गया तो मैंने अपना लंड हटा लिया और साफ़ करके सो गया।

सुबह सब कुछ सामान्य था। मैं नाश्ता करके ऑफिस चला गया।
ऑफिस में दिन में अचानक सोनू का फ़ोन आया- मनु कहाँ हो? अभी घर आ सकते हो?
मैंने पूछा- क्यों?
‘बहुत मन कर रहा है!’
‘शाम को आ कर चोदता हूँ ना’
‘नहीं अभी आओ वरना में सुनील दीपक को बुला रही हूँ!’
‘बुला लो!’
ऐसा कह कर मैंने फ़ोन रख दिया।

मैं सोचने लगा कि क्यों न इस बार ये भी करके देखा जाए, इस में बुरा ही क्या है, सुनील और दीपक मेरे दोस्त है और दोनों भी शादी शुदा है अगर दोनों उसे चोद भी देंगे तो घर की बात घर में रहेगी और वो दोनों भी अपनी बीवियों के डर से किसी को नहीं बताएँगे और मेरे और सोनू के लिए ये नया यौनानुभव होगा।

ये सोच कर मैंने सोनू को दोबारा फ़ोन किया और कहा कि आज शाम को दीपक और सुनील को घर पर दारू पार्टी के लिए बुलाओ।

‘क्यों आज सही में इरादा है क्या मुझे दो दो से चुदवाने का?’
‘हाँ, सोच तो ऐसे ही रहा हूँ!’

‘सोच लो अगर उनके लंड ने मेरी चूत की प्यास बुझा दी तो उनके लंड का स्वाद ही न लग जाए मुझे?’
‘कोई बात नहीं मेरी जान चूत की प्यास बुझाना कोई ग़लत नहीं है अगर पति न सही तो पति के दोस्त ही सही।’

तब थोड़ी देर में ही सही पर सोनू मान गई उन दोनों से एक साथ चुदने को।

Pages: 1 2 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *